Tuesday, Sep 25 2018 | Time 18:14 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दक्षिण-पश्चिम मानसून असम और मेघालय में अति सक्रिय
  • जनता की अपेक्षाएं निष्पक्षता के साथ हो पूरी : नीतीश
  • रक्षा सौदों में दलाली लेता रहा है गांधी परिवार -भाजपा
  • पाइप लाइन से ऑयल चोरी मामले में तीन गिरफ्तार
  • वीडीसी सदस्य ने पत्नी समेत स्वयं को गोली मारी
  • कश्मीर में पंचायत घर में आग लगने का आठवां मामला
  • स्वत: संज्ञान का अधिकार खंडपीठ को नहीं : ए राजा
  • आईटीओ, मुकरबा चौक पर लगा प्रदूषण कम करने वाला यंत्र
  • रुपया छह पैसे टूटा
  • फेयरसेंटडॉटकॉम की व्यक्तिगत ब्याज दरों में कमी
  • कमेन्टेटर जसदेव सिंह का निधन
  • मोदी बताएं, राफेल में किसको हुआ फायदा : कांग्रेस
  • नीतीश ने छात्र की मौत पर जताया गहरा शोक
दुनिया Share

इंडोनेशिया में भूकंप से 32 की मौत

देनपसार 05 अगस्त (रायटर) इंडाेनेशिया में लोम्बाेक द्वीप के उत्तरी तट पर रविवार को 7.0 तीव्रता के भूकंप आया जिसमें 32 लोगों की मौत हो गयी।
इंडोनेशिया के पश्चिमी नुसा तेंग्गारा प्रांत की अापदा निवारण एजेंसी के प्रमुख अगुंग प्रमुजा ने बताया कि लोम्बाेक द्वीप के उत्तरी और पश्चिमी हिस्से में अभी तक 32 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। एजेंसी भूकंप में घायल हुए लोगों की संख्या का डाटा इकट्ठा कर रही है। लोम्बोक में भूकंप का केंद्र जमीन से 10 किलोमीटर नीचे था। स्थानीय मीडिया के अनुसार लोम्बोक के ज्यादातर क्षेत्रों में भूकंप के बाद बिजली गुल हो गयी थी। भूकंप के तेज झटकों से यहां मौजूद पर्यटकों और निवासियों में भय का माहौल पैदा हो गया। हजारों लोगों ने अपने घरों से बाहर निकल कर खुले में शरण ली।
आधिकारिक सूत्रों के अनुसार लोम्बोक और उसके पड़ोसी द्वीप बाली के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों की इमारत को भी भूकंप के मामूली क्षति पहुंची लेकिन उड़ानों सेवाओं का परिचालन जारी रहा। बाली में भी कई सेकंड तक भूकंप के झटके महसूस किये गये और लोगों ने घरों, होटलों और रेस्तरां इत्यादि से बाहर निकल भागे।
भूंकप के समय सिंगापुर के गृह मंत्री के शानमुगम लोम्बोक में मौजूद थे। उन्होंने फेसबुक पर लिखा कि होटल की दसवीं मंजिल जोरों से हिलने लगी और इसकी दीवारों में दरारें आ गयी। उन्होंने लिखा, “भूकंप के समय खड़ा हो पाना लगभग असंभव था। किसी तरह बाहर निकलकर सीढ़ियों से नीचे उतरा। इमारत अभी भी हिल रही थी। थोड़े समय के लिए बिजली भी गुल हो गयी। दीवारों में बहुत सी दरारें आ गयी और दरवाजे गिर गये।”
अापदा निवारण एजेंसी ने भूकंप के बाद सूनामी की चेतावनी जारी की थी और लोगों से समंद्र से दूर रहने की अपील की था लेकिन सूनामी को चेतावनी को बाद में वापस ले लिया गया। लोम्बोक में एक सप्ताह पहले 6.4 तीव्रता का भूकंप आया था जिसमें 14 लोगों की मौत हो गयी थी।
दिनेश
रायटर
More News
इमरान भारत के साथ बातचीत कैसे कर सकते हैं: विपक्षी दल

इमरान भारत के साथ बातचीत कैसे कर सकते हैं: विपक्षी दल

25 Sep 2018 | 3:21 PM

इस्लामाबााद 25 सितम्बर (वार्ता) पाकिस्तान में विपक्षी दलों ने प्रधानमंत्री इमरान खान की भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से द्विपक्षीय वार्ता करने के प्रस्ताव को लेकर कड़ी आलोचना की है।

 Sharesee more..
image