Monday, Jul 15 2024 | Time 10:28 Hrs(IST)
image
भारत


हरियाणा से छठी बार संसद पहुंचने वाले पहले नेता हैं राव इंद्रजीत

हरियाणा से  छठी बार संसद पहुंचने वाले पहले नेता हैं राव इंद्रजीत

नयी दिल्ली 09 जून (वार्ता) हरियाणा की गुरूग्राम लोकसभा सीट से वर्ष 2009 से लगातार जीत रहे राव इंद्रजीत छठी बार लोकसभा पहुंचने वाले हरियाणा के पहले नेता बन गये हैं।

श्री इंद्रजीत सिंह वर्ष 1857 के पहले स्वतंत्रता संग्राम की क्रांति के महान सपूत राव तुलाराम के वंशज हैं और उन्होंने देश की राजनीति में कई रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं। गुड़गांव लोकसभा सीट पर सबसे अधिक 60.34 फीसदी वोट हासिल करने का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम है। इस लिहाज से आजादी के बाद हुए अब तक के चुनाव में राव इंद्रजीत ने सबसे ज्यादा वोट लेने का रिकॉर्ड साल 2019 के चुनाव में ही बनाया था। गुड़गांव लोकसभा से जीत की हैट्रिक लगाने वाले भी वह पहले राजनेता है। वह छठी बार लोकसभा पहुंचने वाले हरियाणा के पहले नेता हैं।

राव इंद्रजीत सिंह ने अपनी सियासी पारी का आगाज वर्ष 1977 में कांग्रेस नेता के रूप में जाटूसाना विधानसभा (अब कोसली) से किया था। इस इस सीट से चार बार जीते।

उनका लोकसभा का सफर 1998 में महेन्द्रगढ सीट से शुरू हुआ और उन्हें पहले चुनाव में ही जीत मिली। हालांकि अगले ही चुनाव यानी साल 1999 के चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा लेकिन अगले चुनाव यानी साल 2004 के चुनाव में उन्होंने अपने प्रतिद्वंदियों से अपनी हार का बदला चुकता कर लिया। वर्ष 2004 में वह फिर महेंद्रगढ़ से चौदहवीं लोक सभा के लिए निर्वाचित हुए। मई 2004 में उन्हें केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री बनाया गया। वर्ष 2006 तक वह इस जिम्मेदारी को निभाते रहे। फरवरी 2006 से 2009 तक राव केंद्रीय रक्षा उत्पादन राज्य मंत्री रहे।

वर्ष 2008 में हुए परिसीमन में गुड़गांव को फिर से लोकसभा क्षेत्र बनाया गया। परिसीमन के बाद 2009 में पंद्रहवीं लोकसभा के लिए चुनाव हुआ और क्षेत्र बदलने के बाद भी राव ने जीत हासिल की। यह संसद सदस्य के रूप में उनका तीसरा कार्यकाल था। उन्हें 31 अगस्‍त 2009 को संसद की सूचना प्रौद्योगिकी संबंधी स्थायी समिति का अध्यक्ष बनाया गया। मई 2014 में उन्होंने गुड़गांव से सोलहवीं लोकसभा का चुनाव लड़ा और जीत हासिल की। वर्ष 2014 में वह केन्‍द्रीय राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) योजना सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन एवं योजना बनाए गए।

मई 2019 में उन्होंने गुड़गांव से जीत की हैट्रिक लगाते हुए सत्रहवीं लोक सभा के लिए निर्वाचित सदस्य के रूप में संसद में प्रवेश किया। बतौर सांसद उनका पांचवा कार्यकाल रहा। जून 2019 से लेकर संसद भंग होने तक वह केन्द्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), योजना, सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन बने रह। वर्ष 2024 में उनकी लोकसभा चुनाव में छठी जीत है।

संजीव

वार्ता

More News
केजरीवाल के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रही भाजपा:आप

केजरीवाल के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रही भाजपा:आप

14 Jul 2024 | 10:40 PM

नयी दिल्ली 14 जुलाई (वार्ता) आम आदमी पार्टी (आप) ने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) जेल में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के स्वास्थ्य को पूरी तरह क्षति पहुँचाने का षड्यंत्र कर रही है।

see more..
मोदी के एक्स पर रिकॉर्ड 10 करोड़ फॉलोअर्स हुए

मोदी के एक्स पर रिकॉर्ड 10 करोड़ फॉलोअर्स हुए

14 Jul 2024 | 10:12 PM

नयी दिल्ली 14 जुलाई (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सोशल मीडिया पर देश और दुनिया में लोकप्रियता निरंतर बढ रही है और सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर उनके फॉलोअर्स की संख्या 100 मिलियन यानी दस करोड़ हो गयी है जिससे वह दुनिया में ऐसी हस्ती के रूप में उभरे हैं जिसके सबसे अधिक फॉलोअर्स हैं।

see more..
मुस्लिम बोर्ड गुजारा भत्ते पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का करेगा विरोध

मुस्लिम बोर्ड गुजारा भत्ते पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का करेगा विरोध

14 Jul 2024 | 7:12 PM

नयी दिल्ली 14 जुलाई (वार्ता) ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) ने रविवार को अपने अध्यक्ष को तलाकशुदा मुस्लिम महिलाओं के अनिवार्य भरण-पोषण पर उच्चतम न्यायालय के फैसले को वापस लेने के उपाय शुरू करने के लिए अधिकृत किया।

see more..
जयशंकर व सांगियाम्पोंगसा ने मजबूत द्विपक्षीय संबंधों की इच्छा दोहराई

जयशंकर व सांगियाम्पोंगसा ने मजबूत द्विपक्षीय संबंधों की इच्छा दोहराई

14 Jul 2024 | 4:41 PM

नयी दिल्ली, 14 जुलाई (वार्ता) थाईलैंड के विदेश मंत्री मारिस सांगियाम्पोंगसा ने विदेश मंत्री एस. जयशंकर के साथ बातचीत के दौरान दोनों पक्षों ने अपने प्रधानमंत्रियों के दृष्टिकोण के अनुरूप भारत-थाईलैंड में द्विपक्षी संबंधों की इच्छा दोहराई है।

see more..
image