Sunday, Jul 21 2019 | Time 09:02 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • न्यूजीलैंड में भूकंप के तेज झटके
  • शाहजहांपुर सड़क दुर्घटना में 17 कांवडिये घायल
  • सम्भल में दो कांस्टेबलों की हत्या करने वाला इनामी बदमाश कमल मुठभेड़ में ढेर
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 22 जुलाई)
  • ईरान की संपत्ति जब्त कर सकता है ब्रिटेन
  • हवाई हमले में तीन आईएस आतंकवादियों की मौत
  • ब्रिटिश एयरवेज ने काहिरा के लिए सात दिनों तक सेवा निलंबित की
  • पापुआ न्यू ग्यूनिया में 5 6 तीव्रता के भूंकप के झटके
  • हिमा का विजय अभियान जारी, जीता पांचवां स्वर्ण
  • हिमा का विजय अभियान जारी, जीता पांचवां स्वर्ण
  • शिकागो में गोलीबारी, दो की मौत, 19 घायल
  • नेतन्याहू ने बनाया इजरायल के सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहने का रिकॉर्ड
  • बहरीन ने ब्रिटेन का टैंकर कब्जे में लेने पर ईरान की आलोचना की
दुनिया


पाकिस्तान चुुनाव नतीजा घोषित, पीटीआई सबसे बड़ी पार्टी

पाकिस्तान चुुनाव नतीजा घोषित, पीटीआई सबसे बड़ी पार्टी

इस्लामाबाद, 28 जुलाई (वार्ता) पाकिस्तान चुनाव आयोग ने मतदान के दो दिन बाद शनिवार को चुनाव नतीजों की घोषणा कर दी। क्रिकेटर से नेता बने इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) को सबसे अधिक 115 सीटें मिली हैं। कम से कम पांच संसदीय सीटों पर दोबारा मतगणना होनी है ऐसी सूरत में यह आंकड़ा बदल सकता है।

पाकिस्तानी अखबार डाॅन ने चुनाव आयोग के आंकड़ों के हवाले से बताया कि 270 संसदीय सीटों पर हुए चुनाव में पीटीआई को 115, पूर्व राष्ट्रपति नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) को 64 और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) को 43 सीटें मिली हैं। मुत्ताहिदा मजलिस-ए-अमल (एमएमए) की झोली में 12 सीटें गयी हैं जबकि मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट -पाकिस्तान को छह सीटों पर संतोष करना पड़ा है।

नवगठित बलूचिस्तान अावामी पार्टी और पीएमएल-क्यू ने चार-चार सीटों पर जीत हासिल की है। ग्रैंड डेमोक्रेटिक अलाएंस ने दो सीट हासिल की है जबकि बलूचिस्तान नेशनल पार्टी की झोली में तीन सीटें गयी हैं और आवामी नेशनल पार्टी ने एक सीट पर सफलता हासिल की है।

अावामी मुस्लिम लीग (एएमएल),पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसानियत और जम्हूरी वतन पार्टी को भी एक-एक सीट मिली है।

आम चुनाव में 12 निदर्लीय उम्मीदवारों ने भी जीत हासिल की है और सरकार के गठन में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका हो सकती है।

इस बीच पीएमएल-एन और पीपीपी समेत 12 विपक्षी दलों ने धांधली का आरोप लगाते हुए चुनाव नतीजे को खारिज कर दिया है और दोबारा चुनाव कराये जाने की मांग की है। उन्होंने आरोप लगाया है कि श्री खान सेना का मुखौटा हैं और किसी भी हाल में निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव नहीं हुआ है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि मतदान केन्द्रों से उनके लोगों को सुरक्षाबलों ने बाहर निकाल दिया था।

अल्लाह -हु- अकबर पार्टी से अपने बेटे और दामाद को चुनाव में उतारने वाले मुंबई हमले के मास्टरमाइंड एवं आतंकवादी सरगना हाफिज सईद को इस चुनाव में जनता ने सिरे से नकार दिया है। इस पार्टी का सूपड़ा साफ हो गया है। पीटीआई सरकार बनाने के जादुई आंकड़ा प्राप्त करने में असफल रहने के बाद मुताहिदा मजलिस-ए अमल समेत कट्टरपंथी धड़ों से हाथ मिला सकती है।

