Thursday, Jul 18 2019 | Time 02:46 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बंदूकधारी ने की संरा शांतिसैनिक सहित सात लोगों की हत्या
  • आईसीजे का फैसला जाधव के परिवार के लिए उम्मीदों भरा है :राहुल
  • हाफिज सईद की गिरफ्तारी पर ट्रंप ने दी प्रतिक्रिया
राज्य


कोलकाता में माझेरहाट पुल गिरा, एक मरा, 19 घायल

कोलकाता में माझेरहाट पुल गिरा, एक मरा, 19 घायल

कोलकाता 04 सितंबर (वार्ता) कोलकाता के तारातला में मंगलवार को माझेरहाट पुल का एक हिस्सा गिर जाने से कम से कम एक व्यक्ति की मौत हो गयी और 19 अन्य घायल हो गये जिनमें से कुछ की हालत गंभीर है, कई लोग अब भी पुल के टूटे हिस्से के नीचे दबे हुए हैं।

दार्जिलिंग के दौरे पर गयीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हादसे में एक व्यक्ति के मारे जाने और 19 लोगों के घायल होने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि पुल गिरने से उसके नीचे बनी झुग्गी बस्ती में रह रहे छह मजदूर फंस गये जिनमें से दो को निकाल लिया गया है। शेष मजदूरों को निकालने के लिये बचाव दल युद्ध स्तर पर काम कर रहे हैं। ये मजदूर मेट्रो परियोजना पर काम कर रहे थे।

सुश्री बनर्जी ने हादसे की जानकारी मिलते ही कोलकाता लौटने का निर्णय लिया लेकिन बागडोगरा हवाई अड्डे से कोई उड़ान उपलब्ध नहीं होने के कारण उनकी वापसी के लिए वैकल्पिक इंतजाम किये जा रहे हैं। वह कल सुबह कोलकाता पहुंचेंगी। उन्होंने घटना की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिये हैं।

सभी घायलों को एसएसकेएम और सीएमआरआई अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। पुल लोक निर्माण विभाग की निगरानी में है।

इससे पहले राज्य सचिवालय नाबन्ना ने पांच लोगों के मरने और नौ लोगों के घायल होने की जानकारी दी थी।

राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी भी राहत एवं बचाव कार्य का जायजा लेने के लिए घटनास्थल पर पहुंच गये हैं। उन्होंने भी उच्च स्तरीय जांच और पुलों की बेहतर देखरेख की बात कही।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है। यह पुल लोकनिर्माण विभाग की निगरानी में था और आरोप लगाये जा रहे हैं कि इसकी लंबे समय से देखरेख नहीं की गयी थी।

पुलिस आयुक्त राजीव कुमार, पुलिस महानिदेशक सुरजीत पुरकायस्थ और बंगाल के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम समेत कई मंत्री राहत अभियान की निगरानी कर रहे हैं।

दुर्घटना के समय पुल से एक मिनी बस समेत कई वाहन गुजर रहे थे, जो पुल का हिस्सा टूटते ही उसके नीचे नहर में गिर गये। सेना, पुलिस और आपदा प्रबंधन की टीम घटनास्थल पर पहंच गयी है और राहत एवं बचाव अभियान शुरू कर दिया है।

पुल का लगभग 200 और 250 फुट हिस्सा गिर गया है और कई लोग एवं वाहन उसके नीचे दब गये हैं।

अग्निशमन विभाग के क्रेन को बचाव कार्य में लगा दिया गया है और अब तक कम से कम 25 लाेगों काे सुरक्षित निकाल लिया गया है।

शाम ढलने और बारिश शुरू होने के कारण राहत एवं बचाव अभियान में मुश्किलें आ रही हैं।

हादसे के कारण सियालदह-बज बल खंड और सर्कुलर रेल सेवा बंद कर दी गयी है। इकबालपुर और बेहाला के बीच सड़क संपर्क पूरी तरह अवरूद्ध हाे गया है।

गौरतलब है कि मार्च 2016 में भी राजधानी में निर्माणाधीन विवेकानंद फ्लाइओवर का एक गार्टर गिर जाने से 27 लोगों की मौत हो गयी थी और 80 से अधिक घायल हो गये थे।

यामिनी आशा

वार्ता

More News
बेरोजगार आशार्थियों को 122.43 करोड़ रुपए वितरित-चांदना

बेरोजगार आशार्थियों को 122.43 करोड़ रुपए वितरित-चांदना

17 Jul 2019 | 11:35 PM

जयपुर, 17 जुलाई (वार्ता) राजस्थान में अक्षत योजना के तहत राज्य में पात्र स्नातक बेरोजगारों में गत दिसम्बर तक एक लाख 53 हजार 657 आशार्थियों को 122.

see more..
देश की तरक्की के लिए गांवों का स्मार्ट होना जरूरी-सिंह

देश की तरक्की के लिए गांवों का स्मार्ट होना जरूरी-सिंह

17 Jul 2019 | 11:29 PM

जोधपुर 17 जुलाई (वार्ता) राजस्थान के राज्यपाल कल्याणसिंह ने कहा है कि देश की तरक्की के लिए गांव का स्मार्ट होना जरूरी है। इसके लिए ध्येय और जज्बा जरूरी है।

see more..
विधायक एक वर्ष में एक हजार पेड़ लगाने का ले संकल्प-पारीक

विधायक एक वर्ष में एक हजार पेड़ लगाने का ले संकल्प-पारीक

17 Jul 2019 | 11:25 PM

जयपुर 17 जुलाई (वार्ता) राजस्थान विधानसभा के सभापति राजेन्द्र पारीक ने आज विधानसभा में कहा कि पर्यावरण को बचाने के उद्देश्य से हर विधायक को एक वर्ष में अपने विधानसभा क्षेत्र में एक हजार पेड़ लगाने का संकल्प लेना चाहिए।

see more..
चिकित्सकों के 737 पदों पर भर्ती के लिए मिली वित्तीय स्वीकृति-शर्मा

चिकित्सकों के 737 पदों पर भर्ती के लिए मिली वित्तीय स्वीकृति-शर्मा

17 Jul 2019 | 11:14 PM

जयपुर 17 जुलाई (वार्ता) राजस्थान के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि 737 चिकित्सकों की नई भर्ती के लिए वित्तीय स्वीकृति मिली है तथा इन पदों पर भर्ती के लिए राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय को पत्र लिख दिया गया है।

see more..
image