Sunday, Sep 20 2020 | Time 12:43 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • किसानों को पूंजीपतियों का ‘गुलाम बना’ रहे हैं मोदी:राहुल
  • अनुबंध कृषि से कारपोरेट घरानों का जमीन पर कब्जा होगा :कांग्रेस
  • अफगानिस्तान में मुठभेड़, 17 तालिबान आतंकवादी ढेर
  • अवैध गांजे के साथ युवक गिरफ्तार
  • बलरामपुर में जेल में बंद सपा के पूर्व विघायक पर दो और मुकदमा
  • निफ्टी में साप्ताहिक बढ़त, सेंसेक्स में मामूली गिरावट
  • मध्य प्रदेश एक लाख से अधिक कोरोना संक्रमितों वाला 16वां राज्य बना
  • भुज-दादर के बीच चलेगी स्पेशल ट्रेन
  • पेमा खांडू की जांच रिपोर्ट नेगेटिव
  • कृषि सुधार से किसानों के जीवन में क्रांतिकारी बदलाव आयेगा :तोमर
  • चीन में कोरोना संक्रमण के 10 नये मामले
  • किसानों से जुड़े विधयेक को पारित होने से रोकने में गैर-भाजपा दल एक हो : केजरीवाल
  • एक दिन में 12 लाख से अधिक नमूनों का रिकार्ड परीक्षण
  • विश्व में कोरोना से 3 06 करोड़ संक्रमित, 9 55 लाख की मौत
  • कोरोना संक्रमण के आंकड़े 54 लाख से अधिक
मनोरंजन » कला एवं रंगमंच


स्मिता पाटिल ने समानांतर फिल्मों को नया आयाम दिया

स्मिता पाटिल ने समानांतर फिल्मों को नया आयाम दिया

.. पुण्यतिथि 13 दिसंबर  ..
मुंबई 12 दिसंबर (वार्ता) भारतीय सिनेमा के नभमंडल में स्मिता पाटिल ऐसे ध्रुवतारे की तरह है जिन्होंने अपने सशक्त अभिनय से समानांतर सिनेमा के साथ-साथ व्यावसायिक सिनेमा में भी दर्शकों के बीच अपनी खास पहचान बनायी ।

सत्रह अक्तूबर 1955 को पुणे शहर में जन्मी स्मिता ने अपनी स्कूल की पढ़ाई महाराष्ट्र से पूरी की ।
उनके पिता शिवाजी राय पाटिल महाराष्ट्र सरकार में मंत्री थे जबकि उनकी मां समाज सेविका थी।
कॉलेज की पढ़ाई पूरी करने के बाद वह मराठी टेलीविजन में बतौर समाचार वाचिका काम करने लगी ।
इसी दौरान उनकी मुलाकात जाने माने निर्माता. निर्देशक श्याम बेनेगल से हुयी।
बेनेगल उन दिनों अपनी फिल्म ..चरण दास चोर ..बनाने की तैयारी में थे ।

बेनेगल ने स्मिता में एक उभरता हुआ सितारा दिखाई दिया और अपनी फिल्म ..चरण दास चोर ..में उन्हें एक छोटी सी भूमिका निभाने का अवसर दिया ।
भारतीय सिनेमा जगत में चरण दास चोर को ऐतिहासिक फिल्म के तौर पर याद किया जाता है क्योंकि इसी फिल्म के माध्यम से बेनेगल और स्मिता के रूप में कलात्मक फिल्मों के दो दिग्गजों का आगमन हुआ ।

बेनेगल ने स्मिता के बारे मे एक बार कहा था, “ मैंने पहली नजर में ही समझ लिया था कि स्मिता में गजब की स्क्रीन उपस्थिति है और जिसका उपयोग रूपहले पर्दे पर किया जा सकता है ।
फिल्म ..चरण दास चोर .. हालांकि बाल फिल्म थी लेकिन इस फिल्म के जरिये स्मिता ने बता दिया था कि हिंदी फिल्मों मे खासकर यथार्थवादी सिनेमा में एक नया नाम स्मिता पाटिल के रूप में जुड़ गया है ।

