Monday, Feb 18 2019 | Time 05:15 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ‘नयी सुविधाओं’ से जवानों के काफिले को सुरक्षित बनाया जाएगा: भटनागर
  • फ्रांस में सरकार विरोधी प्रदर्शन के तीन महीने पूरे
  • लीबिया में खुफिया विभाग के पूर्व प्रमुख डोरडा हुआ रिहा
  • केरल में युवक कांग्रेस के दो कार्यकर्ताओं की हत्या
  • गृह मंत्रालय ने जम्मू-श्रीनगर क्षेत्र में सीआरपीएफ जवानों के लिए हवाई सुविधा मामले में स्पष्टीकरण दिया
दुनिया Share

अमेरिका और तुर्की के बीच पादरी ब्रूनसन को लेकर चर्चा

वाशिंगटन 28 जुलाई (रायटर) अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और तुर्की के विदेश मंत्री मेवलुत कावूसोगलु ने शनिवार को अमेरिकी पादरी एंड्रयू ब्रूनसन को लेकर चर्चा की।
अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने इस बात की जानकारी दी।
तुर्की में पादरी ब्रूनसन को हिरासत में लिये जाने की घटना अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के लिए एक ज्वलंत मुद्दा बना हुआ है। ट्रम्प प्रशासन ने पादरी ब्रूनसन की रिहाई के लिये तुर्की पर दबाव बनाना शुरू कर दिया है। अमेरिका ने इस संबंध में तुर्की पर प्रतिबंध लगाने की भी चेतावनी दी है। तुर्की की एक अदालत ने इस सप्ताह पादरी ब्रूनसन को घर में नजरबंद करने के आदेश जारी किये हैं।
गौरतलब है कि आतंकवाद और जासूसी के आरोप में पादरी एंड्रयू ब्रूनसन पिछले 21 महीनों से तुर्की की एक जेल में बंद हैं। पादरी ब्रूनसन अमेरिका में नार्थ कैरोलिना के रहने वाले हैं और 20 वर्षों से भी अधिक समय तक उन्होंने तुर्की में काम किया है।
श्री ब्रूनसन ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों से इंकार किया है। यदि पादरी ब्रूनसन दोषी पाये जाते हैं तो उन्हें 35 वर्ष तक कारावास की सजा हो सकता है।
रवि
रायटर
image