Tuesday, Nov 20 2018 | Time 19:57 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • चुनाव प्रचार नहीं करने के लिए कांग्रेस नेता ने की 25 लाख की पेशकश: आेवैसी
  • केजरीवाल पर युवक ने मिर्ची पाउडर फेंका सियासत शुरु
  • कांग्रेस की बारात तो सज गयी, दूल्हे का पता नहीं : राजनाथ
  • बिजली दरों में कटौती पर भाकियू ने किया मुख्यमंत्री का आभार
  • कानूनी राय लेने के बाद मराठा आरक्षण के संबंध में रिपोर्ट सदन में रखी जायेगी
  • बक्सर में पीपा पुल का निर्माण इस माह के अंत तक शुरु होगा:चौबे
  • छत्तीसगढ़ में दूसरे एवं आखिरी चरण में 72 प्रतिशत से अधिक मतदान
  • राजस्थान में 613 नामांकन रद्द
  • निगम -विहिप संघर्ष मामले की जांच के लिए टीम का गठन :मंडलायुक्त
  • सिख दंगों के एक मामले में एक को फांसी, दूसरे को आजीवन कारावास 35 35 लाख रुपए जुर्माना
  • झारखंड विद्युत प्रणाली सुधार परियोजना के लिए विश्व बैंक देगा 31 करोड़ डॉलर का ऋण
  • आप या बसपा के साथ गठबंधन पर कर रहे हैं विचार: दिग्विजय
  • फूजी फिल्म का दिल्ली एनसीआर में ग्राफिक आर्ट्स डेमो सेंटर शुरू
  • तुर्की में 195 गुलेन समर्थकों की गिफ्तारी का वारंट जारी
  • उप्र में बारावफात के मौके पर सुरक्षा व्यवस्था बनाये रखने के निर्देश
राज्य Share

नीतीश सीटों की सौदेबाजी में व्यस्त,भूख से मर रही है बच्चियां-तेजस्वी

नीतीश सीटों की सौदेबाजी में व्यस्त,भूख से मर रही है बच्चियां-तेजस्वी

पटना 12 सितम्बर (वार्ता) बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने बक्सर जिले के डुमरांव में भूख से दलित परिवार की दो बच्चियों की हुयी मौत के लिये मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जिम्मेवार ठहराया और कहा कि श्री कुमार लोकसभा चुनाव को लेकर सीटों की सौदेबाजी में लगे हैं और इसी चक्कर में राज्य को भगवान भरोसे छोड़ दिया है।

राष्ट्रीय जनता दल(राजद) के वरिष्ठ नेता श्री यादव ने आज यहां अपने सरकारी आवास पर आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि बक्सर जिले के डुमरांव में भूख से दलित परिवार की दो बच्चियों की मौत पिछले दिनों हुयी थी । पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सांसद जगदानंद सिंह के नेतृत्व में राजद की एक जांच कमिटी गयी थी और पूरे मामले की सच्चाई से अवगत हुयी है । उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कुमार को यह बताना चाहिए कि बिहार में विकास हुआ है तो फिर दो दलित बच्चियों की भूख से मौत कैसे हुयी ।

प्रतिपक्ष के नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को भी यह बताना चाहिए कि क्या यही अच्छे दिन हैं कि भूख से दो बच्चियों की मौत हो गयी । राज्य सरकार ने दावा किया है कि भूख से मौत नहीं हुयी है तो फिर ऐसे में बक्सर जिला प्रशासन ने मौत के बाद उस परिवार को चावल-गेहूं क्यों मुहैया कराया। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की गलत नीतियों के कारण रोजगार गारंटी योजना के तहत पीड़ित परिवार को रोजगार नहीं मिल सका ।

उपाध्याय शिवा रमेश

जारी वार्ता

More News
बक्सर में पीपा पुल का निर्माण इस माह के अंत तक शुरु होगा:चौबे

बक्सर में पीपा पुल का निर्माण इस माह के अंत तक शुरु होगा:चौबे

20 Nov 2018 | 7:56 PM

पटना 20 नवम्बर (वार्ता) केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने आज कहा कि 12 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले बक्सर पीपा पुल का निर्माण कार्य इस माह के अंत तक शुरु हो जायेगा।

 Sharesee more..

20 Nov 2018 | 7:55 PM

 Sharesee more..

किशोरी की हत्या के आरोपी को आजीवन कारावास

20 Nov 2018 | 7:54 PM

 Sharesee more..
image