Saturday, Jul 11 2020 | Time 18:52 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • उत्तराखंड के छह हज़ार गांव इंटरनेट से जुड़ेंगे : त्रिवेंद्र
  • राजस्थान में 140598 हेक्टेयर में टिड्डी नियंत्रण कार्य किया गया
  • तंदरूस्तों को कोरोना संक्रमित बताने के मामले की सीबीआई या न्यायिक जांच हो: महासभा
  • उप्र में कोरोना के मद्देनजर जारी एडवाइजरी का उल्लंघन,23,66,389 का चालान
  • सहरसा नगर परिषद क्षेत्र रविवार से होगा लॉक
  • बिहार में बेकाबू कोरोना संक्रमण के बीच चुनाव कराने पर सर्वदलीय बैठक बुलाए निर्वाचन आयोग : कांग्रेस
  • मिर्जापुर में 24 और कोरोना पॉजिटिव मिले,संक्रमितों की संख्या 235 पहुंची
  • रूस ने अमेरिका के लड़ाकू विमानों को खदेड़ा
  • दुमका में एनजीटी के आदेश का उल्लघंन करने पर होगी सख्त कार्रवाई
  • उत्तराखंड में शातिर अपराधियों की कसेगी नकेल
  • कांग्रेस-द्रमुक सरकार अल्पमत में : अनबझगन
  • भाजपा जालंधर की शहरी कार्यकारिणी पदाधिकारियो की नियुक्ति
  • जालंधर में रैपिड एंटीजन परीक्षण किट के उपयोग के निर्देश
  • गुरूग्राम के खेल स्टेडियमों में रौनक लौटी, खिलाड़ी करने लगे अभ्यास
  • फोटो कैप्शन: पहला सेट
राज्य » अन्य राज्य


राष्ट्र निर्माण में बड़ी भूमिका निभायें निजी क्षेत्र: वेंकैया

राष्ट्र निर्माण में बड़ी भूमिका निभायें निजी क्षेत्र: वेंकैया

हैदराबाद 21 सितंबर (वार्ता) उप राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने निजी क्षेत्र से बुनियादी ढांचे के विकास तथा स्वास्थ्य और शिक्षा क्षेत्र में सुधार जैसे राष्ट्र निर्माण की महत्वपूर्ण गतिविधियों में बड़ी भूमिका निभाने का आह्वान किया है।

श्री नायडू ने शनिवार को यहां परियोजना प्रबंधन के 11वें राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि सार्वजनिक निजी भागीदारी एक दिन स्मार्ट सिटी जैसी बड़ी परियोजनाओं के लिए महत्वपूर्ण होगी। उन्होंने देश की उन्नति के लिए परियोजना प्रबंधकों को अति महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि ये समय बड़े बदलाव और ज्ञान का है। परियोजना प्रबंधकों का कौशल उद्योग और देश की अर्थव्यवस्था पर सकारात्मक प्रभाव डालेंगे।

उप राष्ट्रपति ने भारत को अभियांत्रिकी और वास्तुशिल्पीय चमत्कारों की भूमि बताते हुए कहा कि भारत ने महाबलीपुरम से अशोक स्तंभ तक प्राचीन मंदिरों के जरिये महान परियोजना प्रबंधन के कई उदाहरण स्थापित किये हैं। उन्होंने कहा कि आधुनिक समय में भी भारत ने नर्मदा नदी के किनारे स्टैच्यू ऑफ यूनिटी स्थापित कर तथा विश्व के सबसे बड़े बायोमेट्रिक डेटाबेस आधार को लागू करने जैसे कई यादगार उपलब्धियां हासिल की है।

संतोष, यामिनी

वार्ता

image