Monday, Aug 19 2019 | Time 16:04 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अयोध्या विवाद: जस्टिस बोबडे बीमार, नहीं हुई सुनवाई
  • मेदवेदेव और कीस ने जीता सिनसिनाटी खिताब
  • हिमा, अनस ने एथलेटिकी मिटिंक में जीते स्वर्ण
  • बलिया में मनायी गयी आजादी की 77वीं वर्षगांठ
  • पीसीबी को मेल भेज भारतीय टीम को हमले की धमकी
  • भूस्खलन और अतिवृष्टि से 14 की मौत, 06 लापता
  • गुजराती सावन के तीसरे सोमवार को भक्तों ने की विशेष पूजा
  • मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री के विरुद्ध सुनवाई स्थगित
  • मंगलवार को चंद्रमा की कक्षा में पहुँच जायेगा चंद्रयान
  • तेजपाल को सुप्रीम कोर्ट से नहीं मिली राहत
  • कांस्टेबल ने बहादुरी दिखाते हुए एक व्यक्ति को डूबने से बचाया
  • अहमदाबाद में बस में लगी आग
  • अफगानिस्तान में फिर हुए कई विस्फोट, 16 घायल
  • दिल्ली में बाढ़ का खतरा: अगले 48 घंटे खतरे की घंटी: केजरीवाल
  • पुलिस के हथियारों को जब्त करने की खबर फर्जी: काबरा
दुनिया


मलेशिया जाकिर नाइक को और पनाह देने का इच्छुक नहीं: मोहम्मद

कुआलालम्पुर ,14 अगस्त (वार्ता) मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद ने साफ किया है कि वह विवादित मुस्लिम धर्म उपदेशक जाकिर नाइक को अपने देश में रखना नहीं चाहते हैं लेकिन अगर कोई और देश उसे अपने यहां पनाह देना चाहता है तो इसका स्वागत है।
जाकिर ने हाल ही में बयान दिया था कि मलेशिया में रहने वाले हिंदू मलेशियाई प्रधानमंत्री से ज्यादा भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वफादार हैं। उसके इस बयान के बाद से दक्षिण पूर्व एशियाई देशों की जाकिर के प्रत्यर्पण की मांग बढ़ गयी है। श्री मोहम्मद ने बुधवार को कहा,“ इसलिए वह यहां है। लेकिन अगर कोई देश उसे अपने यहां रखना चाहता है तो उसका स्वागत है।”

बर्नमा न्यूज एजेंसी के अनुसार जाकिर के हिन्दू वाले बयान के बारे में पूछे जाने पर प्रधानमंत्री ने कहा,“ इसके बारे में आप हिन्दुओं से पूछे। मुझसे क्यों पूछ रहे हैं।”
मलेशियाई सरकार अब नाइक से खासी नाराज है। मानव संसाधन मंत्री एम कुलासेगरन ने हिंदुओं पर सवाल उठाने वाले जाकिर पर तुरंत कार्रवाई की मांग है।श्री कुलासेगरन ने एक बयान जारी कर कहा कि जाकिर एक बाहरी व्यक्ति है। वह एक भगोड़ा है और उसे मलेशियाई इतिहास की बहुत कम जानकारी है, इसलिए उसे मलेशियाई लोगों को नीचा दिखाने जैसा विशेषाधिकार नहीं दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा,“ जाकिर नाइक का यह बयान किसी भी तरह से मलयेशिया के स्थायी निवासी होने के पैमाने पर खरा नहीं उतरता है। इस मुद्दे को अगली कैबिनेट बैठक में उठाया जाएगा।”

जाकिर पहले भी अपने विवादित बयानों को लेकर खबरों में बना रहा है। भारत से भागने के बाद से वह मलयेशिया में रह रहा है। उस पर मनी लॉन्ड्रिंग और आतंकवाद को बढ़ावा देने के आरोप हैं। श्री कुलासेगरन ने मंगलवार को पत्र जारी कर जाकिर को भारत को सौंपने की गुहार लगाई थी। उन्होंने कहा कि जाकिर मलयेशिया के कर दाताओं के पैसे पर मौज कर रहा है। श्री मोहम्मद पहले जाकिर के प्रत्यर्पण से इनकार कर चुके है। लेकिन इस बार उनके देश में जाकिर का विरोध तेज हो गया है।
भारत ने इस वर्ष जून में मलेशिया से जाकिर के प्रत्यर्पण की औपचारिक रूप से मांग की थी। विदेश मंत्रालय ने कहा, है“ मलेशिया सरकार से जाकिर के प्रत्यर्पण के मसले पर बातचीत की जायेगी।”
आशा जितेन्द्र
वार्ता
More News
कश्मीर भारत और पाकिस्तान का द्विपक्षीय मुद्दा: अफगानिस्तान

कश्मीर भारत और पाकिस्तान का द्विपक्षीय मुद्दा: अफगानिस्तान

19 Aug 2019 | 2:05 PM

काबुल 19 अगस्त (वार्ता) अफगानिस्तान ने कश्मीर मामले पर एक बार फिर पाकिस्तान की खिंचायी करते हुए इसे भारत और पाकिस्तान का द्विपक्षीय मुद्दा करार दिया है।

see more..
एंटोनियो गुटेरस से मिलेंगे माइक पोम्पियो

एंटोनियो गुटेरस से मिलेंगे माइक पोम्पियो

19 Aug 2019 | 10:32 AM

वाशिंगटन 19 अगस्त (स्पूतनिक) अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो 20 अगस्त को संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरस के साथ मुलाकात करेंगे तथा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद(यूएनएससी) की बैठक में शामिल होंगे।

see more..
काबुल में आत्मघाती हमले की अमेरिका ने की निंदा

काबुल में आत्मघाती हमले की अमेरिका ने की निंदा

19 Aug 2019 | 10:28 AM

वाशिंगटन 19 अगस्त (स्पूतनिक) अमेरिका ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक ‘वेडिंग हॉल’ में हुए आत्मघाती हमले की निंदा की है।

see more..
पश्चिमी प्रशांत महासागर में भूकंप के झटके

पश्चिमी प्रशांत महासागर में भूकंप के झटके

19 Aug 2019 | 9:57 AM

मॉस्को 19 अगस्त (स्पूतनिक) प्रशांत महासागर में उत्तरी मरियना द्वीप में रविवार की शाम भूकंप के झटके महसूस किये गये।

see more..
image