इस बीच संसदीय चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करने से चूकने के बाद पीएमएल-एन अपने गढ़ पंजाब प्रांत में सरकार बनाने के प्रयास में है। वह इस प्रांत में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है लेकिन पीटीआई इसके साथ होड़ में है। पीटीआई श्री नवाज की पार्टी से कुछ ही सीटों से कम है लेकिन वह छोटी और निदर्लीय उम्मीदवारों के सहयोग से इस प्रांत में अपनी सरकार बनाने की कोशिश में है।

इस बीच यूरोपीय संघ और अमेरिका ने भी आरोप लगाया है कि चुनाव निष्पक्ष और स्वतंत्र नहीं हुआ है।

अमेरिका ने चुनाव की निष्पक्षता पर संदेह जताते हुए आरोप लगाया है कि इन चुनावों में पीटीआई को सेना का समर्थन मिला जबकि पीएमएल - एन और पीपीपी ने बंदिशों में अपना प्रचार किया। डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन ने चुनाव को स्वतंत्र और निष्पक्ष घोषित करने से इंकार कर दिया है। पाकिस्तान के राजदूत रहे हुसैन हक्कानी ने कहा कि चुनाव के नतीजे पहले से ही तय थे।

यूराेपीय संघ और अमेरिका का साथ मिलने के बाद विपक्षी दलों ने खुलकर चुनाव परिणामों का बहिष्कार करते हुए दोबारा चुनाव कराये जाने की मांग की है। चुनाव के दौरान हिंसक घटनाएं भी हुयी। मतदान के दिन 25 जुलाई को क्वेटा में विस्फोट हुआ था जिसमें कई लोगों की जान गयी थी।

उल्लेखनीय है कि भ्रष्टाचार के मामले में रावलपिंडी की जेल में बंद श्री शरीफ 10 साल की सजा काट रहे हैं। इस जेल में उनकी बेटी मरियम शरीफ भी सात साल की सजा भोग रही है। श्री शरीफ बीमार पत्नी को लंदन छोड़कर इस माह स्वदेश लौटे थे और कहा था कि वह अपने देश के नागरिकों और पार्टी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को अकेले नहीं छोड़ सकते। उन्होंने यह भी कहा था कि वह कायर नहीं है कि देश से बाहर रहें। उन्हें किसी बात का डर नहीं है क्योंक वह किसी प्रकार के भ्रष्टााचार में शामिल नहीं हैं, वह अदालत के फैसले को चुनौती देंगे।

आशा आजाद

वार्ता

More News
ईरान की संपत्ति जब्त कर सकता है ब्रिटेन

ईरान की संपत्ति जब्त कर सकता है ब्रिटेन

21 Jul 2019 | 8:15 AM

मॉस्को, 21 जुलाई (स्पूतनिक) ब्रिटेन के विदेश सचिव जेरेमी हंट ब्रिटिश तेल टैंकर ‘स्टेना इम्पेरो’ को कब्जे में लेने को लेकर रविवार को ईरान के खिलाफ सख्त रुख अखतियार कर सकते हैं जिसमें ईरान की सपंत्ति भी जब्त करने पर फैसला लिया जा सकता है। स्थानीय मीडिया ने इसकी जानकारी दी।

see more..
ब्रिटिश एयरवेज ने काहिरा के लिए सात दिनों तक सेवा निलंबित की

ब्रिटिश एयरवेज ने काहिरा के लिए सात दिनों तक सेवा निलंबित की

21 Jul 2019 | 7:39 AM

लंदन, 21 जुलाई (शिन्हुआ) ब्रिटिश एयरवेज ने शनिवार को काहिरा के लिए सात दिनों तक अपनी उड़ानें निलंबित रखने की घोषणा की है।

see more..
हवाई हमले में तीन आईएस आतंकवादियों की मौत

हवाई हमले में तीन आईएस आतंकवादियों की मौत

21 Jul 2019 | 7:28 AM

बगदाद, 21 जुलाई (शिन्हुआ) उत्तरी इराक के किरकुक प्रांत में अमेरिका समर्थित गठबंधन के हवाई हमले में इस्लामिक स्टेट (आईएस) के तीन आतंकवादियों की मौत हो गई और उनके अड्डे धवस्त हो गए। इराक सेना ने इसकी जानकारी दी।

see more..
पापुआ न्यू ग्यूनिया में 5.6 तीव्रता के भूंकप के झटके

पापुआ न्यू ग्यूनिया में 5.6 तीव्रता के भूंकप के झटके

21 Jul 2019 | 7:22 AM

न्यूयॉर्क, 21 जुलाई (शिन्हुआ) अमेरिका के पापुआ न्यू ग्यूनिया के कांद्रियान में शनिवार को 5.6 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए।

see more..
image