Monday, Jun 17 2019 | Time 22:18 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • एआईएमआईएम के पार्षदों का औरंगाबाद महापौर के खिलाफ धरना
  • कपड़ा मजदूरों ने 27 जून को हड़ताल का ऐलान किया
  • जेपी नड्डा को भाजपा का कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाये जाने पर सुशील ने दी बधाई
  • जल सरंक्षण के लिए श्री दरबार साहिब में सयंत्र स्थापित
  • दिल्ली पुलिस की सिख युवक से मारपीट की लोंगोवाल ने की निंदा
  • मरीज की मौत को लेकर हुआ हंगामा
  • स्कूल वैन से गिरे तीन बच्चे घायल
  • 2027 तक भारत सर्वाधिक आबादी वाला देश होगा
  • कुशीनगर से दो तस्कर गिरफ्तार,40 लाख की शराब बरामद
  • ‘वर्ल्‍ड फूड इंडिया नई दिल्‍ली में नवंबर में
  • चमकी बुखार से बच्चों की हुई मौत पर राष्ट्रीय मानवाधिकार का बिहार सरकार को नोटिस
  • उम्रकैद की सजा काट रहे पूर्व विधायक एवं दो साथियों के लाइसेंस निरस्त
  • चंदौली में शराब फैक्ट्री का पर्दाफाश,पांच गिरफ्तार
  • बिहार में लू का कहर जारी : मृतकों की संख्या 100 के पार
  • एसटीएफ ने गोरखपुर से किया इनामी अपराधी को गिरफ्तार।
बिजनेस


स्पाइसजेट शुरू करेगी मालवाहक विमान सेवा

स्पाइसजेट शुरू करेगी मालवाहक विमान सेवा

नयी दिल्ली 10 सितम्बर (वार्ता) किफायती विमान सेवा कंपनी स्पाइसजेट ने आज अपनी मालवाहक विमान सेवा ‘स्पाइस एक्सप्रेस’ शुरू करने की घोषणा की।

स्पाइस एक्सप्रेस की सेवा 18 सितंबर से शुरू होगी। कंपनी ने फिलहाल इसके लिए एक बोइंग 737-700 विमान लीज पर लिया है तथा इस साल के अंत तक तीन और विमान उसके मालवाहक बेड़े में शामिल किये जायेंगे। स्पाइसजेट वर्तमान समय में नियमित यात्री विमान सेवा देने वाली देश की एक मात्र कंपनी है जो मालवाहन विमान सेवा शुरू कर रही है। इससे पहले सरकारी विमान सेवा कंपनी एयर इंडिया ने एयर इंडिया कार्गो की स्थापना की थी, लेकिन वर्ष 2012 से उसका परिचालन बंद है। हालाँकि, यात्री विमानों की ‘बेली’ में भी सामान के लिए जगह होती है, जिसका इस्तेमाल मालवाहन के लिए किया जाता है।

नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने दिल्ली के इंदिरा गाँधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर स्पाइसजेट की ओर से आयोजित संवाददाता सम्मेलन में बताया कि देश में हवाई मार्ग से मालवाहन (कार्गो) के लिए काफी संभावनाएँ हैं। यह नयी शुरुआत है जिससे कार्गो के क्षेत्र की विकास की रफ्तार बढ़ेगी।

उन्होंने कहा कि कार्गो और लॉजिस्टिक्स देश की अर्थव्यवस्था के विकास के लिए महत्त्वपूर्ण हैं। सरकार एक नयी कार्गो नीति बना रही है जिसमें बहुआयामी लॉजिस्टिक समाधान ढूँढ़ने का प्रयास किया जाएगा। मालवाहक विमान सेवा उसका एक महत्वपूर्ण हिस्सा होगा।

श्री सिन्हा ने कहा कि पूर्वोत्तर भारत से अनन्नास, अनन्नास केक, अनन्नास आइसक्रीम, ऑर्चिड जैसे उत्पादों की हवाई मार्ग से डिलिवरी कर उन्हें खराब होने से पहले गंतव्य तक पहुँचाया जा सकता है। नोएडा में बन रहे जेवर हवाई अड्डे के भी बड़े हिस्से में कार्गो की सुविधा होगी। वहाँ से मोबाइल तथा अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामानों का निर्यात भारी मात्रा में होने की संभावना है।

नागरिक उड्डयन सचिव राजीव नयन चौबे ने कहा कि स्पाइसजेट की इस पहल के बाद अन्य विमान सेवा कंपनियाँ भी मालवाहक विमान सेवा क्षेत्र में उतरेंगी।

अजीत/शेखर

जारी (वार्ता)

image