Thursday, Nov 15 2018 | Time 19:52 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राफेल पर फ्रांस ने नहीं दी गारंटी : राहुल
  • दक्षिण भारतीय एथलीटों का वर्चस्व कायम, जीते 23 पदक
  • बीडीओ की अनिश्चितकालीन हड़ताल 26 नवंबर से
  • रेरा में 33,750 परियोजनाओं और 26,018 एजेंटों का पंजीकरण
  • बेबी रानी मौर्य ने सद्भावना यात्रा पर आये बच्चों से मुलाकात की
  • छेत्री-मीकू की जोड़ी पर निर्भर है बेंगलुरू
  • सीट बंटवारे को लेकर शाह से मिलेंगे उपेंद्र
  • नेशनल हेराल्ड मामला :हुड्डा के खिलाफ चार्जशीट पेश कर सकती है सीबीआई
  • दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक में रात में ठंडी बढ़ी
  • चंद्र मोहन जम्मू नगर निगम के महापौर, तथा पूर्णिमा उप महापौर निर्वाचित
  • फोटो कैप्शन- दूसरा सेट
  • हथियार के साथ तीन अपराधी गिरफ्तार
  • खशोगी की हत्या के पांचों संदिग्धों के लिए फांसी की मांग
  • सभी मीडिया संस्थान बराबर, गलत रिपोर्टिंग से समझौता नहीं: प्रसाद
दुनिया Share

.

जुर्माने की रकम गूगल की पेरेंट कंपनी अल्फाबेट की दो हफ्ते के राजस्व के बराबर है। अल्फाबेट को व्यापार प्रक्रिया में बदलाव करने के लिए 90 दिनों का समय दिया गया है और ऐसा नहीं रकने पर इसके औसत दैनिक कारोबार पर पांच प्रतिशत का पेनाल्टी लगाया जाएगा। गूगल ने यूरोपीय रेग्युलेटरों के फैसले के खिलाफ अपील करने का एलान किया है।
यूरोपीय आयोग के इस फैसले से अमेरिका और यूरोप के बीच कारोबारी संबंध और अधिक तनावपूर्ण हो सकते हैं।
यूरोपीय आयोग के प्रमुख ज्यां क्लोद युंकर को जुलाई के आखिर में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मिलना है। श्री युंकर अमेरिका जाकर यूरोपीय संघ की कारों के भविष्य को सुरक्षित बनाने की कोशिश करेंगे। व्यापार घाटे का हवाला दे रहे श्री ट्रंप ने यूरोपीय संघ से अमेरिका निर्यात की जाने वाली कारों पर ज्यादा शुल्क लगाने की धमकी दी है।
सुश्री मारग्रेथ वेस्टागेर इससे पहले भी गूगल पर 2.4 अरब यूरो का जुर्माना लगा चुकी हैं। वह जुर्माना ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफॉर्मों के कीमतों की तुलना करने वाली सर्विस के चलते लगा था। गूगल ने इसके खिलाफ भी अपील की है।यूरोपीय
आयोग ने अप्रैल 2015 में एनड्रॉयड की जांच शुरू की। माइक्रोसॉफ्ट, नोकिया और ऑरेकल जैसी दिग्गज कंपनी के ट्रेड ग्रुप फेयरसर्च ने आयोग से गूगल की शिकायत की थी। शिकायत के मुताबिक गूगल एनड्रॉयड के जरिए अपने सर्च इंजन को बढ़ावा दे रहा है। उस वक्त यूरोप के 64 फीसदी स्मार्टफोन एनड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम से चल रहे थे। अब यह संख्या 74 फीसदी है।
जांच के दौरान आयोग को पता चला कि वाकई गूगल ने एनड्रॉयड के दबदबे का इस्तेमाल अपने फायदे के लिए किया। प्रतिस्पर्धी कंपनियों को एनड्रॉयड से नुकसान हुआ। आयोग ने कहा, गूगल ने एनड्रॉयड बेस्ड स्मार्टफोन और टेबलेट बनाने वाले निर्माताओं से गूगल सर्च इंजन को डिफॉल्ट पर रखने को कहा। एनड्रॉयड डिवाइसों में पहले से इंस्टॉल क्रोम ब्राउजर भी मिला।
स्मार्टफोन और टेबलेट उद्योग पर नजर रखने वाली कंपनी गार्टनर के मुताबिक दुनिया भर में 85.9 फीसदी डिवाइस एनड्रॉयड बेस्ड हैं। एप्पल के आईओएस ऑपरेटिंग सिस्टम की हिस्सेदारी करीब 14 फीसदी है। वर्ष 2017 में दुनिया भर में 1.3 अरब एनड्रॉयड स्मार्टफोनों की बिक्री हुयी।
संजय अाशा
वार्ता
More News
सिंगापुर में हुई मोदी-पुतिन की संक्षिप्त वार्ता

सिंगापुर में हुई मोदी-पुतिन की संक्षिप्त वार्ता

15 Nov 2018 | 5:43 PM

सिंगापुर 15 नवंबर (स्पूतनिक) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच गुरुवार को सिंगापुर में पूर्वी एशिया सम्मेलन के दौरान संक्षिप्त वार्ता हुई।

 Sharesee more..
image