Wednesday, Sep 19 2018 | Time 14:42 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तीन तलाक पर वोट बैंक की राजनीति कर रही है कांग्रेस : प्रसाद
  • मुर्हरम पर मजहबी सदभाव का प्रतीक है इटावा की “लुट्टस” परम्परा
  • प्रतियोगिता में दौड़ते समय गिरकर छात्र की मृत्यु
  • बुधनी से इंदौर तक नयी रेल लाइन को मंजूरी
  • कांग्रेस का राफेल सौदे पर कैग से व्यापक जांच का आग्रह
  • जन आंकाक्षाओं की चुनौती पर खरा उतरे पुलिस
  • तलचर उर्वरक कारखाने के शेयर निवेश प्रस्ताव को मंजूरी
  • सील तोड़ने पर मनोज तिवारी को सुप्रीम कोर्ट ने किया तलब
  • किसी नेता के अहम की संतुष्टि के लिए राफेल सौदे की जांच नहीं: प्रसाद
  • एससीएसटी एक्ट के खिलाफ महाजन के घर के बाहर प्रदर्शन
  • त्रिपुरा ने बंदरगाह इस्तेमाल की अनुमति के बंगलादेश के निर्णय का किया स्वागत
  • तीन तलाक पर अध्यादेश
  • गुजरात में विधायकों, मंत्रियों के वेतन में बढ़ोत्तरी
  • नन से दुष्कर्म के आरोपी बिशप जांच अधिकारी के समक्ष पेश
राज्य Share

सारी दुनिया का बोझ उठाने वाले करेंगे रेल रोको आंदोलन

सारी दुनिया का बोझ उठाने वाले करेंगे रेल रोको आंदोलन

लखनऊ 06 सितम्बर (वार्ता) रेलवे में नौकरी की मांग को लेकर देश भर के कुली सात सितम्बर से रेल रोको आंदोलन की शुरूआत करेंगे।

रेलवे कुली राष्ट्रीय महासंघ के अध्यक्ष फतेह मोहम्मद ने गुरूवार को कहा कि आधुनिक दौर में पहिया लगे सूटकेश और अन्य सामान के कारण कुलियों का बचा खुचा धंधा भी चौपट हो गया है। इसके चलते उनका परिवार भुखमरी की कगार पर पहुंच चुका है। वर्ष 2008 में केन्द्रीय रेलमंत्री लालू प्रसाद यादव ने उनकी सुधि ली थी और उनके प्रयास से कुछ कुलियों को लाइन मैन की नौकरी मिल गयी थी मगर उसके बाद सरकार ने उनसे मुंह फेर लिया।

श्री मोहम्मद ने बताया कि उनकी रेलवे प्रशासन और सरकार से मांग है कि कुलियों की माली हालत के मद्देनजर उन्हे एक बार फिर लाइनमैन अथवा इसके समकक्ष चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की नौकरी दी जाये जिससे उनका परिवार भुखमरी और बदहाली का जीवन छोडकर आमजन की तरह जीवन व्यतीत कर सके। इसके लिये उन्होने एक पत्र रेलवे बोर्ड के चेयनमैन को लिखा है और उनसे इस संवेदनशील विषय पर गंभीरता से निर्णय लेने का आग्रह किया है।

कुली संघ के नेता ने कहा कि अगर सरकार इस दिशा में कोई कदम नही उठाती है तो कुली कल से चरणबद्ध तरीके से रेल रोको आंदोलन करेंगे जिसकी पूरी जिम्मेदारी सरकार और रेलवे प्रशासन की होगी।

ज्ञातव्य है कि लखनऊ के चारबाग और जंक्शन स्टेशन पर करीब 400 कुली कार्यरत हैं।

प्रदीप

वार्ता

image