Wednesday, Sep 26 2018 | Time 15:56 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जीएसटीएन पूरी तरह से सरकारी कंपनी होगी
  • सायना और परूपल्ली करेंगे विवाह
  • चीनी मिलाें के लिए 5538 करोड़ रुपये के पैकेज को मंजूरी
  • आधार पर न्यायालय का फैसला हमारी जीत : कांग्रेस
  • मजदूरों की मदद वाला उपकरण बनाने वाले छात्र सम्मानित
  • बंगाल में भाजपा के बंद से जनजीवन प्रभावित
  • माडल टाउन मामले में नवाज शरीफ को तलब करने की याचिका खारिज
  • अफगानिस्तान से टाई हम नहीं भूल पाएंगे: राहुल
  • हाउसिंग सोसायटी घोटाला मामले में पाकिस्तान के पूर्व मुख्य न्यायाधीश का दामाद गिरफ्तार
  • लिबर्टी ने लांच किया परफ्यूम
  • उड़ान के दौरान विमान में शिशु की मौत
  • सायना आसान जीत से दूसरे दौर में
  • सायना आसान जीत से दूसरे दौर में
  • ई टेंडरिंग मामले से संबंधित जनहित याचिका खारिज
  • तेलंगाना की पूर्व मंत्री कांग्रेस में शामिल
दुनिया Share

राष्ट्रपति हसन रुहानी के समर्थन में उतरे खमैनी

तेहरान 21 जुलाई (रायटर) ईरान के बड़े नेता अयातुल्ला अली खमैनी ने शनिवार को ईरान के राष्ट्रपति हसन रुहानी के उस बयान का समर्थन किया जिसमें उन्होंने कहा था कि उनके तेल निर्यात को रोका जाता है तो ईरान खाड़ी देशों के तेल निर्यात को बंद कर सकता है।
श्री खमैनी ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर लिखा, “ राष्ट्रपति की टिप्पणी कि ‘अगर ईरान का तेल निर्यात नहीं होता है तो किसी क्षेत्रीय देश का तेल निर्यात नहीं होगा’ एक महत्वपूर्ण टिप्पणी थी जो ईरान की नीति तथा दृष्टिकोण को प्रतिबिंबित करती है।”
उन्होंने अपने बयान में ईरान के विदेश मंत्रालय के अधिकारियों के उस बयान का भी जिक्र किया जिसमें ईरान के परमाणु कार्यक्रम के मुद्दे पर वर्ष 2015 के अंतरराष्ट्रीय संधि से अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के हटने के फैसले के बाद अमेरिका के साथ वार्ता करने से इन्कार कर दिया था।
श्री खमैनी ने कहा, “ शब्द और यहां तक की अमेरिका के हस्ताक्षरों पर विश्वास नहीं किया जा सकता है। अत: अमेरिका के साथ वार्ता संभव नहीं है।”
उन्होंने कहा कि अमेरिका के साथ वार्ता ‘स्पष्ट गलती’ होगी क्योंकि वह भरोसेमंद नहीं है।
उल्लेखनीय है कि सभी देशों पर ईरान से तेल खरीदना बंद करने को लेकर अमेरिका के दबाव तथा अन्य प्रयास किये जाने के बाद ईरान के पड़ोसी देशों ने इस महीने के शुरू में उसके तेल पोतों को रोकने की धमकी दी थी।
इससे पहले ईरान के अधिकारियों ने होर्मुज जलमार्ग को बंद करने की धमकी दी थी। होर्मुज एक महत्वपूर्ण तेल पोत मार्ग है।
संतोष.श्रवण
रायटर
More News

ताइ‌वान को हथियार ना बेचे अमेरिका: चीन

26 Sep 2018 | 1:42 PM

 Sharesee more..
सुषमा ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा सुधार पर की चर्चा

सुषमा ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा सुधार पर की चर्चा

26 Sep 2018 | 9:28 AM

न्यूयार्क 26 सितम्बर(वार्ता) विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने जी-4 देशों के विदेश मंत्रियों के साथ बुधवार को यहां एक बैठक की और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा सुधारों पर प्रगति को लेकर चर्चा की।

 Sharesee more..
image