Wednesday, Sep 19 2018 | Time 20:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सेना ने पाकिस्तानी रेंजर्स की अकारण फायरिंग पर जताया कड़ा विरोध
  • खादी का उत्पादन बढाने के लिए दिए जायेंगे सोलर चरखे: सत्यदेव पचौरी
  • धान खरीद के लिए निबंधन शुरू, 48 घंटे में होगा भुगतान
  • इरकॉन के आईपीओ को साढ़े नौ गुणा अभिदान
  • छोटे उद्योगों के विकास के लिये सरकार प्रयासरत: गिरिराज
  • जवानों को सांस लेने की सही विधि बताने के लिए पुस्तक
  • हिमाचल में स्थापित होगी सेना भर्ती अकादमी: ठाकुर
  • विस में गाय को राष्ट्र माता घोषित करने का प्रस्ताव पारित
  • तेलंगना के लिए कांग्रेस बनायी नौ समितियां
  • प्रदेश में संक्रामक रोगों के नियंत्रण हेतु टीमों को किया हाई एलर्ट
  • पुलिस ने किया चरस तस्कर को गिरफ्तार
  • मास्टरकार्ड और धोनी ने मिलाया हाथ
  • मोरक्को के साथ नया हवाई सेवा समझौता
  • हैदराबाद से बैंकॉक के लिए सेवा शुरू करेगी स्पाइसजेट
  • बिहार में करीब 1000 कार्टन शराब जब्त, नौ गिरफ्तार
दुनिया Share

सरकार बनाने के लिए इमरान ने शुरू की कवायद

इस्लामाबाद 28 जुलाई (रायटर) पाकिस्तान के आम चुनाव में सबसे बड़े दल के रूप में उभरी इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) ने आवश्यक बहुमत जुटाने के लिए छोटे दलों और निर्दलीयों से समर्थन जुटाने की कवायद शुरू कर दी है।
क्रिकेटर से राजनेता बने श्री खान की पार्टी 25 जुलाई काे 272 (दो सौ बहत्तर) सदस्यीय नेशनल असेंबली के चुनाव में 116 सीटें हासिल कर सबसे बड़े दल के रूप में उभरी है लेकिन सरकार बनाने के लिए 137 के बहुमत के जादुई आंकड़े से 21 सीटें पीछे रह गयी है।
नेशनल एसेंबली में कुल 342 सीटें हैं जिनमें से 272 पर चुनाव होते हैं। साठ सीटें महिलाओं के लिए और 10 अल्पसंख्यकों के लिए आरक्षित हैं। पच्चीस जुलाई को हुए मतदान में दो सीटों पर चुनाव नहीं हुए।
पाकिस्तान के संभावित प्रधानमंत्री श्री खान को आवश्यक बहुमत जुटाने के लिए छोटे दलों और निर्दलीयों का सहारा लेना होगा क्योंकि दूसरे नंबर पर रहने वाली पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) और तीसरे नंबर पर रहने वाली पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के अलावा कई अन्य छोटे राजनीतिक दल चुनाव में बड़े पैमाने पर धांधली और सेना के हस्तक्षेप का आरोप लगाकर कड़ा विरोध जता रहे हैं।
श्री खान की पार्टी को एक करोड़ साठ लाख 86 हजार से अधिक वोट हासिल हुए हैं जबकि पूर्व प्रधानमंत्री और जेल में बंद नवाज शरीफ की पार्टी पीएमएल-एन एक करोड़ 20 लाख 89 हजार वोट मिले और वह दूसरे नंबर पर रही। नवाज शरीफ की पार्टी को 64 सीटें मिलीं। पीपीपी को 43 सीटें मिली हैं।
यही वजह है कि इमरान को अपनी सरकार के गठन में छोटी-छोटी सहयोगी पार्टियों के समर्थन की जरूरत होगी जिनसे बातचीत की प्रक्रिया आज तेज हो गयी। इमरान को सेना के सहयोग के आरोपों को यदि सच माना जाय तो उन्हें (इमरान को) समर्थन जुटाने और एसेंबली में अपने बहुमत साबित करने में कोई खास परेशानी नहीं होगी।
संजय.मिश्रा.श्रवण
जारी.वार्ता
More News

19 Sep 2018 | 6:05 PM

 Sharesee more..
नवाज, बेटी मरियम और दामाद की सजा स्थगित

नवाज, बेटी मरियम और दामाद की सजा स्थगित

19 Sep 2018 | 4:33 PM

इस्लामाबाद 19 सितम्बर (वार्ता) पाकिस्तान की इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने बुधवार को एवेन्यू फील्ड मामले में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, उनकी बेटी मरियम नवाज और कैप्टन (सेवानिवृत) दामाद मोहम्मद सफदर की सजा स्थगित कर दी।

 Sharesee more..
image