Sunday, Nov 17 2019 | Time 12:49 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तमांग ने की पत्रकारों के लिए चार नये पुरस्कारों की घोषणा
  • साहित्यकार लक्ष्मण राव, रमेश चंद्र सम्मानित
  • हांगकांग पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस छोड़े
  • केरल में सड़क हादसे में तीन लोगों की मौत, एक घायल
  • अमेरिकी महावाणिज्य दूतावास ने अपने कर्मचारियों की गतिविधियां प्रतिबंधित की
  • कार-कंटेनर भिडंत में पांच की मौत, एक घायल
  • साइज और कलर को लेकर असहज महसूस नहीं करती हैं भूमि पेडनेकर
  • विद्या बालन ने रीक्रिएट किया गोलमाल का आइकॉनिक सीन
  • हर प्रोजेक्ट में शत प्रतिशत देने की कोशिश करती हूँ: वाणी कपूर
  • फुटवियर की शौकीन हैं कृति खरबंदा
  • अर्जुन कपूर ने शुरू की नयी फिल्म की शूटिंग
  • दबंग 3 और राधे को डिस्ट्रिब्यूट करने की योजना बना रहे हैं सलमान
  • साइज और कलर को लेकर असहज महसूस नहीं करती हैं भूमि पेडनेकर
  • साइज और कलर को लेकर असहज महसूस नहीं करती हैं भूमि पेडनेकर
  • विद्या बालन ने रीक्रिएट किया गोलमाल का आइकॉनिक सीन
मनोरंजन » जानीमानी हस्तियों का जन्म दिन


रेलवे ड्राइवर बनना चाहते थे ओमपुरी

रेलवे ड्राइवर बनना चाहते थे ओमपुरी

..जन्मदिन 18 अक्टूबर  ..
मुंबई 17 अक्टूबर (वार्ता)भारतीय सिनेमा जगत में अपने दमदार अभिनय और संवाद अदायगी से ओमपुरी ने लगभग तीन दशक से दर्शको को अपना दीवाना बनाया है लेकिन कम लोगो को पता होगा कि वह अभिनेता नही बल्कि रेलवे ड्राइवर बनना चाहते थे ।

हरियाणा के अंबाला में 18 अक्टूबर 1950 को जन्में ओम पुरी का बचपन काफी कष्टो में बीता।
परिवार की जरूरतों को पूरा करने के लिये उन्हें एक ढाबें में नौकरी तक करनी पड़ी थी।
लेकिन कुछ दिनां बाद ढाबे के मालिक ने उन्हें चोरी का आरोप लगाकर हटा दिया।
बचपन में ओमपुरी जिस मकान में रहते थे उससे पीछे एक रेलेवे यार्ड था।
रात के समय ओमपुरी अक्सर घर से भागकर रेलवे यार्ड में जाकर किसी ट्रेन में सोने चले जाते थे।
उन दिनों उन्हें ट्रेन से काफी लगाव था और वह सोंचा करते कि बड़े होने पर वह रेलवे ड्राइवर बनेंगे।
कुछ समय के बाद ओमपुरी अपने ननिहाल पंजाब के पटियाला चले आये जहां उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी की।

इस दौरान उनका रूझान अभिनय की ओर हो गया और वह नाटकों में हिस्सा लेने लगे।
इसके बाद ओम पुरी ने खालसा कॉलेज में दाखिला ले लिया।
इस दौरान ओमपुरी एक वकील के यहां बतौर मुंशी काम करने लगे।
इस बीच एक बार नाटक में हिस्सा लेने के कारण वह वकील के यहां काम पर नही गये।
बाद में वकील ने नाराज होकर उन्हें नौकरी से हटा दिया।
जब इस बात का पता कॉलेज के प्राचार्य को चला तो उन्होंने ओमपुरी को कैमिस्ट्री लैब में सहायक की नौकरी दे दी।
इस दौरान ओमपुरी कॉलेज में हो रहे नाटकों में हिस्सा लेते रहे।
यहां उनकी मुलाकात हरपाल और नीना तिवाना से हुई जिनके सहयोग से वह पंजाब कला मंच नामक नाट्य संस्था से जुड़ गए।

