Saturday, Feb 16 2019 | Time 17:49 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जेनरिक दवाओं के संबंध में दायर समीक्षा याचिका खारिज
  • फोटो कैप्शन-पहला सेट
  • सिंधू को हराकर सायना फिर बनीं राष्ट्रीय क्वीन
  • दो कारों की भिढ़ंत में दो लोगों की मौत, तीन घायल
  • जाम्बिया नौका दुर्घटना: छह और शव बरामद
  • मिशेल को झटका, जमानत याचिका खारिज
  • शहीद परिवारों को एक माह का वेतन देंगे विजेंद्र
  • मुख्यमंत्री ने किया कमला नेहरू अस्पताल के मातृ एवं शिशु स्वास्थय ब्लॉक का उद्घाटन
  • बयान को लेकर सिद्धू कपिल शर्मा शो से हुए बाहर
  • जम्मू-कश्मीर के छात्रों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी
  • शहीदों के परिवारों को अपनी पुरस्कार राशि देगी विदर्भ टीम
  • बयान को लेकर सिद्धू कपिल शर्मा शो से हुए बाहर
  • शहीद तिलक राज की राजकीय सम्मान के साथ अंत्येष्टि, पत्नी को मिलेगी नौकरी
  • शहीदों के बच्चों की शिक्षा का खर्च उठाएंगे सहवाग
  • दमन का अंधेरा जल्द ही छंटेगा-मरियम नवाज
दुनिया Share

आतंकवाद से लड़ने में पाकिस्तान की मदद करेगा चीन

इस्लामाबाद 09 सितंबर (वार्ता) भारत समेत दक्षिण एशिया के अमेरिका के उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल के दौरे के बाद चीन ने क्षेत्र में एक ‘महत्वपूर्ण विकासशीन देश’ के रूप में पाकिस्तान की प्रशंसा करते हुए रविवार को कहा कि बीजिंग आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में इस्लामाबाद का समर्थन करेगा।
चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के साथ संयुक्त मीडिया संबोधन में कहा,“यह ऐसा देश (पाकिस्तान) है जो इस्लामी जगत और अंतरराष्ट्रीय और क्षेत्रीय मामलों में विशेष प्रभाव ड़ालता है। साथ ही, पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय लड़ाई में भी भाग ले रहा है। हम आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई तथा सामाजिक-आर्थिक विकास और पड़ोसी देशों के साथ संबंधों के विकास में पाकिस्तान का समर्थन करेंगे।”
श्री वांग ने कहा,“वर्षों से, पाकिस्तान ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ने के लिए असीमित प्रयास किए हैं। अंतरराष्ट्रीय समुदाय को पाकिस्तान के बलिदान की सराहना करनी चाहिए ।” उन्होंने कहा कि चीन पाकिस्तान के साथ संचार और सहयोग में शामिल होने के सभी देशों का स्वागत करता है। चीन आपसी सम्मान के आधार पर पाकिस्तान के साथ पारस्परिक रूप से लाभप्रद संबंध विकसित करने में अमेरिका का भी समर्थन करता है।
उन्होंने कहा,“हमारा मानना है कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ चीन और अमेरिका को नई पाकिस्तान सरकार का समर्थन करना चाहिए।”
श्री कुरैशी ने इस मौके पर कहा,“चीन और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय संबंधों के लिए आर्थिक संबंध बहुत महत्वपूर्ण घटक हैं। पाकिस्तान में चीन के निवेश, चीन-पाकिस्तान आर्थिक कोरिडोर(सीपीईसी)और एक बहुत ही बड़े द्विपक्षीय व्यापार जैसी आर्थिक गतिविधियों की एक विस्तृत श्रृंखला है। पिछले 10 वर्षों में हमारे बीच द्विपक्षीय व्यापार में वृद्धि हुई है।”
संजय आशा
वार्ता
image