Thursday, Jan 24 2019 | Time 03:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ट्रम्प ने जुआन गुआइदो को वेनेजुएला के अंतरिम राष्ट्रपति के रूप में दी मान्यता
  • सीरिया में इराकी सेना के हमले में इस्लामिक स्टेट के 43 आतंकवादी ढेर
  • रुद्रप्रयाग में बर्फबारी देखने पहुंचे कई पर्यटक फंसे
  • उत्तराखंड के गांवों में बर्फ गलाकर पानी पी रहे हैं लोग
  • जनता की सेहत के साथ हो रहा खिलवाड़ः दसौनी
दुनिया Share

सरकारी प्रसारक एनएचके ने बताया कि मंगलवार सुबह तक वर्षा जनित हादसों में कम से कम 126 लोगों की मौत हाे गई है और 63 लोग लापता बताए जा रहे हैं। श्री असो ने बताया कि सरकार ने आपदा से निपटने के लिए 70 अरब येन (लगभग 63.1 लाख डॉलर) की राशि तय की है और 350 अरब येन (3.15 अरब डॉलर) रिजर्व में रखा है। उन्हाेंने बताया कि अगर जरूरत पड़ी तो अतिरिक्त बजट पर भी विचार किया जाएगा।
मौसम विभाग मौसम की स्थिति पर लगातार नजर रखे हुए है और समय पूर्व चेतावनियां भी जारी कर रहा है लेकिन जापान में घनी आबादी के पर्वतीय क्षेत्रों में रहने के कारण वह आपदा की आशंका से घिरी रहती है। विभाग ने मंगलवार को हिरोशिमा के एक हिस्से में एक नदी के मलबे के कारण अवरूद्ध हो जाने के बाद अपने किनारों से बाहर निकलकर बहने के कारण लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने का आदेश जारी किया।
बारिश के बाद आई बाढ़ से उद्याेग जगत भी काफी प्रभावित हुआ है और हिरोशिमा शहर में माजदा मोटर कंपनी ने हेड आफिस बंद कर दिया है। इस कंपनी ने पिछले सप्ताह कईं संयंत्राें में कामकाज को रोक दिया था और आज भी दो और संयंत्रों को बंद करने की बात कही जा रही है।
गौरतलब है कि जापान में 1982 के बाद से यह सबसे बडी प्राकृतिक आपदा है जिसमें 20 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं। मुख्य कैबिनेट सचिव याेशीहिदे सुगा ने बताया कि इस अापदा के कारण श्री आबे ने बेल्जियम, फ्रांस, सऊदी अरब और मिस्र का अपना दौरा स्थगित कर दिया है।
यामिनी, नीरज
रायटर
image