Thursday, Jun 27 2019 | Time 08:23 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • चीन में विस्फोट से छह लोगों की मौत
  • मेडागास्कर के स्टेडियम में भगदड़ से 15 लोगों की मौत 75घायल
  • महिला की पीट-पीटकर हत्या
  • नाइजीरियाई सेना ने 21 आतंकवादियों काे मार गिराया
राज्य


राजस्थानी मेहनत से लिखते हैं तकदीर-वसुंधरा

राजस्थानी मेहनत से लिखते हैं तकदीर-वसुंधरा

चूरू 11 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने राजस्थानियों को मेहनती तथा मेहनत से तकदीर लिखने वाले बताते हुए कहा है कि सभी के एकमुखी और एक लक्ष्य लेकर चलने पर आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता।

श्रीमती राजे आज चूरू एवं रतनगढ़ में आमसभाओं में बोल रही थीं। उन्होंने कहा कि राजस्थानी अपने हुनर और मेहनत से अपनी तकदीर लिखना जानते हैं और जो मन में ठान लेते हैं, उसे पूरा करके ही दम लेते हैं। अगर सभी एकमुखी होकर और एक लक्ष्य लेकर चलेंगे तो आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता।

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण विद्युतीकरण योजना और सौभाग्य योजना के माध्यम से आगामी मार्च तक प्रदेश के हर गांव-ढाणी तक बिजली पहुंचा देगी और हर घर को कम से कम एक बल्ब के माध्यम से रोशन करने का काम किया जाएगा।

उन्होंने चूरू में सभा को सम्बोधित करते हुए स्वतंतत्रता सेनानी चंदनमल बहड़ एवं हनुमानसिंह बुड़ानिया और चूरू में शिक्षा की अलख जगाने वाले स्वामी गोपालदास को याद किया। उन्होंने भारत-पाक युद्ध के शहीद अस्त अली खां, करगिल युद्ध के शहीद सुमेर सिंह सहित सभी शहीदों को नमन करते हुए कहा कि हमारी सरकार अब 1947 के बाद से 1971 तक के शहीदों के परिवार के सदस्यों को भी सरकारी नौकरी दे रही है। उन्होंने कहा कि सरकार ने पूर्व सैनिकों को राज्य सेवा में पांच प्रतिशत आरक्षण देने का काम भी किया है।

श्रीमती राजे रतनगढ़ की जनसभा में कहा कि उनकी भाजपा सरकार ने किसानों और पशुपालकों को संबल देकर उनकी उन्नति के लिए कई काम किए हैं। प्रदेश में पहली बार 30 लाख किसानों का नौ हजार करोड़ रूपए का कर्ज माफ किया गया है। पहले 50 प्रतिशत फसल खराबे पर मुआवजा दिए जाने का प्रावधान था लेकिन हमारी मांग पर केन्द्र सरकार ने किसानों को राहत देते हुए 33 प्रतिशत खराबे पर ही मुआवजे का प्रावधान किया। उन्होंने कहा कि सहकारी बैंकों के माध्यम से 80 हजार करोड़ रूपए का ऋण इस वर्ष के अंत तक किसानों को दिया जाएगा। साथ ही, सहकारी बैंकों के फसली ऋण में दुर्घटना बीमा की राशि 50 हजार से बढ़ाकर 10 लाख की गई है।

More News
पंचतत्व में विलीन हुए स्वामी सत्यमित्रानंद

पंचतत्व में विलीन हुए स्वामी सत्यमित्रानंद

26 Jun 2019 | 11:56 PM

हरिद्वार, 26 जून (वार्ता) पद्मभूषण स्वामी सत्यमित्रानंद गिरि बुधवार को पंचतत्व में विलीन हो गये। उनके पार्थिक शरीर को आज हरिद्वार में उनके निवास स्थान राघव कुटीर में भू समाधि दी गयी।

see more..
image