Thursday, May 28 2020 | Time 08:56 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • चीन ने की मेंग को हिरासत में लिये जाने की निंदा
  • कोरोना काल में विदेशी विद्वानों ने किया प्रेमचंद को याद
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 29 मई)
  • अमेरिका रुस को 150 और वेंटिलेंटर भेजेगा
  • कोरोना वायरस से दुनियाभर में 3 49 लाख लोगों की मौत
  • ओमान में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 8373 हुई
  • अमेरिका में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा एक लाख के पार पहुंचा
  • तुर्की में कोरोना के 1035 मामले सामने आए
  • पोंपियो ने इंडोनेशिया के विदेश मंत्री से आर्थिक सहयोग पर की चर्चा
  • रुस में फंसे 200 फिलिस्तीनी छात्र दो सप्ताह के अंदर घर लौटेंगे : नोफल
  • मुम्बई से 1825 प्रवासी उत्तराखंडी विशेष ट्रेन से लालकुआं पहुंचे
  • वाशिंगटन में 29 मई से पाबंदियां हटेंगी ः बोसेर
  • यूएई में कोरोना के 883 नए मामले सामने आए, कुल 31969 संक्रमित
  • इटली में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 33072 हुआ
  • राजस्थान सरकार ने रेल किराया देने से मना किया तो बिहार ने किया एक करोड़ का भुगतान : सुशील
खेल


भारतीय कबड्डी के पतन की सूत्रधार एक भारतीय

भारतीय कबड्डी के पतन की सूत्रधार एक भारतीय

जकार्ता, 25 अगस्त (वार्ता) एशियाई खेलों में कबड्डी के इतिहास में पिछले 28 वर्षाें में यह पहली बार है जब भारतीय टीमें स्वर्ण पदक के बिना स्वदेश लौटेंगी। भारतीय कबड्डी के इस पतन में किसी और की नहीं बल्कि एक भारतीय कोच की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

महाराष्ट्र के नासिक जिले की शैलजा जैन ने लगभग 30 साल का समय अपने राज्य में सैंकड़ों बच्चों को कबड्डी सिखाते हुये गुजारा था लेकिन उन्हें कभी भी भारतीय राष्ट्रीय टीम की अगुवाई करने का मौका नहीं मिला। यह बात हमेशा शैलजा को बहुत चुभती रही और इसी चुभन का नतीजा है कि दो बार की चैंपियन भारतीय महिला टीम फाइनल में ईरान के हाथों शिकस्त खा बैठी।

अब सवाल यह उठता है कि शैलजा और ईरान का क्या वास्ता है। दरअसल शैलजा ही ईरान की महिला टीम की कोच हैं और उन्होंने अपनी टीम से इन एशियाई खेलों से स्वर्ण पदक का वादा लिया था जिसे उनकी टीम ने पूरा कर दिखाया। 62 साल की शैलजा ईरान की इस सफलता से बेहद खुश हैं। ईरानी महिला खिलाड़ियों ने अपनी खिताबी जीत के बाद शैलजा के पास जाकर कहा,“ मैडम हमने आपको वह तोहफा दे दिया जो आपने चाहा था।”

एक वर्ष पहले ईरान ने शैलजा के सामने महिला टीम की कोचिंग का प्रस्ताव रखा था, हालांकि शुरू में इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया था लेकिन जब ईरान ने दोबारा एक बेहतर प्रस्ताव रखा तो वह इसे ठुकरा न सकीं। उनके मन में खुद को साबित करने की एक कसक थी जिसे उन्होंने ईरानी टीम के जरिये पूरा करने का लक्ष्य उठाया।

 

More News
कार्यकाल समाप्त होने पर आईसीसी चेयरमैन पद छोड़ेंगे शशांक

कार्यकाल समाप्त होने पर आईसीसी चेयरमैन पद छोड़ेंगे शशांक

27 May 2020 | 9:49 PM

दुबई, 27 मई (वार्ता) अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के चेयरमैन भारत के शशांक मनोहर इस साल जुलाई में अपना कार्यकाल समाप्त होने के बाद पद छोड़ देंगे।

see more..
अंडर-17 महिला विश्वकप की तैयारियां सही दिशा में: कुशल दास

अंडर-17 महिला विश्वकप की तैयारियां सही दिशा में: कुशल दास

27 May 2020 | 8:49 PM

नयी दिल्ली, 27 मई (वार्ता) अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआईएफएफ) के महासचिव कुशल दास ने कहा है कि फीफा अंडर -17 महिला विश्व कप 2020 की मेजबानी के लिए भारत में चुने गए पांचों स्थानों पर तैयारियां सही दिशा में चल रही हैं।

see more..
बिहार की बेटी ‘साइकिल गर्ल’ ज्योति पर बनेगी फिल्म

बिहार की बेटी ‘साइकिल गर्ल’ ज्योति पर बनेगी फिल्म

27 May 2020 | 8:49 PM

मुंबई, 27 मई (वार्ता) बिहार की बेटी ‘साइकिल गर्ल’ ज्योति कुमारी पर बॉलीवुड फिल्मकार विनोद कापड़ी फिल्म बनाने जा रहे हैं।

see more..
भारत से छिन सकती है टी-20 विश्वकप की मेजबानी

भारत से छिन सकती है टी-20 विश्वकप की मेजबानी

27 May 2020 | 8:49 PM

नयी दिल्ली, 27 मई (वार्ता) अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) में टैक्स को लेकर चल रहे टकराव के कारण भारत को टी20 विश्वकप 2021 की मेजबानी से हाथ धोना पड़ सकता है।

see more..
लॉकडाउन के बाद गेंदबाजों के लिए लय पाने में होगी मुश्किल: ब्रेट ली

लॉकडाउन के बाद गेंदबाजों के लिए लय पाने में होगी मुश्किल: ब्रेट ली

27 May 2020 | 8:49 PM

नयी दिल्ली, 27 मई (वार्ता) आस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली का कहना है कि लॉकडाउन खुलने के बाद गेंदबाजों को लय पाने में कम से कम आठ हफ्ते का वक्त लगेगा।

see more..
image