Monday, Sep 24 2018 | Time 01:47 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • गब्बर और हिटमैन ने पाकिस्तान को धो डाला, भारत फाइनल में
  • अफगानिस्तान बाहर, बंगलादेश-पाकिस्तान में होगा सेमीफाइनल
  • कांगो में विद्रोहियों के हमले में 14 नागरिक मारे गये
  • हिमाचल में सड़क हादसों में छह की मौत,38 घायल
  • भाजपा के शीर्ष नेताओं में पर्रिकर से इस्तीफा मांगने का साहस नहीं : कांग्रेस
दुनिया Share

पाकिस्तान ने आजादी दिवस पर भी अलापा कश्मीर राग

इस्लामाबाद 14 अगस्त (वार्ता) पाकिस्तान ने अपने 72वें स्वतंत्रता दिवस पर मंगलवार को कहा कि वह कश्मीर मसले के हल के लिए संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों के अनुरूप काम करता रहेगा।
राष्ट्रपति ममून हुसैन ने राष्ट्रीय राजधानी के जिन्ना कन्वेंशन सेंटर में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद अपने संबोधन में कहा,“ संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों के तहत कश्मीर मुद्दे को हल करने के लिए पाकिस्तान अपना राजनीतिक और नैतिक समर्थन प्रदान करना जारी रखेगा। ”
एसोसिएटेड प्रेस ऑफ पाकिस्तान ने बताया कि श्री हुसैन ने कहा कि पाकिस्तान के लोग हमेशा कश्मीरी लोगों और उनकी ऐतिहासिक बलिदानों को याद रखेंगे। साथ ही उन्होंने अंतराष्ट्रीय समुदाय से उनकी मांगों के समर्थन की अपील की।
राष्ट्रपति ने कहा कि एक मजबूत, विकसित और लोकतांत्रिक पाकिस्तान राष्ट्र की नियति है। जिन्ना केंद्र समारोह में तीनों सेनाओं के प्रमुखों, संघीय कैबिनेट, सांसदों, विदेशी राजनयिकों और बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया।
इस अवसर पर देश भर में स्वतंत्रता समारोह आयोजित किये गये तथा लोगों ने अाजादी मिलने की खुशियां बांटी।
इस बीच, कराची में आजादी की खुशी में हवा में गोलियां चलायीं जिससे 39 लोग घायल हो गया। शहर के दक्षिणी हिस्से स्थित काेरांगी, न्यू कराची और उत्तर नजीमाबाद समेत विभिन्न इलाकों में इस प्रकार लोगों के घायल होने की खबर है। घायलों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
संजय.श्रवण
वार्ता
More News

गुआम में भूकंप के तेज झटके

23 Sep 2018 | 3:50 PM

 Sharesee more..

23 Sep 2018 | 2:30 PM

 Sharesee more..
चीन ने अमेरिका के साथ सैन्य वार्ता  रद्द की

चीन ने अमेरिका के साथ सैन्य वार्ता रद्द की

23 Sep 2018 | 10:40 AM

शंघाई 23 सितम्बर (रायटर) चीन ने अमेरिका के साथ सैन्य वार्ता रद्द कर दी है। अमेरिका ने चीन के रूस से लड़ाकू जेट विमान और मिसाइल खरीदने के कारण उसकी एक सैन्य एजेंसी को प्रतिबंधित कर दिया है जिससे नाराज होकर चीन ने अमेरिकी राजदूत को तलब किया है और सैन्य समझौता रद्द करने की घोषणा की है।

 Sharesee more..
image