Wednesday, Jun 26 2019 | Time 22:31 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • योगी ने हरिद्वार में भागीरथी पर्यटक आवास गृह का निरीक्षण किया
  • अमृतसर को विश्व-स्तरीय सुविधाए दी जाएंगी: पुरी
  • फोटो कैप्शन-दूसरा सेट
  • फॉन्टेरा फ्युचर डेयरी ने तीन नये उत्पाद बाजार में उतारे
  • कुख्यात बदन सिंह उर्फ बद्दो को भगाने में मदद करने वाला गिरफ्तार
  • चार क्विंटल पोस्त चूरा, हेरोइन सहित तीन गिरफ्तार
  • ललितपुर में अलग अलग घटनाओं में तीन की मौत
  • शाह ने की अमरनाथ यात्रा के इंतजामों की समीक्षा
  • हिन्दुस्तान कॉलेज की मान्यता नामंजूर करने के आदेश पर रोक
  • अनुसूचित जाति एवं जनजाति आयोग ने तलब की बुलंदशहर घटना की रिपोर्ट
  • हत्या के मामले में तीन युवकों को 10-10 साल की कैद
  • त्राल मुठभेड़ में अंसार गजवातुल हिंद का आतंकवादी ढेर
  • एनसीबी, सरकार मिलकर करेंगे पंजाब से नशे का खात्मा
  • भोपाल आते आते मानसून हुआ कमजोर
  • संयुक्त राष्ट्र करेगा अमृतसर, वाराणसी और गुरुग्राम में वायु की गुणवत्ता में सुधार
विशेष » कुम्भ


प्रयागराज कुम्भ किन्नरों के लिए होगा अविस्मरणीय

प्रयागराज कुम्भ किन्नरों के लिए होगा अविस्मरणीय

प्रयागराज, 09 जनवरी (वार्ता) तीर्थराज प्रयाग जहां साधु-संतो के लिए लौकिक, आलौकिक एवं पारलौकिक के आनंद का संगम होगा वहीं किन्नर अखाड़े के लिए एक सुनहरी यादगार भी होगा।

साधु संतों की जानी मानी संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के भारी विरोध के बावजूद तीर्थराज प्रयाग में अपनी देवत्त यात्रा निकाल कर जहां अपने शक्ति का प्रदर्शन किया वहीं लाखों श्रद्धालुओं के स्नेह का गवाह भी बना। भारी विरोध के बावजूद उसने जहां “देवत्त यात्रा” निकालने में विजय हासिल की वहीं अब सरलता पूर्वक “अमृत स्नान” का भी सुखद अवसर मिलेगा।

देवत्त यात्रा में दो लाख से अधिक श्रद्धालु इनकी एक झलक पाने के लिए घंटो सड़क के दोनो तरफ कतारबद्ध घंटो खड़े रहे। इससे पहले वर्ष 2016 में हरिद्वार के कुम्भ में किन्नर अखाड़ा देवत्त यात्रा निकाल चुका है।

अखाड़ा परिषद की अब तक की निकली सभी पेशवाइयों पर इनकी देवत्त यात्रा भारी पड़ी थी।

सनातन धर्म में नई परंपरा कायम करते हुए सबसे बड़ा श्रीपंच दशनाम जूना अखाड़े ने किन्नरों को अपने साथ जोडने का निर्णय भी यादगार होगा।

More News
कुम्भ ने दुनिया को कराया भारतीय संस्कृति की विविधता का अहसास :राणा

कुम्भ ने दुनिया को कराया भारतीय संस्कृति की विविधता का अहसास :राणा

04 Mar 2019 | 9:55 PM

कुम्भ,04 मार्च (वार्ता) उत्तर प्रदेश के गन्ना विकास एवं चीनी मिल मंत्री सुरेश राणा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देशन तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कुशल नेतृत्व का बखान करते हुए कहा कि पूरे विश्व ने कुम्भ की प्राचीन मान्यता, आध्यात्मिकता, लौकिकता, आपसी सद्भाव को स्वीकार किया।

see more..
कुम्भ की आभा बेमिसाल : फडणवीस

कुम्भ की आभा बेमिसाल : फडणवीस

04 Mar 2019 | 9:55 PM

कुम्भनगर,04 मार्च (वार्ता) महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक और सांस्कृतिक समागम कुम्भ की जितनी प्रशंसा की जाए,वह कम है।

see more..
महाशिवरात्रि स्नान पर एक करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं ने लगाई संगम में आस्था की डुबकी

महाशिवरात्रि स्नान पर एक करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं ने लगाई संगम में आस्था की डुबकी

04 Mar 2019 | 8:55 PM

कुम्भनगर, 04 मार्च (वार्ता) सम्पूर्ण विश्व में अपनी अमिट छाप छोड़ने वाले कुम्भ के आखिरी दिन महाशिवरात्रि के पर्व पर एक करोड़ 10 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने पतित पावनी गंगा, श्यामल यमुना और अन्त: सलिला स्वरूप में प्रवाहित हो रही सरस्वती में आस्था की डुबकी लगाई।

see more..
आध्यात्म,वैराग्य और ज्ञान की ऊर्जा सतत प्रवाहित होती है संगम की रेत में

आध्यात्म,वैराग्य और ज्ञान की ऊर्जा सतत प्रवाहित होती है संगम की रेत में

04 Mar 2019 | 6:04 PM

कुम्भनगर, 04 मार्च (वार्ता) पतित पावनी गंगा, श्यामल यमुना और अन्त: सलीला स्वरूप में प्रवाहित सरस्वती के त्रिवेणी की विस्तीर्ण रेती वैराग्य, ज्ञान और आध्यात्मिक शक्ति से ओतप्रोत है।

see more..
महाशिवरात्रि से पहले संगम पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

महाशिवरात्रि से पहले संगम पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

03 Mar 2019 | 2:35 PM

कुंभनगर, 03 मार्च (वार्ता) दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक और सांस्कृतिक समागम कुंभ के छठे और आखिरी स्नान पर्व महाशिवरात्रि से एक दिन पहले रविवार को एक बार फिर दूर-दराज से भक्तों का रेला संगम पर आस्था के समंदर में बूंदा-बांदी को धता बताकर हिलोरें ले रहा है।

see more..
image