Sunday, Sep 23 2018 | Time 22:09 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मानव तस्करी का प्रमुुुख केन्द्र बना पूर्वोतर: मीर
  • राहुल गांधी 27 और 28 को रीवा तथा सतना जिले के दौरे पर रहेंगे
  • रमन ने की आंध्र के विधायक और पूर्व विधायक की हत्या की निन्दा
  • क्रिकेट प्रतियोगिताओं में प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ियों के भत्तों में वृदि्ध
  • छोटा उदेपुर में नदी में डूबने से दो युवकों की मौत
  • जम्मू कश्मीर में 90:10 के अनुपात से होगा बीमा योजना के तहत भुगतान
  • कांग्रेस सभी वर्गों को लेकर चलती है साथ- पायलट
  • मुजफ्फरपुर के पूर्व महापौर और उनके चालक की हत्या
  • कायेस और महमूदुल्लाह के अर्धशतकों से बंगलादेश के 249
  • संंप्र्रग सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं का श्रेय ले रहे हैं प्रधानमंत्री: जेना
  • आदिवासियों के नाम पर हुई वोट बैंक की राजनीति : रघुवर
  • पाकिस्तान ने भारत को दी 238 की चुनौती
  • आयुष्मान भारत : स्वास्थ्य के क्षेत्र में लंबी छलांग - नड्डा
  • करंट लगने से मजदूर की मौत, छह घायल
  • अपराधियों ने चाकू मारकर की युवक की हत्या
दुनिया Share

टैगोर की 77वी पुण्यतिथि पर बंगलादेश में कई कार्यक्रम आयोजित

ढाका 06 अगस्त (वार्ता) बंगलादेश में सोमवार को गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर की 77वीं पुण्यतिथि मनायी गयी और इस अवसर पर कई कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।
इस अवसर पर कई संगठनों ने टैगोर पर कई कार्यक्रमों का आयोजन किया और कई टेलीविजन चैनलों ने उनके जीवन पर आधारित विशेष कार्यक्रमों का प्रसारण किया।
बंगला अकादमी यहां अब्दुल करीम साहित्य विशारद सभागार में शाम चार बजे व्याख्यान और सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन करेगा।
इसके अलावा शिल्पकला अकादमी, शिशु अकादमी समेत कई सरकारी और गैर-सरकारी संस्थान तथा सांस्कृतिक संगठन भी कई कार्यक्रमों का आयोजन कर रहे हैं।
टैगोर एक कवि, नाटककार, उपन्यासकार और संगीतकार थे जिन्होंने 19वीं सदी के अंत और 20वीं सदी की शुरुआत में बांगला साहित्य और संगीत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया था। उनका जन्म कोलकाता में सात मई 1861 को हुआ था। वह देवेंद्रनाथ टैगोर और शारदा देवी की 13 संतानों में सबसे छोटे थे।
वह एशिया के पहले व्यक्ति थे, जिन्हें नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। उन्हें वर्ष 1913 में उनकी प्रसिद्ध किताब गीतांजलि के लिए साहित्य का नोबेल पुरस्कार मिला था।
उनका लिखा गीत ‘अमार सोनार बांग्ला’ बंगलादेश का और ‘जन गन मन’ भारत का राष्ट्रगान है।
टैगोर ने कई उपन्यास, लघु कहानियां, गीत, नृत्य-नाटक और राजनीतिक एवं व्यक्तिगत विषयों पर लेख लिखे थे। गीतांजलि, गोरा और चाेखेर बाली उनकी मशहूर कृतियों में शामिल है।
सं, यामिनी
वार्ता
More News

23 Sep 2018 | 2:30 PM

 Sharesee more..
चीन ने अमेरिका के साथ सैन्य वार्ता  रद्द की

चीन ने अमेरिका के साथ सैन्य वार्ता रद्द की

23 Sep 2018 | 10:40 AM

शंघाई 23 सितम्बर (रायटर) चीन ने अमेरिका के साथ सैन्य वार्ता रद्द कर दी है। अमेरिका ने चीन के रूस से लड़ाकू जेट विमान और मिसाइल खरीदने के कारण उसकी एक सैन्य एजेंसी को प्रतिबंधित कर दिया है जिससे नाराज होकर चीन ने अमेरिकी राजदूत को तलब किया है और सैन्य समझौता रद्द करने की घोषणा की है।

 Sharesee more..
ईरान में हो सकती है क्रांति: गुलियानी

ईरान में हो सकती है क्रांति: गुलियानी

23 Sep 2018 | 10:34 AM

न्यूयाॅर्क 23 सितंबर (रायटर) अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के निजी वकील रूडी गुलियानी ने शनिवार को कहा कि अमेरिकी प्रतिबंधों के कारण ईरान में पैदा हुआ आर्थिक संकट एक ‘सफल क्रांति’ को जन्म दे सकता है।

 Sharesee more..
image