लगभग तीन वर्ष तक पंजाब कला मंच से जुड़े रहने के बाद ओमपुरी ने दिल्ली में राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय में दाखिला ले लिया।
इसके बाद अभिनेता बनने का सपना लेकर उन्होंने पुणे फिल्म संस्थान में दाखिला ले लिया।
वर्ष 1976 में पुणे फिल्म संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद ओमपुरी ने लगभग डेढ़ वर्ष तक एक स्टूडियो में अभिनय की शिक्षा भी दी।
बाद में ओमपुरी ने अपने निजी थिएटर ग्रुप ‘मजमा’ की स्थापना की।
ओमपुरी ने अपने सिने करियर की शुरूआत वर्ष 1976 में प्रदर्शित फिल्म ‘घासीराम कोतवाल’ से की।
मराठी नाटक पर बनी इस फिल्म में ओमपुरी ने घासीराम का किरदार निभाया था।
इसके बाद ओमपुरी ने गोधूलि, भूमिका, भूख, शायद, सांच को आंच नही जैसी कला फिल्मों में अभिनय किया लेकिन इससे उन्हें कोई खास फायदा नही पहुंचा।

वर्ष 1980 में प्रदर्शित फिल्म ‘आक्रोश’ ओम पुरी के सिने करियर की पहली हिट फिल्म साबित हुयी।
गोविन्द निहलानी निर्देशित इस फिल्म में ओम पुरी ने एक ऐसे व्यक्ति का किरदार निभाया जिस पर पत्नी की हत्या का आरोप
लगाया जाता है।
फिल्म में अपने दमदार अभिनय के लिये ओमपुरी सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता के फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित किये गये।

वर्ष 1983 में प्रदर्शित फिल्म ‘अर्धसत्य’ ओमपुरी के सिने करियर की महत्वपूर्ण फिल्मों में गिनी जाती है।
फिल्म में ओमपुरी ने एक पुलिस इंस्पेक्टर की भूमिका निभाई थी।
फिल्म में अपने विद्रोही तेवर के कारण ओमपुरी दर्शकों के बीच काफी सराहे गये।
फिल्म में अपने दमदार अभिनय के लिये वह सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के राष्ट्रीय पुरस्कार से भी सम्मानित किये गये।

अस्सी के दशक के आखिरी वर्षो में ओमपुरी ने व्यावसायिक सिनेमा की ओर भी अपना रूख कर लिया।
हिंदी फिल्मों के अलावा ओमपुरी ने पंजाबी फिल्मों में भी अभिनय किया है।
दर्शको की पसंद को ध्यान में रखते हुये नब्बे के
दशक में ओमपुरी ने छोटे पर्दे की ओर भी रूख किया और ‘कक्काजी कहिन’ में अपने हास्य अभिनय से दर्शकों को दीवाना बना दिया।
ओमपुरी ने अपने करियर में कई हॉलीवुड फिल्मों में भी अभिनय किया है।
इन फिल्मों में ‘ईस्ट इज ईस्ट’, ‘माई सन द फैनेटिक’, ‘द पैरोल ऑफिसर’, ‘सिटी ऑफ जॉय’, ‘वोल्फ’, ‘द घोस्ट एंड द डार्कनेस’, ‘चार्ली विल्सन वार’ जैसी फिल्में शामिल हैं।
भारतीय सिनेमा में उनके योगदान को देखते हुए 1990 में उन्हें पदमश्री से अलंकृत किया गया।

ओमपुरी ने अपने चार दशक लंबे सिने करियर में लगभग 200 फिल्मों में अभिनय किया।
उनके करियर की उल्लेखनीय फिल्मों में कुछ है ..अल्बर्ट पिंटो को गुस्सा क्यों आता है, स्पर्श, कलयुग, विजेता, गांधी, मंडी, डिस्को डांसर, गिद्ध, होली, पार्टी, मिर्च मसाला, कर्मयोद्धा, द्रोहकाल, कृष्णा, माचिस, घातक, गुप्त, आस्था, चाची 420, चाइना गेट, पुकार, हेराफेरी, कुरूक्षेत्र, पिता, देव, युवा, हंगामा, मालामाल वीकली, सिंह इज किंग, बोलो राम आदि।
अपने संजीदा अभिनय से दर्शकों को मंत्रमुग्ध करने वाले ओमपुरी छह जनवरी 2017 को इस दुनिया को अलविदा कह गये।

