Thursday, Sep 20 2018 | Time 15:53 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने खरे के निधन पर शोक जताया
  • अगले ओलम्पिक में खेलने की कोशिश है: योगेश्वर
  • गिर वन के पूर्वी विस्तार में 48 घंटे में तीन शेरों के शव मिलने से सनसनी
  • भारत से औपचारिक जवाब का इंतजार: पाकिस्तान
  • प्रख्यात कवि विष्णु खरे पंच तत्त्व में विलीन
  • उत्तर कोरिया से बातचीत के लिए तैयार: पोम्पियो
  • शहीद के साथ बर्बरता का करार जवाब दे सरकार : कांग्रेस
  • पिता से प्रेरणा लेते हैं शाहिद कपूर
  • पिता से प्रेरणा लेते हैं शाहिद कपूर
  • पिता से प्रेरणा लेते हैं शाहिद कपूर
  • पूरे विमानन क्षेत्र के सुरक्षा ऑडिट के आदेश
  • जेट की उड़ान में यात्रियों की नाक से निकाला खून, जाँच के आदेश
  • चीन के बाजार में पैठ बनाने की जुगत में भारत
दुनिया Share

द. कोरिया की पूर्व राष्ट्रपति को 25 साल का कारावास

सोल 24 अगस्त (रायटर) दक्षिण कोरिया की एक अदालत ने भ्रष्टाचार के मामले में पूर्व राष्ट्रपति पार्क ग्यून हे को 25 वर्ष के कारावास की सजा सुनायी है जिस वजह से उन्हें 2017 में सत्ता भी गंवानी पड़ी थी।
पार्क लोकतांत्रिक तरीके से निर्वाचित दक्षिण कोरिया की पहली राष्ट्रपति हैं जिन्हें संवैधानिक अदालत ने भ्रष्टाचार के मामले में लिप्त होने के कारण पद से हटा दिया था।
सोल की अदालत ने 66 वर्षीय पार्क को अपनी दोस्त चोई सून सिल के साथ सांठगांठ करके उनके परिवार तथा उनके गैर लाभकारी संस्थानों को अरबों वोन का लाभ पहुंचाने का दोषी पाया।
पीठासीन न्यायाधीश किम मून सुक ने कहा, “राजनीतिक तथा वित्तीय शक्तियों के बीच इस तरह के अनैतिक व्यवहार लोकतंत्र की मूल धारणा को नुकसान पहुंचाते हैं तथा बाजार की अर्थव्यवस्था में विकृतियां पैदा करते हैं। इससे लोगों को भारी नुकसान तथा समाज में अविश्वास पैदा होता है। इस वजह से सख्त सजा दिया जाना अनिवार्य है।”
अदालत ने सत्ता का गलत इस्तेमाल, रिश्वत और तानाशाही का दोषी पाये जाने के बाद पूर्व सैन्य तानाशाह की बेटी पार्क को 20 अरब वोन का जुर्माना भरने का भी आदेश दिया।
इससे पहले एक निचली अदालत ने अप्रैल में पार्क को 24 वर्ष कारावास की सजा सुनायी थी लेकिन सरकारी अभियोजकों ने उन्हें और कड़ी सजा देने की मांग करते हुए इस फैसले को चुनौती दी थी।
दक्षिण कोरिया की एक अन्य अदालत ने जुलाई में सरकारी निधि को नुकसान पहुंचाने तथा वर्ष 2016 में संसदीय चुनाव में हस्तेक्षप करने के मामले में दोषी पाये जाने के बाद पार्क को अतिरिक्त आठ वर्ष की सजा सुनायी थी।
गौरतलब है कि पार्क 31 मार्च 2017 से जेल में बंद हैं, लेकिन उन्होंने अदालत में कुछ भी गलत करने से इनकार किया है। वह अपने पिता द्वारा तीन दशक बाद राष्ट्रपति पद छोड़ने के बाद वर्ष 2012 में देश की पहली महिला राष्ट्रपति बनी थीं।
संतोष, यामिनी
रायटर
More News

पाकिस्तान के साथ संबंध प्रगाढ़ : जिनपिंग

20 Sep 2018 | 1:03 PM

 Sharesee more..
द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करेंगे पाकिस्तान और यूएई

द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करेंगे पाकिस्तान और यूएई

20 Sep 2018 | 10:42 AM

इस्लामाबाद 20 सितंबर (वार्ता) पाकिस्तान और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने आपसी पारस्परिक सहयोग के मौजूदा स्तर पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि दोनों देश विभिन्न क्षेत्रों में अपने द्विपक्षीय संबंधों को और आगे बढ़ाने को लेकर प्रतिबद्ध हैं।

 Sharesee more..
image