Saturday, Jan 25 2020 | Time 18:48 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • नेतन्याहू ने 71 वें गणतंत्र दिवस पर मोदी को दी बधाई
  • सीबीआई के 28 अधिकारियों एवं कर्मचारियों को पुलिस पदक
  • नागपुर में युवक की पत्थर से कुचल कर हत्या
  • हिमाचल थीम राज्य के रूप में भाग लेगा सूरजकुंड मेले में
  • यूएमसी ने केनरा बैंक की तीन शाखाओं को किया सील
  • पुणे में चुंगी के खिलाफ अनिश्चितकालीन आंदोलन की चेतावनी
  • गत्ता फैक्ट्री में लगी आग
  • मतदाताओं की जागरूकता ही सशक्त लोकतंत्र की आधारशिला : द्रौपदी
  • इनेलो में टूट थम नहीं रही है, कैथल जिलाध्यक्ष कांग्रेस में शामिल
  • अफगानिस्तान में सात तालिबानी आतंकवादी ढेर
  • भाजपा का गौरक्षा का नारा और दावा झूठाः हुड्डा
  • पाकिस्तान ने बंगलादेश से जीती टी-20 सीरीज
  • पाकिस्तान ने बंगलादेश से जीती टी-20 सीरीज
  • “हम सभी नागरिक हैं”: ममता
राज्य » गुजरात / महाराष्ट्र


पटोले निर्विरोध चुने गए महाराष्ट्र विधानसभा अध्यक्ष

पटोले निर्विरोध चुने गए महाराष्ट्र विधानसभा अध्यक्ष

मुंबई, 01 दिसंबर (वार्ता) कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नाना पटोले को रविवार को निर्विरोध महाराष्ट्र विधानसभा का नया अध्यक्ष चुन लिया गया।

इससे पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अपने उम्मीदवार किशन कठोरे का नामांकन वापस ले लिया था।


छप्पन वर्षीय श्री पटोले शिव सेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस के गठबंधन महाराष्ट्र विकास अघाड़ी (एमवीए) के उम्मीदवार हैं।

इससे पहले महाराष्ट्र में एमबीए की अगुवाई में उद्धव ठाकरे की सरकार ने शनिवार को विधानसभा में आसानी से अपना बहुमत साबित कर दिया।

राज्य की 288 सदस्यीय विधानसभा में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को बहुमत के लिए 145 विधायकों का समर्थन चाहिए था जबकि उनके पक्ष में 169 वोट पड़े।

राज्य विधानसभा में 105 विधायकों वाले सबसे बड़े दल भाजपा ने मतदान से पहले सदन का बहिर्गमन किया जबकि चार विधायक तटस्थ रहे।

कांग्रेस पार्टी के किसान मोर्चे के पूर्व नेता श्री पटाेले विदर्भ क्षेत्र के अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) कुनाबी समुदाय से संबंध रखते हैं। श्री पटोले चार बार विधायक रह चुके हैं और वह विदर्भ की सकोली विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं।

श्री पटोले ने 2014 में कांग्रेस छोड़कर भाजपा के टिकट पर लोकसभा का चुनाव लड़ा था। श्री पटोले ने राकांपा के उम्मीदवार प्रफुल पटेल को भंडारा-गोंडिया सीट से हराया था।

श्री पटोले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 2014 से 2019 के बीच पहले कार्यकाल के दौरान उनके खिलाफ बगावत करने वाले पहले नेता थे।

इस बार उन्होंने केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी के खिलाफ नागपुर सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा था। हालांकि इस बार उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

रवि.संजय

वार्ता

image