Friday, Nov 16 2018 | Time 19:40 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जालंधर से भारी मात्रा में नकली दवाईयां बरामद
  • राहुल स्पष्ट करें कि कांग्रेस और रॉबर्ट वाड्रा के संजय भंडारी से क्या संबंध हैं: भाजयुमो
  • कोस्टिच-मिहालिकोवा में होगा खिताबी मुकाबला
  • हरियाणा की सभी 11 चीनी मिलों की पिराई क्षमता बढ़ेगी: ग्रोवर
  • ओडिशा विधानसभा में किसानों के मुद्दे पर हंगामा
  • पालनपुर-करजोड़ा के बीच ट्रेनें रहेंगी प्रभावित
  • ओवरटाईम समाप्त करने से बौखलाए रोडवेज कर्मी
  • बेअदबी मामला :एसआईटी ने बादल से की पूछताछ
  • किरण बेदी ने पत्रकारों के साथ मनाया ‘राष्ट्रीय प्रेस दिवस’
  • फुटसल अंडर 20 चैंपियनशिप के लिए भारतीय टीम घोषित
  • फुटसल अंडर 20 चैंपियनशिप के लिए भारतीय टीम घोषित
  • भारत का एडीबी के साथ 57 4 करोड़ डॉलर के तीन ऋण करार
  • सड़क हादसे में उपाधीक्षक सहित सात पुलिसकर्मी घायल
  • इंद्र-2018 सैन्य अभ्यास के लिए 250 रूसी सैनिक भारत रवाना
  • भाजपा और कांग्रेस से त्रस्त है जनता: रजनी
राज्य Share

डकैतों की गोली से पुलिसकर्मी शहीद, मुठभेड़ में डकैत भी मारा गया

डकैतों की गोली से पुलिसकर्मी शहीद, मुठभेड़ में डकैत भी मारा गया

किशनगंज 12 सितंबर (वार्ता) बिहार में किशनगंज जिले के नगर थाना क्षेत्र में डकैती के दौरान पुलिस के साथ मुठभेड़ में एक जवान शहीद हो गया जबकि पुलिस ने भी एक डकैत को ढेर कर दिया।

प्रभारी पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा ने आज यहां बताया कि शहर के जानेमाने उद्योगपति और जूट व्यवसायी नंद किशोर अग्रवाल के प्रतिष्ठान पर एक वाहन से आये 14 डकैतों ने कल देर रात धावा बोला। व्यवसायी के कर्मचारियों द्वारा शोर मचाये जाने के बाद डकैत भागने लगे तभी सूचना पर पहुंची पुलिस और डकैतों के बीच पूरबपाली पॉवर हाउस के निकट मुठभेड़ हो गया। उन्होंने बताया कि इस दौरान डकैतों की गोली से जवान बिरसा उरांव शहीद हो गये जबकि पुलिस की ओर से की गयी जवाबी कार्रवाई में एक डकैत भी मारा गया।

श्री शर्मा ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान तीन डकैतों को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि उसके अन्य साथी अंधेरे का लाभ उठाकर फरार हो गयें। उन्होंने बताया कि घटनास्थल से पुलिस ने बड़ी संख्या में देसी बम, पिस्तौल और धारदार हथियार बरामद किया है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गिरफ्तार डकैतों में दो झारखंड के साहेबगंज तथा एक पूर्णियां जिले का निवासी है। डकैती के दौरान डकैतों ने सुरक्षा प्रहरी को चाकू मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया था जिसे इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि फरार हुए डकैतों की गिरफ्तारी के लिए जिले की सीमा को सील कर छापेमारी की जा रही है। पुलिस गिरफ्तार डकैतों से पूछताछ कर रही है।



सं. प्रेम उमेश

वार्ता

image