Saturday, Feb 16 2019 | Time 19:32 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • हमें खेतों में अपने किसानों और सीमा पर अपने जवानों पर गर्व : रामविलास शर्मा
  • पुलवामा पर पाकिस्तान के इनकार को भारत ने किया खारिज
  • सिविल लाइंस में व्यावसायिक गतिविधियां बंद
  • इस्नर न्यूयार्क ओपन के सेमीफाइनल में
  • पोखरण में मारक क्षमता का प्रदर्शन किया वायु सेना ने
  • हम हिंसा के कभी हिमायती नहीं रहे : पाकिस्तान
  • मिस्र की सेना की कार्रवाई में सात आतंकवादी मरे
  • उत्तराखंंड में पुलवामा आतंकी हमले के विरोध में सड़कों में उतरे लोग
  • मिस्र की सेना की कार्रवाई में सात आतंकवादी मरे
  • परेरा के करिश्माई शतक से जीता श्रीलंका
  • लुटेरे बैंक से 43 लाख से अधिक रुपये लूट कर फरार
  • योगी से मिलने को अड़ी शहीद की पत्नी, नहीं हुआ अंतिम संस्कार
  • सड़क हादसे में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत
  • मोदी रविवार को पटना में पीएनजी आपूर्ति और सीएनजी स्टेशन का करेंगे शुभारंभ
दुनिया Share

पाकिस्तान में चुनावी विश्वसनीयता धूमिल करने का भारत और शरीफ का प्रयास:इमरान

पाकिस्तान में चुनावी विश्वसनीयता धूमिल करने का भारत और शरीफ का प्रयास:इमरान

कराची, 23 जुलाई (वार्ता) पाकिस्तान तहरीके इंसाफ (पीटीआई) के प्रमुख अौर पूर्व क्रिकेटर इमरान खान ने कहा है कि भारत तथा पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ देश में 25 जुलाई को होने वाले चुनावों की विश्वसनीयता धूमिल करने का प्रयास कर रहे है।

श्री खान ने सोमवार को कराची के बाग-ए-जिन्ना में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि यह भी कहा जा रहा है कि चुनावों में धांधलियों के लिए पाकिस्तानी सेना भी लगी हुई है।

श्री खान ने कहा,“वे लोग कह रहे हैं कि सेना का पक्ष लिए जाने के बाद ही पीटीआई की लोकप्रियता दिनोदिन बढ़ती जा रही है। आप लोग मुझे यह बताइए कि क्या आप सभी को यहां सेना ने बुलाया है। चुनाव पूर्व सर्वेक्षणों में हमारी पार्टी को जो शानदार सफलता मिलती दिख रही है क्या वे सर्वेक्षण भी सेना ने कराए हैं। भारतीय मीडिया और वहां की राजनीतिक पार्टियाें के नेता अब इस मामले में जाेरदार चर्चा कर रहे हैं अौर वे कह रहे हैं कि सेना 25 जुलाई को होने वाले चुनावों में धांधलियां करा रही है।”

दैनिक समाचार पत्र ‘ द डान’ ने उनके हवाले से कहा,“ विदेशी ताकतें इस क्षेत्र में चीन के बढ़ते दबदबे को संतुलित करने के लिए भारत को बड़ी भूमिका निभाने देना चाहती हैं और यहीे कारण है कि वे सब अब पाकिस्तानी सेना की छवि धूमिल करने के प्रयास कर रहे हैं।”

उन्होंने जेल में बंद पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की आलोचना करते हुए कहा,“ जब चुनावों में उन्हें अपनी पार्टी की पराजय निश्चित तौर पर दिखाई दे रही है तो वह कह रहे हैं कि चुनावों में धांधलियां कराई जा रही हैं।”

श्री खान ने इस माह के शुरू में भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ मित्रता को लेकर श्री शरीफ पर ताना मारते हुए कहा था कि दोनों मिलकर सीमा पर तनाव पैदा करने का प्रयास कर रहे हैं ताकि इसका फायदा चुनावों में पाकिस्तान मुस्लिम लीग- नवाज को मिल सके।

इमरान खान ने एक ट्वीट कर कहा था,“ इस बात को लेकर काफी आश्चर्य होता है कि जब भी नवाज शरीफ परेशानी में होेते हैं तो पाकिस्तानी सीमा पर क्याें तनाव बढ़ जाता है और आतंकवादी घटनाओं में बढ़ोत्तरी हाे जाती है , क्या यह महज संयोग है।”

दरअसल इमरान का यह ट्वीट पार्टी कार्यकर्ताओं और समर्थकों के उन नारों को लेकर आधारित हैं जिनमें देश के अनके हिस्सों में बार-बार कहा जाता रहा है,“ मोदी का जो यार है, गद्दार है, गद्दार है।”

जितेन्द्र.श्रवण

वार्ता

image