Tuesday, Jan 19 2021 | Time 23:46 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • चुनाव आयोग पश्चिम बंगाल दौरा बुधवार से
  • देश में 1 06 करोड़ के करीब पहुंची कोरोना संक्रमितों की संख्या
  • रिजिजू को आयुष मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार
  • रुपेश सिंह हत्याकांड के दोषियों को अविलंब करें गिरफ्तार : नीतीश
  • नीतीश ने गुरू गोविंद सिंह की जयंती पर दी शुभकामनायें
  • ब्रिस्बेन मैच के हीरो ऋषभ उत्तराखंड के कोहिनूर : प्रेमचंद
  • रिजुजु को आयुष मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार
  • तमिलनाडु में कोरोना सक्रिय मामले 5400 के करीब
  • कप्तान कोल ने ओडिशा को एक और हार से बचाया
  • कप्तान कोल ने ओडिशा को एक और हार से बचाया
  • चिर-प्रतिद्वंद्वी केरला और बेंगलुरु अपनी किस्मत बदलने उतरेंगे
  • चिर-प्रतिद्वंद्वी केरला और बेंगलुरु अपनी किस्मत बदलने उतरेंगे
  • कर्नाटक में कोरोना के सक्रिय मामलों में फिर से गिरावट
  • विराट, इशांत, हार्दिक की टेस्ट टीम में वापसी, नटराजन और शॉ बाहर
  • विराट, इशांत, हार्दिक की टेस्ट टीम में वापसी, नटराजन और शॉ बाहर
राज्य » अन्य राज्य


तूफान निवार के कारण तमिलनाडु के 13 जिलों में गुरुवार को सार्वजनिक अवकाश

तूफान निवार के कारण तमिलनाडु के 13 जिलों में गुरुवार को सार्वजनिक अवकाश

चेन्नई, 25 नवंबर (वार्ता) तमिलनाडु सरकार ने चक्रवाती तूफान निवार के मद्देनजर राज्य के 13 जिलों में गुरुवार को सार्वजिक अवकाश की घोषणा की है। निवार आज मध्यरात्रि में राज्य में प्रवेश कर जाएगा।

मुख्यमंत्री ई. के. पलानीस्वामी ने चेम्बरमबक्कम कुंड (जलाशय) का दौरा करने के बाद इसकी घोषणा की। इस जलाशय की क्षमता 24 फीट पानी है और इसमें 22 फीट पानी भर गया है, जिसके कारण आज मध्याह्न 12 बजे इस कुंड के गेट खोल दिए गए।

उन्होंने राज्य के चेन्नई, तिरुवल्लुर, चेंगलपट्टू, कांचीपुरम, विल्लुपुरम, तिरुवन्नामलाई, तंजावुर, कुड्डालूर, तिरुवरुर, अरियालुर, पेरम्बलुर, नागपट्टिनम और पुदुक्कोट्टई जिले में गुरुवार को सार्वजनिक अवकाश की घोषणा की है।

इससे पहले चक्रवाती तूफान के मद्देनजर आज पूरे राज्य में सार्वजनिक अवकाश की घोषणा पहले ही कर दी गई थी।

भारी बारिश के बीच श्री पलानीस्वामी शहर से लगभग 30 किलोमीटर दूर स्थित चेम्परमबक्कम जलाशय का मुआयना करने के लिए निकले। इस दौरान उन्होंने अदियार नदी के निचले हिस्सों में रहने वाले लोगों के लिए प्रशासन की ओर से जारी की जा रही चेतावनी का निरीक्षण किया।

चेन्नई शहर को पीने का पानी मुहैया कराने वाले मुख्य स्रोतों में से एक इस जलाशय से एक हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया है।

संतोष जितेन्द्र

वार्ता

image