Thursday, Jul 18 2019 | Time 16:20 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाना सरकार की बड़ी सफलता : निशिकांत
  • चौतरफा बिकवाली से सेंसेक्स धड़ाम
  • आठ हजार से अधिक भारतीय विदेशी जेलों में
  • फर्जी राशन कार्ड पर कालाबाजारी के मामले की सदन की कमेटी करेगी जांच
  • पंचकूला की काजमपुर पंचायत अब रायपुरानी में शामिल
  • लिंग निर्धारण की सूचना देने वालों को ईनाम, 60 आरोपी गिरफ्तार, 14 मशीनें सील: सिद्धू
  • तमिलनाडु में वैन नहर में गिरी, छह मरे, 12 घायल
  • दिल्ली की 1797 अनधिकृत कालोनियां होगीं नियमित: केजरीवाल
  • सेंसेक्स 318 अंक और निफ्टी 91 अंक लुढ़का
  • 'आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस' का बड़ा केंद्र बनाना चाहते हैं मध्यप्रदेश को - कमलनाथ
  • सूरत में हीरा कारीगर ने की खुदकुशी
  • मंत्री या राजनयिक के तौर पर सरकार की नीति का पालन करना होता है: जयशंकर
  • रायसेन में छह स्कूली बच्चों के अपहरण का प्रयास
भारत


मलयाली उपन्यास ‘मीशा’ पर प्रतिबंध से सुप्रीम कोर्ट का इन्कार

मलयाली उपन्यास ‘मीशा’ पर प्रतिबंध से सुप्रीम कोर्ट का इन्कार

नयी दिल्ली, 05 सितम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने लेखक एस हरीश के मलयाली उपन्यास ‘मीशा’ को प्रतिबंधित करने से बुधवार को इन्कार कर दिया।

मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर और न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ की खंडपीठ ने याचिकाकर्ता एन राधाकृष्णन की याचिका यह कहते हुए खारिज कर दी कि किसी लेखक की कल्पना पर रोक नहीं लगायी जा सकती। लेखक की कल्पना को संरक्षण मिलना चाहिए।

न्यायमूर्ति मिश्रा ने कहा, “संविधान में साफ स्पष्ट है कि किसी भी शख्स को अपने विचारों को रखने का अधिकार है। एक लेखक अपने चारों तरफ के वातावरण को देखता है, उसे अनुभव करता है और अपनी कल्पना को शब्दों के जरिये बयां करता है। आप किसी शख्स का विरोध तो कर सकते हैं, लेकिन आपको उसे गलत ठहराने के लिए तार्किक आधार पर अपनी बात कहनी होगी।”

उल्लेखनीय है कि मलयाली लेखक एस हरीश के उपन्यास पर कुछ हिंदूवादी संगठनों को ऐतराज था। उपन्यास मीशा के कुछ अंश सोशल मीडिया में वायरल हो गए थे।

More News
दिल्ली में बारिश ने बदला मौसम का मिजाज

दिल्ली में बारिश ने बदला मौसम का मिजाज

18 Jul 2019 | 1:53 PM

नयी दिल्ली, 18 जुलाई (वार्ता) राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गुरुवार सुबह हुयी हल्की बारिश से लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली।

see more..
अयोध्या विवाद: मध्यस्थता अवधि 31 जुलाई तक बढ़ी

अयोध्या विवाद: मध्यस्थता अवधि 31 जुलाई तक बढ़ी

18 Jul 2019 | 1:17 PM

नयी दिल्ली, 18 जुलाई (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद मामले में मध्यस्थता प्रक्रिया की अवधि 31 जुलाई तक बढ़ा दी है।

see more..
जरुरत हुयी तो अयोध्या मामले में सुनवायी दो अगस्त से

जरुरत हुयी तो अयोध्या मामले में सुनवायी दो अगस्त से

18 Jul 2019 | 11:32 AM

नयी दिल्ली 18 जुलाई (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने अयोध्या के राम जन्म भूमि बाबरी मस्जिद जमीन विवाद मामले में मध्यस्थता समिति को 31 जुलाई तक मध्यस्थता संबंधी परिणाम से उसे अवगत कराने का निर्देश दिया है।

see more..
image