Sunday, Feb 17 2019 | Time 19:01 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जम्मू हिंसा, पुलिस ने 10 लोगों को हिरासत में लिया
  • सिद्धू पर देश द्रोह का मामला दर्ज हो : कालिया
  • कृषि संकट, बेरोजगारी, विभाजनकारी ताकतें और पर्यावरणीय क्षरण सबसे बड़ी चुनौती: मनमोहन
  • पुलवामा हमले के विरोध में भाजपा नेता एवं कार्यकर्ताओं ने दिया धरना
  • बाहर पढ़ने वाले कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा की समीक्षा
  • बिहारवासियों का मेट्रो रेल का सपना हुआ पूरा
  • पुलवामा आतंकी घटना के बाद कश्मीरियों के पुलिस सत्यापन में आयी तेजी
  • खेलों से सुधारा जायेगा कैदियों को
  • झांसी रेलवे स्टेशन पर लहराया सौ फुट ऊंचा तिरंगा
  • केन्द्र सरकार शहीद जवानों के बच्चों की शिक्षा का दायित्व गंभीरता से ले- प्रदीप टम्टा
  • राज्य सरकार तकनीकी शिक्षा को बढ़ावा देने के लिये लगातार काम कर रही है:योगी
  • मजबूत सरकार से ही संभव हुये विकास के इतने कार्य : मोदी
  • शहीदों की शौर्यगाथा स्कूली पाठ्यक्रम में होगी शामिल
  • जम्मू में कर्फ्यू के कारण 20 से अधिक विवाह समारोह स्थगित
  • जम्मू में कर्फ्यू के कारण लोगों की बढ़ी परेशानी
दुनिया Share

द. कोरिया की पूर्व राष्ट्रपति को 25 साल का कारावास

सोल 24 अगस्त (रायटर) दक्षिण कोरिया की एक अदालत ने भ्रष्टाचार के मामले में पूर्व राष्ट्रपति पार्क ग्यून हे को 25 वर्ष के कारावास की सजा सुनायी है जिस वजह से उन्हें 2017 में सत्ता भी गंवानी पड़ी थी।
पार्क लोकतांत्रिक तरीके से निर्वाचित दक्षिण कोरिया की पहली राष्ट्रपति हैं जिन्हें संवैधानिक अदालत ने भ्रष्टाचार के मामले में लिप्त होने के कारण पद से हटा दिया था।
सोल की अदालत ने 66 वर्षीय पार्क को अपनी दोस्त चोई सून सिल के साथ सांठगांठ करके उनके परिवार तथा उनके गैर लाभकारी संस्थानों को अरबों वोन का लाभ पहुंचाने का दोषी पाया।
पीठासीन न्यायाधीश किम मून सुक ने कहा, “राजनीतिक तथा वित्तीय शक्तियों के बीच इस तरह के अनैतिक व्यवहार लोकतंत्र की मूल धारणा को नुकसान पहुंचाते हैं तथा बाजार की अर्थव्यवस्था में विकृतियां पैदा करते हैं। इससे लोगों को भारी नुकसान तथा समाज में अविश्वास पैदा होता है। इस वजह से सख्त सजा दिया जाना अनिवार्य है।”
अदालत ने सत्ता का गलत इस्तेमाल, रिश्वत और तानाशाही का दोषी पाये जाने के बाद पूर्व सैन्य तानाशाह की बेटी पार्क को 20 अरब वोन का जुर्माना भरने का भी आदेश दिया।
इससे पहले एक निचली अदालत ने अप्रैल में पार्क को 24 वर्ष कारावास की सजा सुनायी थी लेकिन सरकारी अभियोजकों ने उन्हें और कड़ी सजा देने की मांग करते हुए इस फैसले को चुनौती दी थी।
दक्षिण कोरिया की एक अन्य अदालत ने जुलाई में सरकारी निधि को नुकसान पहुंचाने तथा वर्ष 2016 में संसदीय चुनाव में हस्तेक्षप करने के मामले में दोषी पाये जाने के बाद पार्क को अतिरिक्त आठ वर्ष की सजा सुनायी थी।
गौरतलब है कि पार्क 31 मार्च 2017 से जेल में बंद हैं, लेकिन उन्होंने अदालत में कुछ भी गलत करने से इनकार किया है। वह अपने पिता द्वारा तीन दशक बाद राष्ट्रपति पद छोड़ने के बाद वर्ष 2012 में देश की पहली महिला राष्ट्रपति बनी थीं।
संतोष, यामिनी
रायटर
More News

चीन में मकान ढहने से तीन लोगों की मौत, 14 घायल

17 Feb 2019 | 4:10 PM

 Sharesee more..

बंगलादेश में आग से नौ लोगों की मौत

17 Feb 2019 | 2:17 PM

 Sharesee more..
कंजर्वेटिव सांसद ब्रेक्जिट पर एकजुट हों : थेरेसा

कंजर्वेटिव सांसद ब्रेक्जिट पर एकजुट हों : थेरेसा

17 Feb 2019 | 12:13 PM

लंदन 17 फरवरी (वार्ता) ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मेे ने कंजर्वेटिव पार्टी के सांसदों को पत्र लिखकर अपनी ‘व्यक्तिगत वरीयताओं’ को एक ओर रखकर ब्रेक्जिट समझौते का समर्थन करने की अपील की।

 Sharesee more..
image