Friday, Jan 22 2021 | Time 08:48 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • स्पेन में कोरोना के सर्वाधिक 44,357 नए मामले
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 23 जनवरी)
  • आईएस ने ली बगदाद में हुए हमले की जिम्मेदारी
  • कोलंबिया में कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या पहुंची 50 हजार के पार
  • अमेरिका ने रूस के साथा नए स्टार्ट संधि की अवधि पांच साल के लिए बढ़ाएगा
  • यूरोपीय संघ को सीमाएं खुला रखना चाहिएः चार्ल्स मिशेल
  • बिडेन ने रूस की गतिविधियों की समीक्षा करने का कार्य खुफिया विभाग को सौंपा
  • कोरोना का नया स्ट्रेन अमेरिका के 20 या उससे ज्यादा प्रांतों में मौजूद हैः फौसी
  • सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया पीड़ितों को देगा 25-25 लाख रुपये का मुआवजा
  • स्मार्टफोन की तरह स्मार्ट बनेंः ममता
राज्य » अन्य राज्य


निवार चक्रवात: रायलसीमा, तटीय आंध्र जिलों में बारिश का कहर, एक मरा

निवार चक्रवात: रायलसीमा, तटीय आंध्र जिलों में बारिश का कहर, एक मरा

विजयवाडा ,26 नवंबर (वार्ता) आंध्र प्रदेश के चित्तूर, नेल्लोर, कडापा और प्रकाशम जिलों में गुुरुवार को चक्रवाती तूफान निवार ने कहर बरपाया है।

तूफान से लगातार बारिश और तेज हवाओं के कारण तूफान से एक व्यक्ति की मौत हो गयी, हजारों एकड़ फसल जलमग्न हो गयी, सैंकड़ों बिजली के खम्भे उखड़ गए और कई गांवों का सड़कों से संपर्क टूट गया है।

नेल्लोर जिले में एक व्यक्ति पर हाई टेंशन बिजली का तार टूट कर गिरने से उसकी झुलस कर मौत हो गयी। मृतक की पहचान अब्दुल रजाक के रूप में हुई है।

नेल्लोर और कडपा जिलों में भारी बारिश कें काारण कईं जल धाराएं, नहरों और नालों में पानी ऊफान पर है जबकि सिंचाई के काम में आने वाले सभी टैंक पानी से भर गये है।

चक्रवाती तूफान के मद्देनजर दो जिलों में छह हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है। नेल्लोर जिले में वेंकटगिरी-रापूर रोड पर स्थित एक पुल भारी बाढ़ के कारण टूट गया है। अधिकारी पुल से किसी भी वाहन को गजुरने की अनुमति नहीं दे रहे है, अभी तक किसी के हताहत होने की कोई रिपोर्ट नहीं है।

नेल्लोर और कडपा दोनों जिलों में तूफान के कारण सैंकड़ों बिजली के खंभे और पेड़ उखड़ गए है जिसके कारण कई गांवों की बिजली आपूर्ति ठप हो गई है। दोनों जिलों में भारी बारिश के कारण कई स्थानों में सड़कों और राज्य राजमार्ग पर घुटने तक पानी जमा हो गया है। इससे सामान्य जीवन काफी प्रभावित हुआ है।

मंत्री पी अनिल कुमार यादव, एम गौतम रेड्डी और जिला कलेक्टर चक्रधर बाबू ने नेल्लोर जिले में आज बारिश से प्रभावित कुछ इलाकों का दौरा किया और स्थिति का जायजा लिया। दोनों जिलों में चक्रवाती तूफान के मद्देनजर सभी शैक्षणिक संस्थानों में सोमवार तक छुट्टी की घोषणा की गयी है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि जिलों में 1600 से अधिक सिंचाई टैंक पानी से लबालब भरे हुए हैं। कडपा जिले के रेलवे कोडूरु मंडल में बालापल्ली-कुक्कालाडोड्डी के बीच 50 मीटर से अधिक लंबा राजमार्ग बह गया है, जिससे कडप्पा-तिरुपति के बीच सड़क के दोनों ओर सैकड़ों वाहन फंसे हुए हैं। जिले में भारी बारिश के कारण गुंजा नदी उफान पर है। कडप्पा जिले में रेलवे के कोडुरु, राजमपेट, रायचोटी के कई रिहायशी इलाके दो-दो फुट से अधिक पानी से डूबे हुए हैं।

भारी बारिश और तेज हवाओं के कारण कृष्णा, गंटूर और पश्चिम गोदावरी जिलों में पानी भर गया और हजारों एकड़ में खड़ी धान की फसल नष्ट हो गयी है। आधिकारिक सूत्रों ने यह भी बताया कि लाखों एकड़ में लगी धान की फसल बेमौसम बारिश के कारण खराब हो गई है।

इस दौरान मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने आज अधिकारियों के साथ चक्रवाती तूफान निवार की स्थिति की समीक्षा की। अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया कि चक्रवाती तूफान से नेल्लोर, कडपा और चित्तूर जिले बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं।

श्री रेड्डी ने अधिकारियों को नेल्लोर जिले में हाई टेंशन तार गिरने से जिस युवक की मौत हुई है उसके परिवार के सदस्यों को सहायता देने के निर्देश दिए हैं। अधिकारियों ने श्री रेड्डी को अवगत कराया कि चित्तूर जिले के येरपेडू मंडल के मल्लेमाडूगु में तीन किसान फंस गए है और उन्हें बचाने के प्रयास जारी हैं। उन्होंने अधिकारियों को बारिश से प्रभावित पीड़ितों को सहायता पहुंचाने का निर्देश दिया है।

उप्रेती जितेन्द्र

वार्ता

More News
केरल में कोरोना सक्रिय मामले बढ़ कर 69700 के पार

केरल में कोरोना सक्रिय मामले बढ़ कर 69700 के पार

21 Jan 2021 | 9:30 PM

तिरुवनंतपुरम 21 जनवरी (वार्ता) केरल में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के नये मामलों की तुलना में स्वस्थ होने वाले मामलों में कमी होने के कारण सक्रिय मामलों की संख्या गुरुवार को बढ़ कर 69,700 के पार पहुंच गयी।

see more..
image