 

साइज

साइज और कलर को लेकर असहज महसूस नहीं करती हैं भूमि पेडनेकर

मुंबई 17 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर का कहना है कि वह कभी भी अपने साइज और कलर को लेकर असहज महसूस नहीं करती हैं।

अजय

अजय देवगन को लेकर ‘दीवानगी’ का रीमेक बनाएंगे अनीस बज्मी

मुंबई 16 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड के जाने-माने निर्देशक अनीस बज्मी सिंघम स्टार अजय देवगन को लेकर दीवानगी का रीमेक बनाने जा रहे हैं।

दबंग

दबंग 3 और राधे को डिस्ट्रिब्यूट करने की योजना बना रहे हैं सलमान

मुंबई 17 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड के दबंग स्टार सलमान खान अपनी आने वाली फिल्म दबंग 3 और राधे को डिस्ट्रिब्यूट करने की योजना बना रहे हैं।

सानिया

सानिया नेहवाल की शूटिंग के दौरान चोटिल हुईं परिणीति चोपड़ा

मुंबई 16 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री परिणीति चोपड़ा बैडमिंटन स्टार सायना नेहवाल की बायोपिक की शूटिंग के दौरान चोटिल हो गयी हैं।

अर्जुन

अर्जुन कपूर ने शुरू की नयी फिल्म की शूटिंग

मुंबई 17 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता अर्जुन कपूर ने अपनी नयी फिल्म की शूटिंग शुरू कर दी है।

ब्लाइंड

ब्लाइंड के रीमेक में काम करेंगी सोनम कपूर

मुंबई 16 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री सोनम कपूर कोरियाई फिल्म ब्लाइंड के रीमेक में काम करने जा रही हैं।

फुटवियर

फुटवियर की शौकीन हैं कृति खरबंदा

मुंबई 17 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री कृति खरबंदा फुटवियर की शौकीन है और उनके पास इसके 100 से भी ज्यादा कलेक्शन है।

भागमती

भागमती का रीमेक बनायेंगे अक्षय कुमार

मुंबई 16 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड के खिलाड़ी कुमार सुपरहिट तेलुगू फिल्म ‘भागमती’ का रीमेक बनाने जा रहे हैं1
बॉलीवुड में चर्चा है कि अक्षय कुमार सुपरहिट तेलुगू फिल्म भागमती का हिंदी रीमेक बनाने जा रहे हैं।

हर

हर प्रोजेक्ट में शत प्रतिशत देने की कोशिश करती हूँ : वाणी कपूर

मुंबई 17 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री वाणी कपूर का कहना है कि वह अपनी हर फिल्म में शत-प्रतिशत देने की कोशिश करती है।

खलनायक

खलनायक का सीक्वल बनायेंगे संजय दत्त

मुंबई 15 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त अपनी सुपरहिट फिल्म खलनायक का सीक्वल बनाना चाहते हैं।

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

नयी दिल्ली 15 जनवरी (वार्ता) दिल्ली में भी फिल्म उद्योग स्थापित करने के मकसद से पहले डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह एवं विपणन 2019 की कल रात यहां देश-विदेश के फिल्मी जगत के लोगों की मौजूदगी में शुरूआत हुयी।

पार्श्वगायिका बनना चाहती थीं पद्मिनी कोल्हापुरी

पार्श्वगायिका बनना चाहती थीं पद्मिनी कोल्हापुरी

..जन्मदिन 01 नवंबर के अवसर पर ..
मुंबई 31 अक्टूबर (वार्ता) बॉलीवुड में अपनी दिलकश अदाओं से अभिनेत्री पद्मिनी कोल्हापुरी ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया लेकिन वह फिल्म अभिनेत्री न बनकर पार्श्वगायिका बनना चाहती थीं ।

image