Monday, Feb 18 2019 | Time 17:34 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • वर्ष 2031 तक 30 करोड़ टन इस्पात उत्पादन का लक्ष्य : बीरेन्द्र सिंह
  • चेन्नई सर्राफा के भाव
  • जिसों में टिकाव
  • वंदे भारत एक्सप्रेस के आधुनिक तकनीक वाले कोच बनायेगा एमसीएफ
  • रुपया 13 पैसे लुढ़का
  • लखनऊ से माल कस्बा शादी में गये व्यक्ति की धारदार हथियार से हत्या
  • टीम फोर्स ने जीता टीडीएस क्वींस आॅफ नार्थ इंडिया खिताब
  • शिक्षा के व्यवसायीकरण के खिलाफ रैली
  • नई दिल्ली मैराथन में चमक बिखेरेंगे धोनी, रशपाल, मोनिका और ज्योति
  • छत्तीसगढ़ के तीन शहरों से विमान सेवा शुरू करने की अनुमति- भूपेश
  • दक्षिणी कश्मीर के शोपियां में घेराबंदी और तलाश अभियान शुरू
  • शहीद जवानों के परिवार की मदद के लिए आगे आए शमी
  • शारदा चिटफंड : नलिनी चिदम्बरम को फौरी राहत
  • अनुराग ठाकुर के नाम पर विधानसभा में बवाल
  • इस्तीफे के एक माह बाद भी मंत्री पद पर है अगप का विधायक
दुनिया Share

चीन को पाकिस्तान में राजनीतिक स्थिरता की उम्मीद

बीजिंग, 27 जुलाई (वार्ता) चीन ने कहा है कि उसने पाकिस्तान के आम चुनावों को बेहद नजदीकी से देखा है अौर उम्मीद है कि नए प्रशासन के सत्ता में आने के बाद वहां स्थिरता होगी और उसके सहयोगात्मक रवैये में काेई भी बदलाव नहीं अाएगा।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गैंग शुआंग ने शुक्रवार को नियमित प्रेस ब्रीफ्रिंग में कहा,“ पाकिस्तान के आम चुनावों पर चीन ने नजर रखी है अौर ईमानदारी से कहा जाए तो यही उम्मीद की जाती है कि वहां राजनीतिक हस्तांतरण आसानी से हो जाएगा जिससे स्थिरता आएगी और देश का विकास होगा।”
गौरतलब है कि पाकिस्तान तहरीके इंसाफ पार्टी (पीटीआई) के प्रमुख इमरान खान ने गुरुवार को पार्टी के शानदार प्रदर्शन के बाद राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में देश की प्रगति के लिए मिलकर काम करने को कहा था और चीन के साथ अपने संबंध बेहतर बनाने की बात भी कही थी। उन्होंने यह भी कहा था कि पाकिस्तान की नयी सरकार चीन के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध रखेगी और हर क्षेत्र मे सहयोग की बात भी कही थी।
इमरान खान ने यह भी कहा था कि चीन ने अपने विस्तृत आर्थिक गलियारे में पाकिस्तान को स्थान देेकर उसे एक मौका दिया है और पाकिस्तान इसका फायदा उठाकर गरीबी तथा भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम चला सकता है।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, “ इमरान खान ने कल दोहराया था कि चीन के साथ बेहतर संबंध होना पाकिस्तान की विदेश नीति का अहम हिस्सा है भले ही कोई पार्टी सत्ता में आए और चीन के साथ दोस्ताना संबंधों में कोई बदलाव नहीं आएगा। चीन ने इमरान खान के इस सकारात्मक बयान पर ध्यान दिया है और उम्मीद की जाती है कि पाकिस्तान में हर वर्ग के लोग दोनों देशों के बीच दोस्ताना संबंधों का समर्थन करेंगें। चीन और पाकिस्तान के संबंधों में कोई भी बदलाव नहीं अाएगा, चाहे स्थिति कैसी भी रहे।”
जितेन्द्र.श्रवण
रायटर
More News
आईसीजे ने जाधव मामले की शुरू की सुनवाई

आईसीजे ने जाधव मामले की शुरू की सुनवाई

18 Feb 2019 | 4:08 PM

हेग, 18 फरवरी (वार्ता) अंतरराष्ट्रीय न्यायिक अदालत (आईसीजे) ने कुलभूषण जाधव मामले की सोमवार से सुनवाई शुरू की।

 Sharesee more..
image