Thursday, Jan 24 2019 | Time 15:52 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • असम के तीन व्याख्याता सड़क हादसे के शिकार
  • शोपियां में दूसरे दिन भी रहा जनजीवन प्रभावित
  • सिंधू और श्रीकांत क्वार्टरफाइनल में
  • बॉलीवुड अभिनेता यशपाल शर्मा बनाएंगे कवि पं0 लख्मी चंद की बायोपिक
  • राजकोट में पुलिस ने किये दो फर्जी डॉक्टर गिरफ्तार
  • गैस सिलेंडर विस्फोट से पांच झुलसे
  • 27वां कन्वर्जेंस इंडिया एक्सपो 29जनवरी से दिल्ली में
  • कांग्रेस विधायक आनंद सिंह को नेत्र अस्पताल में कराया गया भर्ती
  • ओसाका और क्वितोवा में होगा खिताबी मुकाबला
  • आतंकियों से लौहा लेने वाले कश्मीर के लांस नायक वानी को अशोक चक्र
  • सरगोधा में पोलियो का ड्राप पिलाने गई दो महिलाओं को ताले में किया बंद
  • मतपत्रों से चुनाव कराना संभव नहीं है: चुनाव आयोग
  • कांग्रेस के प्रस्ताव पर विचार कर रहे हैं गौर
  • लक्ष्मीबाई के किरदार को कंगना ने किया अमर: मनोज कुमार
राज्य Share

नीतीश ने किया बहुउद्देशीय प्रकाश केंद्र एवं उद्यान योजना का कार्य आरंभ

नीतीश ने किया बहुउद्देशीय प्रकाश केंद्र एवं उद्यान योजना का कार्य आरंभ

पटना 09 सितंबर (वार्ता) बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सिखों के दसवें गुरू गोविंद सिंह की 350वीं जयंती के अवसर पर बहुउद्देशीय प्रकाश केंद्र एवं उद्यान योजना का कार्य आरंभ करते हुये आज कहा कि इस केंद्र का नाम प्रकाश पुंज रखा जाना चाहिए।

श्री कुमार ने यहां गुरू का बाग, बाजार समिति परिसर, पटना साहिब में बहुउद्देशीय प्रकाश केंद्र एवं उद्यान योजना का रिमोट के माध्यम से कार्य आरंभ किया। उन्होंने कहा कि इसका नामकरण प्रकाश पुंज होना चाहिए। यहां चार द्वार बनेंगे, जिनके नाम बाबा अजीत सिंह द्वार, बाबा फतेह सिंह द्वार, बाबा जुझार सिंह द्वार और बाबा जोरावर सिंह द्वार होंगे। इसके अलावा यहां पाच तख्त होंगे और उनके नाम तख्त श्री पौता साहिब, तख्त श्री नांदेड़ साहिब, तख्त श्री केशगढ़ साहिब, तख्त श्री हेमकुंड साहिब होंगे। इसका तलहट होगा तख्त श्री पटना साहिब।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रकाश पुंज का निरीक्षण करने वालों को सिख धर्म और गुरु गोविन्द सिंह जी महाराज के विषय में महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकेगी। इसका नाम प्रकाश पुंज रखने के पीछे मकसद है कि यह ज्ञान की भूमि है। उन्होंने कहा कि 54.16 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले इस केंद्र एवं उद्यान का निर्माण कार्य 18 माह के अंदर पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उनकी इच्छा है कि 14 महीने बाद 2020 में होने वाले प्रकाश पर्व से पहले इसका काम पूर्ण कर लिया जाए ताकि उस समय इसका उद्घाटन किया जा सके।

सूरज उमेश

जारी (वार्ता)

More News

असम के तीन व्याख्याता सड़क हादसे के शिकार

24 Jan 2019 | 3:46 PM

 Sharesee more..
अमरिंदर तथा मोदी ने किया एक लाख दलित छात्रों का भविष्य तबाह :आप

अमरिंदर तथा मोदी ने किया एक लाख दलित छात्रों का भविष्य तबाह :आप

24 Jan 2019 | 3:43 PM

चंडीगढ़, 24 जनवरी (वार्ता) पंजाब आम आदमी पार्टी (आप) ने कहा है कि केन्द्र और पंजाब सरकार की ढुलमुल नीति के कारण दलित तथा पिछड़े वर्ग के एक लाख से अधिक छात्र वजीफा न मिलने से दाखिले से वंचित रह गये हैं।

 Sharesee more..

गौ की सेवा पुनीत कार्य है-घनघोरिया

24 Jan 2019 | 3:42 PM

 Sharesee more..
image