इसके बाद वर्ष 1975 मे बेनेगल की ही निर्मित फिल्म ..निशांत.. मे स्मिता को काम करने का मौका मिला ।
वर्ष 1977 स्मिता के सिने कैरियर में अहम पड़ाव साबित हुआ ।
इस वर्ष उनकी भूमिका और मंथन जैसी सफल फिल्में प्रदर्शित हुयी।
दुग्ध क्रांति पर बनी फिल्म ..मंथन ..में स्मिता के अभिनय ने नये रंग दर्शको को देखने को मिले ।
इस फिल्म के निर्माण के लिये गुजरात के लगभग पांच लाख किसानों ने अपनी प्रति दिन की मिलने वाली मजदूरी में से ..दो-दो.. रूपये फिल्म निर्माताओं को दिये और बाद में जब यह फिल्म प्रदर्शित हुयी तो यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट साबित हुयी ।

वर्ष 1977 में स्मिता की ..भूमिका ..भी प्रदर्शित हुयी जिसमें स्मिता पाटिल ने 30..40 के दशक में मराठी रंगमच की जुड़ी अभिनेत्री ..हंसा वाडेकर .. की निजी जिंदगी को रूपहले पर्दे पर बहुत अच्छी तरह साकार किया ।
फिल्म भूमिका में अपने दमदार अभिनय के लिये वह राष्ट्रीय पुरस्कार से भी सम्मानित की गयी ।
मंथन और भूमिका जैसी फिल्मों मे उन्होंने कलात्मक फिल्मों के महारथी नसीरूदीन शाह .शबाना आजमी .अमोल पालेकर और अमरीश पुरी जैसे कलाकारों के साथ काम किया और अपनी अदाकारी का जौहर दिखाकर अपना सिक्का जमाने मे कामयाब हुयी ।

फिल्म ..भूमिका ..से स्मिता का जो सफर शुरू हुआ वह चक्र .निशांत .आक्रोश .गिद्ध.अल्बर्ट पिंटो को गुस्सा क्यों आता है और मिर्च मसाला जैसी फिल्मों तक जारी रहा ।
वर्ष 1980 में प्रदर्शित फिल्म ..चक्र .. में स्मिता ने झुग्गी. झोंपड़ी में रहने वाली महिला के किरदार को रूपहले पर्दे पर जीवंत कर दिया।
इसके साथ ही फिल्म ..चक्र..के लिये वह दूसरी बार राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित की गयी ।

अस्सी के दशक में स्मिता ने व्यावसायिक सिनेमा की ओर भी अपना रूख कर लिया ।
इस दौरान उन्हें सुपरस्टार अमिताभ बच्चन के साथ ..नमक हलाल ..और ..शक्ति जैसी फिल्मों में काम करने का अवसर मिला जिसकी सफलता ने बाद स्मिता को व्यावसायिक सिनेमा में भी स्थापित कर दिया।

अस्सी के दशक में स्मिता ने व्यावसायिक सिनेमा के साथ.साथ समानांतर सिनेमा में भी अपना सामंजस्य बिठाये रखा ।
इस दौरान उनकी सुबह.बाजार.भींगी पलकें.अर्थ.अर्द्धसत्य और मंडी जैसी कलात्मक फिल्में और दर्द का रिश्ता.कसम पैदा करने वाले की.आखिर क्यों .गुलामी.अमृत.नजराना और डांस डांस जैसी व्यावसायिक फिल्में प्रदर्शित हुयी जिसमें स्मिता के अभिनय के विविध रूप दर्शकों को देखने को मिले।

वर्ष 1985 में स्मिता की फिल्म ..मिर्च मसाला ..प्रदर्शित हुयी।
सौराष्ट्र की आजादी के पूर्व की पृष्ठभूमि पर बनी इस फिल्म ने निर्देशक केतन मेहता को अंतराष्ट्रीय ख्याति दिलाई थी।
यह फिल्म सांमतवादी व्यवस्था के बीच पिसती औरत की संघर्ष की कहानी बयां करती है जो आज भी स्मिता के सशक्त अभिनय के लिये याद की जाती है।

वर्ष 1985 में भारतीय सिनेमा में उनके अमूल्य योगदान को देखते हुये वह पदमश्री से सम्मानित की गयी ।
हिंदी फिल्मों के अलावा स्मिता ने मराठी.गुजराती.तेलगू.बंग्ला.कन्नड़ और मलयालम फिल्मों में भी अपनी कला का जौहर दिखाया ।
इसके अलावा स्मिता को महान फिल्मकार सत्यजीत रे के साथ भी काम करने का मौका मिला ।
मुंशी प्रेमचंद की कहानी पर आधारित टेलीफिल्म ..सदगति ..स्मिता अभिनीत श्रेष्ठ फिल्मों में आज भी याद की जाती है ।

