Wednesday, Sep 19 2018 | Time 04:51 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अमेरिका और पोलैंड करेंगे सैन्य और खुफिया संबंधों को सुदृढ़
  • आईसीसी ने शुरू की म्यांमार से रोहिंग्याओं के पलायन की जांच
  • हांगकांग को हराने में भारत के पसीने छूटे
  • गाजा में प्रदर्शनकारियों पर गोलीबारी, दो की मौत 46 घायल
  • प्रधानमंत्री से सिक्किम दौरा स्थगित करने की मांग
दुनिया Share

इस मौके पर ब्रजलाल धनपत (मरणोपरांत) और अभिमन्यु अनत (मरणोपरांत) को विशिष्ट हिन्दी सम्मान से सम्मानित किया गया।
सम्मेलन के दौरान विश्व हिन्दी सम्मान से 17 लोगों को सम्मानित किया गया। विश्व हिन्दी सम्मान पाने वालों में प्रो. जाविद खोलोफ, डॉ. राम प्रसाद परसराम, डा. इनेस फॉर्नेल, डॉ. अन्ना चेल्नोकोवा, उदय नारायण गंगू, हनुमान दूबे गिरधारी, केशन बधू , उन गू ली, गोपाल ठाकुर, सिलेंग माचानरव, नेमानी ताकुम्बू बाईनिवालु, ब्रसील नागॉड वितान, सुनीता नारायण, प्रो. कजूहीको मचीदा, डॉ. रत्नाकार नराले और ई मोदे धर्मयश शामिल हैं।
इसके अलावा तीन विदेशी संस्थाओं को भी विश्व हिन्दी सम्मान से सम्मानित किया गया। इन संस्थाओं में मॉरीशस की संस्था हिन्दी प्रचारिणी सभा और आर्य सभा के अलावा जापान की टोक्यो यूनिवर्सिटी ऑफ फॉरेन स्टडीज शामिल है।
शिवा उपाध्याय सतीश
वार्ता
image