Wednesday, Sep 19 2018 | Time 02:57 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अमेरिका और पोलैंड करेंगे सैन्य और खुफिया संबंधों को सुदृढ़
  • आईसीसी ने शुरू की म्यांमार से रोहिंग्याओं के पलायन की जांच
  • हांगकांग को हराने में भारत के पसीने छूटे
  • गाजा में प्रदर्शनकारियों पर गोलीबारी, दो की मौत 46 घायल
  • प्रधानमंत्री से सिक्किम दौरा स्थगित करने की मांग
दुनिया Share

धनशोधन मामले में जरदारी को राहत

इस्लामाबाद 12 जुलाई (वार्ता) पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने 35 अरब रुपये के धनशोधन घोटाले मामले में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के सह-अध्यक्ष आसिफ अली जरदारी और उनकी बहन फरयाल तालपुर को राहत देते हुए फेडरल जांच एजेंसी (एफआईए) को 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव से पहले उन्हें समन नहीं भेजने का आदेश दिया है।
जियो टीवी के मुताबिक पाकिस्तान के मुख्य न्यायाधीश साकिब निसार की अध्यक्षता वाली दो सदस्यीय पीठ ने एफआईए जांच को लेकर स्वत: नोटिस पर सुनवाई करते हुए कहा कि श्री जरदारी को आज पेश होने के लिए समन जारी नहीं किया गया है और न ही श्री जरदारी तथा उनकी बहन को एक्जिट कंट्रोल लिस्ट (ईसीएल) सूची में रखने के आदेश दिए गए हैं।
पीपीपी नेताओं ने आरोप लगाते हुए कहा कि चुनाव से पहले पार्टी को अकारण ही निशाना बनाया जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने एफआईए को चुनाव तक श्री जरदारी और उनकी बहन को समन नहीं भेजने का निर्देश दिया है।
इससे पहले बुधवार को श्री जरदारी और उनकी बहन ने कराची में एफआईए को सूचित कर कहा कि वह 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव के बाद नोटिस का जवाब देंगे।
मुख्य न्यायाधीश ने एफआईए को निर्देश देते हुए कहा कि मामले की जांच निष्पक्ष और पारदर्शी होनी चाहिए।
मामले की अगली सुनवाई छह अगस्त को होगी।
रवि.श्रवण
वार्ता
image