Wednesday, Sep 26 2018 | Time 16:51 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • विकासशील देशों की मांग से वैश्विक स्तर पर कीमतों में मजबूती
  • महिलाओं के स्वामित्व वाली संपत्तियों पर स्टाम्प ड्यूटी हटाना उत्साहजनक: महबूबा
  • एशियन चैंपिंयस ट्रॉफी में मनप्रीत को कप्तानी
  • राष्ट्रीय डिजिटल संचार नीति 2018 मंजूर
  • सावधान, कांटेक्ट लेंस लगाने से जा सकती है रोशनी
  • निजी फायनांस कंपनी से सात लाख की लूट
  • न्यायालय के निर्णय से आधार की उपयोगिता हुई प्रमाणित: जेटली
  • गांधी जयंती पर वर्धा में होगी कांग्रेस कार्य समिति की बैठक
  • परिवार को खबर नहीं, यशपाल बन गया मिक्स्ड मार्शल का हीरो
  • चीनी मिलों को फिर मिला 5538 रुपये का पैकेज
  • भूमि विवाद में कमी लाने के लिए प्रयास की जरूरत :नीतीश
  • जीएसटीएन पूरी तरह से सरकारी कंपनी होगी
  • सायना और परूपल्ली करेंगे विवाह
  • सायना और परूपल्ली करेंगे विवाह
दुनिया Share

राजनयिक विवाद के कारण संकट में कनाडाई हज यात्री, छात्र

टोरंटो/ओटावा 16 अगस्त (वार्ता) कनाडा और सऊदी अरब के बीच जारी राजनयिक विवाद के कारण हज यात्रा करने जाने वाले कनाडाई मुस्लिमों तथा सऊदी अरब में रह रहे कनाडाई छात्रों को मुसीबतों सामना करना पड़ रहा है।
इस विवाद के कारण सऊदी अरब में रहने वाले कनाडाई छात्र अपने सामानों को बेचने पर मजबूर है क्योंकि सऊदी सरकार ने उन्हें एक महीने में वापस अपने देश लौटने का आदेश दिया है।
मस्जिद के इमाम अब्दुल्ला युसरी ने कहा, “इनमें से कुछ छात्र एक सप्ताह पहले ही आये थे और वे लोग जाने के लिए तैयार है, जबकि कुछ सऊदी अरब में गर्मी की छुट्टियां मनाने के लिए आये थे और अब वे लोग अपना सामान बेचने आ रहे हैं।”
कनाडा के बहुत से मुस्लिमों ने सऊदी अरब के सरकारी विमानों में 19 से 24 अगस्त सऊदी अरब के मक्का में हज यात्रा करने के लिए टिकट बुक करा रखा है। हज यात्रियों की 13 अगस्त की यात्रा प्रभावित नहीं हुई थी।
जावद चौधरी, जिनकी मां हज यात्रा पर सऊदी अरब गई हैं, ने कहा, “हम लोग एक परिवार के तौर पर परेशान है क्योंकि हम नहीं चाहते हैं कि हवाई अड्डे पर उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़े।”
उल्लेखनीय है कि सऊदी अरब ने पिछले दिनों कनाडा के साथ सभी नए व्यापार और निवेश पर भी रोक लगा दी थी और रियाद में स्थित कनाडा के राजदूत को वापस भेज दिया था। इसके साथ ही सऊदी अरब ने सरकारी सहायता प्राप्त शैक्षणिक तथा चिकित्सकीय कार्यक्रमों पर भी रोक लगा दी है। सऊदी अरब ने यह कदम कनाडा की उस अपील के बाद उठाया है जिसमें रियाद में गिरफ्तार किए गए नागरिक अधिकार कार्यकर्ता की रिहाई की मांग की गई थी। सऊदी अरब ने कनाडा की इस मांग को उसके आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप बताया है।
संतोष.संजय
रायटर
image