Wednesday, Nov 21 2018 | Time 18:21 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बिहार में 903 पशु चिकित्सकों की नियुक्ति शीघ्र : सुशील
  • आतंकी हमले में शहीद विजय कुमार की राजकीय सम्मान के साथ अंत्येष्टि
  • बारिश ने बिगाड़ा भारत का खेल, 4 रन से गंवाया मैच
  • बारिश ने बिगाड़ा भारत का खेल, 4 रन से गंवाया मैच
  • शिक्षक भर्ती की सीबीआई जाँच कराने के आदेश को चुनौती
  • निरंकारी भवन पर हमला करने वालों में से एक गिरफ्तार, दूसरे की तलाश जारी
  • चुनाव में 'डबल इंकमबेंसी' भाजपा को पड़ेगी महंगी: मोहन प्रकाश
  • चुनाव में 'डबल इंकमबेंसी' भाजपा को पड़ेगी महंगी: मोहन प्रकाश
  • चुनाव में 'डबल इंकमबेंसी' भाजपा को पड़ेगी महंगी: मोहन प्रकाश
  • पैनासोनिक ने आईओटी समाधान ‘सीकिट’ किया लॉन्च
  • भंडारण निगम देश की खाद्य सुरक्षा में अधिकाधिक योगदान करें: खट्टर
  • सिख श्रद्धालुओं का जत्था पाकिस्तान रवाना
  • पोखरी में गुरुवार को पुनर्मतदान
  • त्रिपुरा उच्च न्यायालय ने सीबीआई को जांच शुरू करने के दिये आदेश
  • बागी उम्मीदवारों को जल्द मना लिया जायेगा: कांग्रेस
दुनिया Share

आतंकवाद से लड़ने में पाकिस्तान की मदद करेगा चीन

इस्लामाबाद 09 सितंबर (वार्ता) भारत समेत दक्षिण एशिया के अमेरिका के उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल के दौरे के बाद चीन ने क्षेत्र में एक ‘महत्वपूर्ण विकासशीन देश’ के रूप में पाकिस्तान की प्रशंसा करते हुए रविवार को कहा कि बीजिंग आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में इस्लामाबाद का समर्थन करेगा।
चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के साथ संयुक्त मीडिया संबोधन में कहा,“यह ऐसा देश (पाकिस्तान) है जो इस्लामी जगत और अंतरराष्ट्रीय और क्षेत्रीय मामलों में विशेष प्रभाव ड़ालता है। साथ ही, पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय लड़ाई में भी भाग ले रहा है। हम आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई तथा सामाजिक-आर्थिक विकास और पड़ोसी देशों के साथ संबंधों के विकास में पाकिस्तान का समर्थन करेंगे।”
श्री वांग ने कहा,“वर्षों से, पाकिस्तान ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ने के लिए असीमित प्रयास किए हैं। अंतरराष्ट्रीय समुदाय को पाकिस्तान के बलिदान की सराहना करनी चाहिए ।” उन्होंने कहा कि चीन पाकिस्तान के साथ संचार और सहयोग में शामिल होने के सभी देशों का स्वागत करता है। चीन आपसी सम्मान के आधार पर पाकिस्तान के साथ पारस्परिक रूप से लाभप्रद संबंध विकसित करने में अमेरिका का भी समर्थन करता है।
उन्होंने कहा,“हमारा मानना है कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ चीन और अमेरिका को नई पाकिस्तान सरकार का समर्थन करना चाहिए।”
श्री कुरैशी ने इस मौके पर कहा,“चीन और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय संबंधों के लिए आर्थिक संबंध बहुत महत्वपूर्ण घटक हैं। पाकिस्तान में चीन के निवेश, चीन-पाकिस्तान आर्थिक कोरिडोर(सीपीईसी)और एक बहुत ही बड़े द्विपक्षीय व्यापार जैसी आर्थिक गतिविधियों की एक विस्तृत श्रृंखला है। पिछले 10 वर्षों में हमारे बीच द्विपक्षीय व्यापार में वृद्धि हुई है।”
संजय आशा
वार्ता
image