Monday, Sep 24 2018 | Time 21:32 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बुनियादाी विद्यालयों के पुनरुत्थान को सरकार प्रतिबद्ध : नीतीश
  • पद्मा शुक्ला ने भाजपा के साथ धोखा किया - संजय पाठक
  • बिहार की सभी लोकसभा सीट जीतने के लिए मुहिम चलाएगी भाजपा
  • दागी उम्मीदवारों के चुनाव लड़ने से रोकने संबंधी याचिका पर मंगलवार को फैसला
  • केरल के पांच जिलों में भारी बारिश की अांशका, येलाे अलर्ट जारी
  • दो एरिया कमांडर समेत चार नक्सली गिरफ्तार
  • गुजरात के गिर वन में दो और शेरों की मौत, 13 दिनों में 13 शेराें की मौत
  • डालमिया के मेंटर और पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष दत्ता का निधन
  • दो एरिया कमांडर समेत चार नक्सली गिरफ्तार
  • वंसुधरा का सूखा प्रभावित जिलों पर कोई ध्यान नहीं-गहलोत
  • राजद सांसद के पेट्रोल पंपकर्मी से पांच लाख से अधिक की लूट
  • नौसैनिक अधिकारी अभिलाष टोमी को सुरक्षित निकाला गया
  • मोदी की राफेल पर चुप्पी का अर्थ है कि आरोप सही हैं: उम्मन चांडी
  • शहजाद से फिक्सिंग के लिए किया गया था संपर्क
  • उत्तराखंड विस मानसून सत्र 19 घण्टे 29 मिनट चला
दुनिया Share

महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय (वर्धा) से पीएचडी कर चुके बुडापेस्ट (हंगरी) के पीटर शागी ने कहा कि हिंदी सीखने के बाद वह अब अपने देश के एल्ते विश्वविद्यालय में हिंदी पढ़ाने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस विश्वविद्यालय में करीब 30 छात्र स्थानीय हैं और वे भारतीय मूल के नहीं हैं। वे हिंदी और भारतीय अध्ययन की पढ़ाई कर रहे हैं।
श्री शागी ने कहा कि उनके देश के युवाओं में भी भारत और उसकी संस्कृति को जानने की रूचि काफी बढ़ी है। उन्होंने कहा कि हिंदी सीखकर ही हम भारत को अच्छी तरह से जान सकते हैं।
इंडोनेशिया के रहने वाले और विश्व रामायण सम्मेलन के समन्वयक रहे धर्मयश ने कहा कि हिंदी भारत की सभ्यता और संस्कृति से जुड़ी एक भाषा है। इसे युवाओं को सिखाना चाहिए नहीं तो आधुनिकता के दौर में नयी पीढ़ी अपनी सभ्यता और संस्कृति से दूर हो जाएगी। तीस से अधिक पुस्तक लिख चुके धर्मयश भारतीय ग्रंथ गीता, रामायण और रामचरितमानस का इंडोनेशियाई भाषा बहासा में अनुवाद कर चुके हैं। इनके द्वारा अनुवादित गीता के छह संस्करण अबतक प्रकाशित हो चुके हैं। इनके पंचतंत्र एवं हितोपदेश के अनुवाद को सर्वाधिक बिकने वाली पुस्तक के सम्मान से नवाजा जा चुका है। उन्होंने कहा कि हिंदी के साथ ही भारत की मूल भाषा संस्कृत सीखने का ही परिणाम है कि उन्होंने यह उपलब्धियां हासिल की हैं।
शिवा सूरज
वार्ता
More News
राहुल भारत के अगले प्रधानमंत्री: रहमान मलिक

राहुल भारत के अगले प्रधानमंत्री: रहमान मलिक

24 Sep 2018 | 3:34 PM

इस्लामाबाद 24 सितंबर (वार्ता) पाकिस्तान के पूर्व गृह मंत्री रहमान मलिक ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भारत के जेट गेट घोटाले का खुलासा करने का श्रेय देते हुए कहा है कि वह पड़ोसी देश के अगले प्रधानमंत्री बनने वाले हैं।

 Sharesee more..
संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक में कश्मीर मामले को उठायेगा पाकिस्तान

संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक में कश्मीर मामले को उठायेगा पाकिस्तान

24 Sep 2018 | 1:47 PM

संयुक्त राष्ट्र 24 सितंबर (वार्ता) पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के नेतृत्व में पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल इस सप्ताह से शुरू हो रही संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक में भाग लेने के लिए न्यूयॉर्क पहुंच चुका है।

 Sharesee more..
image