Monday, Sep 16 2019 | Time 00:20 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दो डकैतों के मारे जाने की सूचना पर पुलिस हुयी सक्रिय
  • शेख हसीना और मोदी के बीच पांच अक्टूबर को होगी मुलाकात
दुनिया


मॉरीशस के पूर्व प्रधानमंत्री अनिरुद्ध जगन्नाथ ने कहा कि भाषा और संस्कृति अलग-अलग नहीं हो सकती। संस्कृति की पहचान बरकरार रखने में भाषा का बड़ा योगदान है। हिन्दी भारत की आत्मा है और मॉरीशस को गर्व है कि हिन्दी के प्रचार में कोई कसर नहीं छोड़ी गयी है।
श्री जगन्नाथ ने कहा कि भारतीय भाषा के विकास के लिए मॉरीशस ने बराबर काम किया है। पूरे विश्व में हिन्दी सचिवालय भवन के निर्माण के लिए मॉरीशस का चयन किया गया, यह गर्व की बात है। इसका शिलान्यास उनके प्रधानमंत्रित्व काल में हुआ, यह उनका सौभाग्य है और यह पूर्वजों के प्रति सम्मान है। उन्होंने कहा कि मॉरीशस की आजादी में इस भाषा का बड़ा योगदान रहा है। मॉरीशस की आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक प्रगति में भी हिन्दी का बड़ा योगदान रहा है।
पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा, “भारत को हम माता कहते हैं, उस नाते मॉरीशस पुत्र बन जाता है और वह अपना कर्तव्य जानता है। मॉरीशस संयुक्त राष्ट्र में हिन्दी को आधिकारिक भाषा का दर्जा दिलाने में पूर्ण समर्थन देगा।” उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि हिन्दी को अंतरराष्ट्रीय मंच मिले।
शिवा उपाध्याय सतीश
जारी वार्ता
More News
अफगानिस्तान में पिछले 24 घंटों में 110 आतंकवादी ढ़ेर

अफगानिस्तान में पिछले 24 घंटों में 110 आतंकवादी ढ़ेर

15 Sep 2019 | 11:49 PM

काबुल, 15 सितंबर (वार्ता) अफगानिस्तान में पिछले 24 घंटों में आतंकवादी संगठन तालिबान के विरुद्ध सुरक्षा बलों की कार्रवाई में 110 आतंकवादी मारे गए है। आधिकारिक सूत्रों ने रविवार को यह जानकारी दी।

see more..

15 Sep 2019 | 9:51 PM

see more..
कोंगों में नाव डूबी, 36 लापता

कोंगों में नाव डूबी, 36 लापता

15 Sep 2019 | 8:05 PM

किंशासा, 15 सितंबर (वार्ता) कोंगो के मलुकु कम्मून जिले में रविवार को एक नदी में नाव के डूबने से कम से कम 36 लोग लापता हो गए। पुलिस ने यह जानकारी दी है।

see more..
image