Monday, Apr 22 2019 | Time 16:04 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ममता की हार तय: शाह
  • सुमित्रा-सुषमा नहीं दिखेंगी इस बार संसद में, 15 साल बाद दिग्विजय चुनावी मैदान में
  • बालाकोट स्ट्राइक का श्रेय लेकर क्या संदेश देना चाहते हैं मोदी:कैप्टन
  • राघव चड्ढा ने दक्षिण दिल्ली सीट से भरा पर्चा
  • एयर एशिया की 70 प्रतिशत तक छूट की पेशकश
  • अंतिम चरण के चुनाव के लिए अधिसूचना जारी
  • सेंसेक्स 495 अंक, निफ्टी 158 अंक लुढ़का
  • कमलनाथ के लोकसभा चुनाव को लेकर बयान पर शिवराज का ट्वीट
  • धोनी की बल्लेबाजी ने हमें डरा दिया था : विराट
  • धोनी की बल्लेबाजी ने हमें डरा दिया था : विराट
  • ‘चौकीदार’ को सजा मिलेगी: राहुल
  • बंगाल में सातवें चरण के चुनाव की अधिसूचना जारी
  • मनोज तिवारी ने भरा नामांकन पत्र, सपना चौधरी शामिल हुई रोड शो में
  • स्पाइसजेट का एमिरैट्स के साथ कोडशेयर समझौता
  • कर्नाटक में दो विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए अधिसूचना जारी
दुनिया


तालिबान का यह बयान ऐसे समय में आया है जब अफगानिस्तान सरकार उत्तरी प्रांत कुंदुज से तालिबान द्वारा अपहृत कम से कम 170 नागरिकों, सुरक्षा बलों के 20 जवानों की रिहाई सुनिश्चित करने के लिए प्रयास कर रही है।
काबुल के गृह मंत्रालय एक अधिकारी ने कहा कि सरकार के अधिकारी तकरीबन 200 बंधकों की रिहाई के लिए कुंदुज में तालिबानी नेताओं से बात कर रहे हैं। अधिकारी ने कहा, “हम सभी यात्रियों की मुक्त करवाने के लिए अपने सर्वोच्च प्रयास कर रहे हैं।”
कुंदुज गवर्नर के प्रवक्ता एस्मातुल्लाह मुरादी ने बताया कि तखार प्रांत से काबुल आ रही तीन बसों को तालिबान आतंकवादियों ने कुंजुद में रोककर उसमें सवार यात्रियों का अपहरण कर लिया।
मुरादी ने कहा, “बस को तालिबान के आतंकवादियों ने रोका। यात्रियों को काे बलपूर्वक बसाें से उतार लिया। अपहृत यात्रियों को किसी अज्ञात स्थान की ओर ले जाया गया।”
तालिबान ने अपहरण की जिम्मेदारी लेेते हुए इस घटना की पुष्टि की है। तालिबान के प्रवक्ता जबिहुल्ला मुजाहिद ने कहा, “हमें खुफिया जानकारी मिली थी कि अफगानिस्तान के सुरक्षा बलों के जवान काबुल जा रहे हैं। इसके बाद हमने अपहरण करने का निर्णय लिया। अपहरण के बाद हमने हम बस को एक सुरक्षित स्थान पर ले गये। अब हम सुरक्षा बल के जवानों की पहचान कर रहे हैं।” प्रवक्ता ने कहा आम नागरिकों को रिहा कर दिया जाएगा।
कुंदुज के प्रांतीय परिषद के सदस्य सैयद असदुल्लाह सदत ने कहा कि बस में सवार लोग अपने परिवार के साथ छुट्टियां मनाने काबुल जा रहे थे।
तालिबान ने पिछले कुछ दिनों में अफगानिस्तान में कई आतंकवादी हमलों को अंजाम दिया है जिसमें काबुल के दक्षिण-पश्चिम में गजनी शहर पर किया गया हमला भी शामिल है जिसमें सैंकड़ों लोगों की मौत हो गयी थी।
दिनेश आशा
रायटर
More News
ट्रंप ने जेलेंस्की को राष्ट्रपति चुनावों में मिली बढ़त पर दी बधाई

ट्रंप ने जेलेंस्की को राष्ट्रपति चुनावों में मिली बढ़त पर दी बधाई

22 Apr 2019 | 12:05 PM

मॉस्को, 22 अप्रैल (स्पूतनिक) अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को यूक्रेन के राष्ट्रपति पद के चुनावों में वोलोडिमिर ज़ेलेंस्की को मिली बढ़त के बाद उन्हें बधाई दी है।

see more..
श्रीलंका आतंकवादी हमले में मृतकों की संख्या 290 हुई

श्रीलंका आतंकवादी हमले में मृतकों की संख्या 290 हुई

22 Apr 2019 | 12:04 PM

कोलंबो, 22 अप्रैल (वार्ता) श्रीलंका में रविवार को हुये आतंकवादी हमले में मृतकाें की संख्या 290 हो गयी जबकि घायलों की संख्या 500 से अधिक है।

see more..
image