लगभग दो दशक तक अपने सशक्त अभिनय से दर्शकों के बीच खास पहचान बनाने वाली यह अभिनेत्री महज 31 वर्ष की उम्र में 13 दिसंबर 1986 को इस दुनिया को अलविदा कह गयी ।
स्मिता के निधन के बाद वर्ष 1988 में उनकी फिल्म ..वारिस ..प्रदर्शित हुयी जो उनके सिने कैरियर की महत्वपूर्ण फिल्मों में से एक है ।

 

सोशल

सोशल मीडिया को विषैली और अस्थिर जगह मानती है जैकलीन

मुंबई, 20 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीस सोशल मीडिया को विषैली और अस्थिर जगह मानती है।

सलमान

सलमान ने रिलीज किया फिटनेस वीडियो

मुंबई, 20 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड के दबंग स्टार सलमान खान ने अपना फिटनेस वीडियो सोशल मीडिया पर रिलीज किया है।

आउट

आउट ऑफ लव के दूसरे सीज़न में काम करेंगी रसिका दुग्गल

मुंबई, 20 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री रसिका दुग्गल वेबसीरीज आउट ऑफ लव के दूसरे सीजन में काम करने जा रही है।

रणबीर-श्रद्धा

रणबीर-श्रद्धा की जोड़ी मचायेगी धूम!

मुंबई, 19 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड के रॉकस्टार रणबीर कपूर और श्रद्धा कपूर की जोड़ी सिल्वर स्क्रीन पर धूम मचाती नजर आ सकती है।

ग्राफिक

ग्राफिक नॉवेल पर फिल्म बनायेंगे संजय गुप्ता

मुंबई, 18 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड के जाने-माने फिल्मकार संजय गुप्ता ग्राफिक नॉवेल ‘रक्षक’ पर फिल्म बनाने जा रहे हैं।

अक्षय

अक्षय की 'लक्ष्मी बम' 09 नवंबर को होगी रिलीज

मुंबई, 17 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड के खिलाड़ी कुमार अक्षय कुमार की फिल्म 'लक्ष्मी बम' ओटीटी प्लेटफार्म पर 09 नवंबर को रिलीज होगी।

सोनू

सोनू सूद ने ठगी करने वालों लोगों को दी चेतावनी

मुंबई, 18 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ने उनके नाम पर लोगों से ठगी करने वाले लोगों को चेतावनी दी है।

...बस

...बस आगे बढ़ती रहूंगी : आलिया

मुंबई, 16 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री आलिया भट्ट ने नेपोटिज्म को लेकर जारी बहस के बीच कहा है कि वह लक्ष्य को लेकर आगे बढ़ती रहेंगी।

रजनीकांत

रजनीकांत की फिल्म में विलेन बनेंगे जैकी श्राफ

मुंबई, 18 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड के स्टाइलिश हीरो जैकी श्राफ दक्षिण भारतीय फिल्मों के महानायक रजनीकांत की फिल्म 'अन्नाथे' में विलेन का किरदार निभाते नजर आयेंगे।

इंस्टाग्राम

इंस्टाग्राम पर जरीन के हुये 90 लाख फॉलोअर्स

मुंबई, 16 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री जरीन खान के फॉलोअर्स की संख्या इंस्टाग्राम पर 90 लाख हो गयी है।

राम मंदिर शिलान्यास से स्वर्णिम अक्षरों में लिखा जाएगा आज का दिन : अरुण गोविल

राम मंदिर शिलान्यास से स्वर्णिम अक्षरों में लिखा जाएगा आज का दिन : अरुण गोविल

मुंबई, 05 अगस्त (वार्ता) लोकप्रिय टीवी सीरियल ‘रामायण’ में भगवान श्री राम का किरदार निभाने वाले अरूण गोविल का कहना है कि श्रीराम मंदिर के शिलान्यास से पांच अगस्त का दिन इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों में दर्ज हो जायेगा।

बालीवुड के ‘याहू्’ स्टार थे शम्मी कपूर

बालीवुड के ‘याहू्’ स्टार थे शम्मी कपूर

..पुण्यतिथि 14 अगस्त के अवसर पर ..
मुंबई 14 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड के ‘याहू्’ स्टार कहे जाने वाले शम्मी कपूर ने उदासी, मायूसी और देवदास नुमा अभिनय की परम्परागत शैली को बिल्कुल नकार करके अपने अभिनय की नयी शैली विकसित कर दर्शकों का मनोरंजन किया।

image