Thursday, Sep 19 2019 | Time 13:48 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भारतीय टीम अपराजेय नहीं: बावुमा
  • भारतीय टीम अपराजेय नहीं: बावुमा
  • तेज रफ्तार बस की चपेट में आने से युवक की मौत
  • सुरेन्द्र नागर और संजय सेठ ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली
  • कोलकाता में व्यक्ति ने मेट्रो के सामने कूद कर दी जान
  • निम्रिता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर विशेषग्यों ने उठाए सवाल
  • सडक हादसे में चालक सहित चार की मौत
  • अफगानिस्तान के खाेजिआनी जिले में हवाई हमले में 30 की मौत, 45 घायल
  • मरने के बाद भी ‘करवट’ बदलते हैं लोग:अनुसंधान
  • आइफा में रणवीर और आलिया का जलवा
  • आइफा में रणवीर और आलिया का जलवा
  • आइफा में रणवीर और आलिया का जलवा
  • प्रियंका दीदी से तुलना नही कर सकती : मीरा चोपड़ा
  • प्रियंका दीदी से तुलना नही कर सकती : मीरा चोपड़ा
  • प्रियंका दीदी से तुलना नही कर सकती : मीरा चोपड़ा
भारत


दिल्ली, मप्र, हिमाचल, तेलंगाना के मुख्य न्यायाधीशों के नाम की सिफारिश

दिल्ली, मप्र, हिमाचल, तेलंगाना के मुख्य न्यायाधीशों के नाम की सिफारिश

नयी दिल्ली, 13 मई (वार्ता) उच्चतम न्यायालय कॉलेजियम ने दिल्ली, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और तेलंगाना उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों के नाम की सिफारिश की है।

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाले कॉलेजियम ने झारखंड उच्च न्यायालय के वरिष्ठ न्यायाधीश डी. एन. पटेल को दिल्ली उच्च न्यायालय और बॉम्बे उच्च न्यायालय के वरिष्ठ न्यायाधीश अकिल कुरैशी को मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त करने की सिफारिश की है।

कॉलेजियम ने तेलंगाना उच्च न्यायालय में पदस्थापित न्यायमूर्ति वी रामसुब्रमण्यम को हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय तथा तेलंगाना के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश राघवेन्द्र सिंह चौहान को स्थायी तौर पर मुख्य न्यायाधीश पद पर तैनात करने की सिफारिश की है।

न्यायमूर्ति पटेल दिल्ली उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश राजेंद्र मेनन को स्थान लेंगे, जो इस वर्ष जून में सेवानिवृत्त हो रहे हैं। मार्च 1960 में जन्मे न्यायमूर्ति पटेल ने 1984 में विधि स्नातक और 1986 में विधि में मास्टर डिग्री प्राप्त की थी।

उन्हें मार्च 2004 में गुजरात उच्च न्यायालय का अतिरिक्त न्यायाधीश नियुक्त किया गया था और दो साल बाद उन्हें स्थायी नियुक्ति दी गयी। उन्हें 2009 में झारखंड उच्च न्यायालय में स्थानांतरित किया गया था। वह 2013 से 2018 के बीच झारखंड उच्च न्यायालय के कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश के तौर पर चार बार कार्य कर चुके हैं।

न्यायमूर्ति अकिल कुरैशी मध्य प्रदेश के वर्तमान मुख्य न्यायाधीश एस. के. सेठ का स्थान लेंगे जो आठ जून को सेवानिवृत्त होने वाले हैं। उनका पिछले साल नवंबर में बाॅम्बे उच्च न्यायालय में तबादल किया गया था।

न्यायमूर्ति कुरैशी ने एलएलबी की डिग्री ग्रहण करने के बाद 1983 से अपने अधिवक्ता जीवन की शुरुआत की थी और मार्च 2004 में उन्हें गुजरात उच्च न्यायालय का अतिरिक्त न्यायाधीश नियुक्त किया गया था। वर्ष 2005 में वह स्थाई न्यायाधीश बने।

More News

मरने के बाद भी ‘करवट’ बदलते हैं लोग:अनुसंधान

19 Sep 2019 | 1:14 PM

केनबरा 19 सितम्बर (वार्ता) सुनने में यह किसी अजूबे-सा हो सकता है कि इंसान मरने के बाद भी ‘करवट’ बदलने से लेकर अपनी शारीरिक अवस्थाओं में महत्वपूर्ण बदलाव कर सकता है,लेकिन यह सच है और वैज्ञानिकों की यह नवीनतम खोज फोरेसिंक विशेषज्ञों के लिए जांच में मील का पत्थर साबित होगी।

see more..
राजनाथ ने लड़ाकू विमान तेजस में भरी उड़ान

राजनाथ ने लड़ाकू विमान तेजस में भरी उड़ान

19 Sep 2019 | 11:01 AM

नयी दिल्ली, 19 सितंबर (वार्ता) रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने देश में ही बनाये गये हल्के लड़ाकू विमान तेजस में गुरुवार को उड़ान भरी।

see more..
सिगरेट, पान मसाला पर भी प्रतिबंध लगाए सरकार : कांग्रेस

सिगरेट, पान मसाला पर भी प्रतिबंध लगाए सरकार : कांग्रेस

18 Sep 2019 | 11:44 PM

नयी दिल्ली ,18 सितंबर (वार्ता) कांग्रेस ने ई-सिगरेट के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाने के सरकार के फैसले के बाद आज सवाल किया कि क्या वह ई-सिगरेट की तरह परंपरागत सिगरेट और पान मसाले की बिक्री पर भी रोक लगाएगी।

see more..
image