Monday, Jun 24 2019 | Time 18:47 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दिमागी बुखार के मामले में बिहार और उत्तर प्रदेश को उच्चतम न्यायलय ने दिया नोटिस
  • अभिभाषण में महापुरूषों के राष्ट्र निर्माण में योगदान की अनदेखी अस्वीकार्य
  • मलिक ने राजौरी सड़क हादसे पर जताया शोक
  • अफगानिस्तान में 78 तालिबानी आतंकवादी मारे गये
  • 21 जुलाई को होगा जूनागढ़ मनपा का चुनाव
  • मेहुली 10 मी राइफल और चिंकी 25 मी पिस्टल में जीतीं
  • चिकित्सा सेवा कर्मियों की सुरक्षा के लिए पंजाब का कानून चंडीगढ़ यूटी में लागू होगा
  • जल्द ही ई-चिप वाले पासपोर्ट जारी होंगे
  • मंगोलिया में पांच लोगों की नदी में डूबने से मौत
  • राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बने रहना चाहिए: खूंटिया
  • स्लो ओवर रेट के लिए न्यूजीलैंड टीम पर जुर्माना
  • स्लो ओवर रेट के लिए न्यूजीलैंड टीम पर जुर्माना
  • शाहजहांपुर में युवक की हत्या,गुस्साये परिजनों ने हत्यारोपी के भाई को मार दिया
  • अफगानिस्तान में आठ तालिबानी आतंकवादी ढेर
  • सोने से बनायी गयी सूक्ष्म विश्वकप ट्रॉफी
दुनिया


ताशकंद में स्वराज ने शास्त्री जी को अर्पित की श्रद्धांजलि

ताशकंद , उज्बेकिस्तान 05 अगस्त (वार्ता) विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उज्बेकिस्तान की राजधानी ताशकंद स्थित पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की स्मारक स्थल पर गईं और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट कर कहा, “ विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ताशकंद में स्वतंत्रता सेनानी तथा भारत के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के स्मारक स्थल पर गईं और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित कीं।”
उल्लेखनीय है कि पूर्व प्रधानमंत्री एवं स्वतंत्रता सेनानी लाल बहादुर शास्त्री का 1966 में उज्बेकिस्तान की राजधानी ताशकंद में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। उस समय उनकी उम्र 61 वर्ष थी।
सुश्री स्वराज दिवंगत शास्त्री जी की कांस्य की मूर्ति बनाने वाले मूर्तिकार याकोव शपिरी से भी मिलीं।
इससे पहले उन्होंने उज्बेकिस्तान के संसद के अध्यक्ष नूरदिंजोन इस्माेलोव तथा राजनीतिक पार्टियों के अन्य प्रतिनिधियों से मुलाकात की। इस दौरान दोनों देशों के प्रतिनिधियों ने आपसी रिश्तों को मजबूत करने में संसद की भूमिका के बारे में चर्चा की।
श्री कुमार ने सिलसिलेवार किये गए ट्वीट पर वीडियो भी डाले हैं जिसमें सुश्री स्वराज आम लोगों विशेषकर ‘इचक दाना, बिचक दाना’ गाने पर थिरकती हुईं एक वृद्ध महिला के साथ दिखा दे रही हैं।
उन्होंने कहा, “बॉलीवुड की कोई सीमा नहीं है। उज्बेकिस्तान में बहुत सारे लोगों का नाम राज कपूर तथा नरगिस है। इस महिला को सलाम जो अपनी भावना के अनुसार श्री 420 के गीत 'इचक दाना, बिचक दाना' पर थिरकी।”
उल्लेखनीय है कि सुश्री स्वराज मध्य एशिया में रणनीतिक साझेदारों की संख्या बढ़ाने के उदेश्य से कजाखस्तान, किर्गिस्तान तथा उज्बेकिस्तान के दौरे पर हैं।
संतोष जितेन्द्र
वार्ता
image