Wednesday, Jun 26 2019 | Time 21:21 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • हत्या के मामले में तीन युवकों को 10-10 साल की कैद
  • त्राल मुठभेड़ में अंसार गजवातुल हिंद का आतंकवादी ढेर
  • एनसीबी, सरकार मिलकर करेंगे पंजाब से नशे का खात्मा
  • भोपाल आते आते मानसून हुआ कमजोर
  • संयुक्त राष्ट्र करेगा अमृतसर, वाराणसी और गुरुग्राम में वायु की गुणवत्ता में सुधार
  • छबड़ा एवं कालीसिंध विद्युत गृहों का विनिवेश नहीं करने के प्रस्ताव का अनुमोदन
  • नशा भ्रष्ट प्रशानिक तंत्र एवं राजनीतिक काली भेड़ो की देन: सरीन
  • बरेली पुलिस मुठभेड़ में चार बदमाश गिरफ्तार
  • किन्नर कैलाश यात्रा के दौरान दो लोगों की मौत, तीन बचाए गये
  • ऐसी शिक्षा नीति हो जो विद्यार्थियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा करने योग्य बनाए:खट्टर
  • महिला ने पांच पुत्रियों के साथ टांके में कूदकर की आत्महत्या
  • युवाओं में नशे की बढ़ती प्रवृत्ति एक वैश्विक समस्या: खट्टर
  • राजद की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक 06 जुलाई को
  • इसरो ने मछुआरों के साथ शुरू किया ‘नाविक’ रिसीवर का परीक्षण
  • पाकिस्तान में विपक्षी दलों ने पीटीआई सरकार को देश के लिए खतरा बताया
भारत


तीन तलाक पर नये अध्यादेश को राष्ट्रपति की मंजूरी

तीन तलाक पर नये अध्यादेश को राष्ट्रपति की मंजूरी

नयी दिल्ली 12 जनवरी (वार्ता) तीन तलाक से जुड़े विधेयक तथा दो अन्य विधेयकों के संसद के शीतकालीन सत्र में पारित नहीं होने के कारण फिर से लाये गये संबंधित अध्यादेश को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को मंजूरी दे दी।

तलाक-ए-बिद्दत यानी तीन तलाक की प्रथा को दंडनीय अपराध बनाने संबंधी मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) विधयेक, 2018, भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद (संशोधन) विधेयक, 2018 और कंपनी (संशोधन) विधेयक, 2019 लोकसभा में पारित हो गये, लेकिन इन्हें राज्यसभा में पारित नहीं किया जा सका। इसलिए, मंत्रिमंडल ने गत 10 जनवरी को दोबारा अध्यादेश लाने का फैसला किया।

तीन तलाक और आयुर्विज्ञान परिषद् पर अध्यादेश पिछले साल सितंबर में तथा कंपनी कानून में संशोधन के लिए अध्यादेश पिछले साल नवंबर में लाया गया था। संसद के शीतकालीन सत्र में तीनों से संबंधित विधेयक लोकसभा में पारित हो गये, लेकिन हँगामे के कारण राज्यसभा में ज्यादातर समय कार्यवाही बाधित रहने से ये उच्च सदन में पारित नहीं हो सके।

उल्लेखनीय है कि अध्यादेश लाने के बाद अगले संसद सत्र के शुरू होने के 42 दिन के भीतर उससे जुड़ा विधेयक संसद के दोनों सदनों में पारित नहीं हो पाता है तो अध्यादेश स्वत: निरस्त हो जाता है। इसलिए सरकार को तीनों अध्यादेश दुबारा लाने पड़े हैं।

सुरेश अजीत

जारी वार्ता

More News
ईरान आतंकवाद को बढ़ावा देने वाला देश: पोम्पियो

ईरान आतंकवाद को बढ़ावा देने वाला देश: पोम्पियो

26 Jun 2019 | 9:04 PM

नयी दिल्ली 26 जून (वार्ता) अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने ईरान को आतंकवाद को बढ़ावा देने वाला विश्व का सबसे बड़ा देश बताते हुए भारत से कहा कि हमें इस खतरे से लड़ने की जरूरत है और ऊर्जा को सही दिशा में लगाने की आवश्यकता है।

see more..
इनेलो का एकमात्र राज्यसभा सांसद भाजपा में शामिल

इनेलो का एकमात्र राज्यसभा सांसद भाजपा में शामिल

26 Jun 2019 | 8:52 PM

नयी दिल्ली 26 जून (वार्ता) राज्यसभा में इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के एकमात्र सांसद रामकुमार कश्यप ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का दामन थाम लिया।

see more..
गहलोत ने दिखायी मादक पदार्थ निरोध दौड़ को हरी झंडी

गहलोत ने दिखायी मादक पदार्थ निरोध दौड़ को हरी झंडी

26 Jun 2019 | 8:10 PM

नयी दिल्ली 25 जून (वार्ता) केन्‍द्रीय सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने बुधवार को अंतरराष्‍ट्रीय मादक पदार्थ सेवन और तस्‍करी निरोध दिवस के अवसर पर ‘17वीं मादक पदार्थ निरोध दौड़’ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

see more..
पलायन रोकने के लिए गांवों का हो विकास: गडकरी

पलायन रोकने के लिए गांवों का हो विकास: गडकरी

26 Jun 2019 | 8:10 PM

नयी दिल्ली 25 जून (वार्ता) केन्‍द्रीय सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्योग मंत्री नितिन गडकरी ने देश में गांवों के विकास का आह्वान करते हुए बुधवार को कहा कि इससे युवाओं के शहरों की ओर पलायन रोकने में मदद मिलेगी।

see more..
व्यापारिक अड़चनों को दरकिनार कर रणनीतिक साझीदारी मजबूत करेंगे भारत और अमेरिका

व्यापारिक अड़चनों को दरकिनार कर रणनीतिक साझीदारी मजबूत करेंगे भारत और अमेरिका

26 Jun 2019 | 8:10 PM

नयी दिल्ली 26 जून (वार्ता) भारत और अमेरिका ने व्यापारिक अड़चनों को दरकिनार करते हुए आपसी रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत करने की दिशा में काम करने को लेकर सहमति जतायी है।

see more..
image