Thursday, Jun 20 2019 | Time 22:33 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • हिमाचल में बस खाई में गिरी, 32 लोगों की मौत और 33 घायल
  • हिमाचल में बस खाई में गिरी, 30 लोगों की मौत और 33 घायल
  • म्यांमार के चुनाव अधिकारियों को चुनाव प्रबंधन के गुर सिखाए गए
  • हत्या करने वाले गिरोह का इनामी बदमाश गिरफ्तार
  • अमरनाथ यात्रा के इंतजामों की समीक्षा के लिए उच्च स्तरीय बैठक
  • फोटो कैप्शन तीसरा सेट
  • मुरादाबाद में दबंगों की युवती के पिता की हत्या,चार गिरफ्तार
  • परामर्श
  • प्रधानमंत्री चमकी बुखार का जायजा लेने बिहार आयें : डॉ ठाकुर
  • प्रधानमंत्री चमकी बुखार का जायजा लेने बिहार आयें-डॉ ठाकुर
  • कुल्लू बस दुर्घटना पर राष्ट्रपति ने गहरा दुख जताया
  • लू प्रभावित मरीजों को उपलब्ध कराई जाएगी चिकित्सा सुविधा : नीतीश
  • ईरान ने बहुत बड़ी गलती कर दी :ट्रंप
  • केरल ने तमिलनाडु को 20 लाख लीटर पेयजल देने की पेशकश की
  • मोदी और राहुल ने कुल्लू बस दुर्घटना पर शोक व्यक्त किया
बिजनेस


सेंसेक्स 332 अंक लुढ़का;निफ्टी 98 अंक टूटा

सेंसेक्स 332 अंक लुढ़का;निफ्टी 98 अंक टूटा

मुम्बई 03 सितंबर (वार्ता) अधिकतर विदेशी बाजारों के गिरावट में रहने की खबरों के बीच घरेलू निवेशकों की चौतरफा बिकवाली से बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 332.55 अंक की भारी गिरावट के साथ 38,312.52 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 98.15 अंक लुढ़ककर 11,582.35 अंक पर बंद हुअा।

आईटी सेवा प्रदाता कंपनी विप्रो को डेढ़ अरब डॉलर का ठेका मिलने की खबर और गत सप्ताह शुक्रवार को जारी सकल घरेलू उत्पाद के सकारात्मक आंकड़े के दम पर सेंसेक्स तेजी के साथ 38,915.91 अंक पर खुला। कारोबार के शुरूआती पहर में यह 38,934.35 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंचा। लेकिन अपराह्न में विनिर्माण क्षेत्र की गतिविधियों के अगस्त में सुस्त पड़ने और कुछ राज्यों में ठोस कचरा प्रबंधन की दिशा में राज्य सरकारों द्वारा पर्याप्त कदम न उठाये जाने से उच्चतम न्यायालय द्वारा आठ अक्टूबर तक निर्माण पर पूर्ण रोक लगाने संबंधी मीडिया में आयी खबरों से शेयर बाजार में हड़कंप मच गया। इसके साथ अमेरिका और चीन के बीच जारी तनातनी भी निवेशकों पर हावी रही।

खबरों के मुताबिक उच्चतम न्यायालय ने ठोस कचरा प्रबंधन को लेकर महाराष्ट्र,उत्तराखंड और मध्यप्रदेश में निर्माण पर एक माह के लिये पूर्ण रोक लगा दी है। रिएल्टी के सूचकांक में 1.22 प्रतिशत की गिरावट रही। प्रतिकूल निवेश धारणा के कारण सेंसेक्स 38,270.01 अंक के दिवस के निचले स्तर तक लुढ़का और अंतत: गत दिवस की तुलना में 0.86 प्रतिशत की गिरावट में 38,312.52 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से मात्र नौ कंपनियां तेजी में रहीं।

निफ्टी की शुरूआत भी बढ़त में 11,751.80 अंक से हुई और यही इसका दिवस का उच्चतम स्तर भी रहा। कारोबार के दौरान 11,567.40 अंक के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस की तुलना में 0.84 प्रतिशत की गिरावट में 11,582.35 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 33 कंपनियां गिरावट में और शेष 17 तेजी में रहीं।

छोटी और मंझोली कंपनियों पर भी बिकवाली का दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 76.56 अंक यानी 0.45 प्रतिशत की गिरावट में 16,804.77 अंक पर और स्मॉलकैप 0.17 प्रतिशत यानी 28.80 अंक की गिरावट में 17,164.40 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई में कुल 2,969 कंपनियों में कारोबार हुआ जिनमें 217 कंपनियों के शेयर दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद अपरिवर्तित रहे जबकि 1,399 कंपनियों में गिरावट और 1,353 में तेजी रही।

अर्चना

जारी वार्ता

image