Wednesday, Jun 19 2019 | Time 19:28 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ---
  • मर्सीडीज मामले में चार और आरोपी गिरफ्तार
  • जीडीपी आंकलन की पद्धति पूरी तरह से सटीक नहीं: आर्थिक सलाकार परिषद
  • मस्तिष्क ज्वर राष्ट्रीय समस्या : कांग्रेस
  • हरियाणा में धारूहेड़ा बनेगा नया खंड, मंजूरी
  • 1984 : कमलनाथ के खिलाफ शिकायत का गृह मंत्रालय ने लिया संज्ञान
  • पेरु ने बोलीविया को 3-1 से हराया
  • हत्या के मामले में 19 को उम्र कैद की सजा
  • रेनो ने किया अपनी नयी कार ट्राइबर अनावरण
  • ‘एक चुनाव एक देश’ मुद्दे पर प्रधानमंत्री गठित करेंगे समिति
  • जौनपुर में 747 पेटी तस्करी की शराब बरामद, दो गिरफ्तार
  • पंचकूला में घग्गर नदी पर बनेगा पुल, अनेक अन्य महत्वपूर्ण फैसले
  • देवरिया में अवैध पेट्रोल कारोबारियों के ठिकानों पर छापा
  • इटली, ऑस्ट्रेलिया और ब्राजील अंतिम 16 में
  • इटली, ऑस्ट्रेलिया और ब्राजील अंतिम 16 में
दुनिया


आतंकवाद से लड़ने में पाकिस्तान की मदद करेगा चीन

इस्लामाबाद 09 सितंबर (वार्ता) भारत समेत दक्षिण एशिया के अमेरिका के उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल के दौरे के बाद चीन ने क्षेत्र में एक ‘महत्वपूर्ण विकासशीन देश’ के रूप में पाकिस्तान की प्रशंसा करते हुए रविवार को कहा कि बीजिंग आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में इस्लामाबाद का समर्थन करेगा।
चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के साथ संयुक्त मीडिया संबोधन में कहा,“यह ऐसा देश (पाकिस्तान) है जो इस्लामी जगत और अंतरराष्ट्रीय और क्षेत्रीय मामलों में विशेष प्रभाव ड़ालता है। साथ ही, पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय लड़ाई में भी भाग ले रहा है। हम आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई तथा सामाजिक-आर्थिक विकास और पड़ोसी देशों के साथ संबंधों के विकास में पाकिस्तान का समर्थन करेंगे।”
श्री वांग ने कहा,“वर्षों से, पाकिस्तान ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ने के लिए असीमित प्रयास किए हैं। अंतरराष्ट्रीय समुदाय को पाकिस्तान के बलिदान की सराहना करनी चाहिए ।” उन्होंने कहा कि चीन पाकिस्तान के साथ संचार और सहयोग में शामिल होने के सभी देशों का स्वागत करता है। चीन आपसी सम्मान के आधार पर पाकिस्तान के साथ पारस्परिक रूप से लाभप्रद संबंध विकसित करने में अमेरिका का भी समर्थन करता है।
उन्होंने कहा,“हमारा मानना है कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ चीन और अमेरिका को नई पाकिस्तान सरकार का समर्थन करना चाहिए।”
श्री कुरैशी ने इस मौके पर कहा,“चीन और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय संबंधों के लिए आर्थिक संबंध बहुत महत्वपूर्ण घटक हैं। पाकिस्तान में चीन के निवेश, चीन-पाकिस्तान आर्थिक कोरिडोर(सीपीईसी)और एक बहुत ही बड़े द्विपक्षीय व्यापार जैसी आर्थिक गतिविधियों की एक विस्तृत श्रृंखला है। पिछले 10 वर्षों में हमारे बीच द्विपक्षीय व्यापार में वृद्धि हुई है।”
संजय आशा
वार्ता
image