Friday, Apr 26 2019 | Time 17:34 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पंजाबी पॉप गायक दलेर मेहंदी भाजपा में शामिल
  • रुपया 23 पैसे मजबूत
  • विमानवाहक पोत विक्रमादित्य में आग , नौसेना अधिकारी की मौत
  • दस सप्ताह में पहली बार घटा विदेशी मुद्रा भंडार
  • पुलवामा हमले को लेकर एच डी कुमारस्वामी पर आपराधिक मामला
  • विदेशी मुद्रा भंडार 73 92 करोड़ डॉलर घटा
  • माउंट अन्नपूर्णा में फंसे मलेशियाई पर्वतारोही सुरक्षित
  • येद्दियुरप्पा ने चुनाव आयोग से मांगा स्पष्टीकरण
  • हैम्पशायर के लिये जून में काउंटी खेलेंगे रहाणे
  • लोगों पर से उतर गया चाय का नशा,संभल कर करें वाेटिंग: अखिलेश
  • सायना और समीर क्वार्टरफाइनल में हारे
  • सायना और समीर क्वार्टरफाइनल में हारे
  • अकाली नेता अनिल चोपड़ा कांग्रेस में शामिल
  • नायडू ने सीईओ की चुनाव आयोग से की शिकायत
पार्लियामेंट


राज्यसभा की कार्यवाही कल तक लिए स्थगित

राज्यसभा की कार्यवाही कल तक लिए स्थगित

नयी दिल्ली, 11 फरवरी (वार्ता) विभिन्न मुद्दों पर विपक्ष के हंगामे के कारण आज राज्यसभा की कार्यवाही भारी शोर शराबे के बीच दिनभर के लिए स्थगित कर दी गयी।

भोजनावकाश के बाद सदन की कार्यवाही शुरू करते हुए उप सभापति हरिवंश ने कहा कि कल सुबह 10 बजे केंद्रीय कक्ष में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के तैलचित्र का अनावरण हाेगा और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी इस अवसर पर मौजूद रहेंगे। इसके बाद उन्होंने राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा के लिए भारतीय जनता पार्टी के भूपेंद्र यादव का नाम पुकारा तो तृणमूल कांग्रेस और तेलुगू देशम पार्टी के सदस्य नारेबाजी करते हुए आसन के समक्ष आ गये। तेदेपा के सदस्य अपने हाथों में तख्तियां लिये हुये थे। इस दौरान कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के सदस्य भी अपनी सीटों पर खड़े होकर शोर शराबा करने लगे।

श्री हरिवंश ने विपक्षी सदस्यों से शांत हाेने और धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा होने देने की अपील की। उन्होेंने कहा कि धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा करना सदस्यों का सांविधानिक कर्तव्य है जिसे पूरा किया जाना चाहिए। इस बीच संसदीय कार्यमंत्री विजय गोयल भी कुछ बाेलते रहे जो शाेर शराबे के बीच सुनाई नहीं दिया।

नारेबाजी और शाेर शराबे के बीच सदन में कांग्रेस के उप नेता आनंद शर्मा ने कुछ कहने का प्रयास किया तो श्री हरिवंश ने कहा कि सदन में व्यवस्था बने तो आपकी बात सुनूं। इसके बाद उप सभापति ने सदन की कार्यवाही कल तक के लिये स्थगित करने की घोषणा कर दी।

इससे पहले सुबह सदन की कार्यवाही शुरू होने और आवश्यक दस्तावेज सदन पटल पर रखे जाने के बाद बहुजन समाज पार्टी के सतीश चन्द्र मिश्रा और इसी पार्टी के अन्य सदस्यों ने उत्तर प्रदेश से सम्बद्ध कुछ मुद्दाें को उठाना चाहा। इसी दौरान तेलुगूदेशम पार्टी के सदस्य सदन के बीचोबीच आ गये। इनमें से एक सदस्य तख्ती दिखाने लगा।

हंगामे के दौरान ही जनजातीय मामलों के मंत्री जुएल ओराम ने अनुसूचित जनजातियां आदेश तीसरा संशोधन विधेयक 2019 और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अनिवासी भारतीय विवाह रजिस्ट्रीकरण विधेयक 2019 पेश किया । इसका कांग्रेस के सदस्यों ने विरोध किया और उसके कुछ सदस्य सदन के बीच में आ गये। सभापति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि विधेयक पर चर्चा नहीं हो रही है।

श्री नायडू ने कहा कि कुछ सदस्यों ने नियम 267 के तहत नोटिस दिया है जिसे अस्वीकार कर दिया गया है। उन्होंने सदस्यों से बार-बार शांत रहने की अपील की, लेकिन सदस्यों का हंगामा जारी रहने पर उन्होंने सदन की कार्यवाही अपराह्न दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

सत्या,अभिनव

वार्ता

image