Sunday, Jul 21 2019 | Time 02:22 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • शिकागो में गोलीबारी, दो की मौत, 19 घायल
  • नेतन्याहू ने बनाया इजरायल के सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहने का रिकॉर्ड
  • बहरीन ने ब्रिटेन का टैंकर कब्जे में लेने पर ईरान की आलोचना की
नए सांसद


आसनसोल में स्टार-वार, मुनमुन और बाबुल आमने-सामने

आसनसोल में स्टार-वार, मुनमुन और बाबुल आमने-सामने

आसनसोल 15 अप्रैल (वार्ता) पश्चिम बंगाल की आसनसोल लोकसभा सीट के लिए चुनाव मैदान में दो हस्तियों मुनमुन सेन और बाबुल सुप्रियो के बीच जबदस्त चुनावी जंग छिड़ी है।

आसनसोल से मौजूदा सांसद श्री सुप्रियो इस सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखने के लिए प्रतिबद्ध नजर आ रहे हैं, जबकि बांकुरा से सांसद सुश्री सेन अब बाबुल की सीट छीनने की जुगत में है।

बंगला फिल्म इंडस्ट्री ‘टॉलीवुड’ की आइकॉन सुचित्रा सेन की पुत्री एवं बंगाली फिल्मों के साथ ही बॉलीवुड फिल्मों में अभिनय के जरिये लोकप्रियता बटोरने वाली सुश्री सेन ने राजनीति में भी धमाकेदार एंट्री की थी। सुश्री सेन ने 2014 के आम चुनाव में बांकुरा लोकसभा सीट से तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा और यहां से नौ बार सांसद रहे मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी(माकपा) के वासुदेव आचार्य को हराकर अपनी पहली चुनावी जीत हासिल की। श्री आचार्य 1980 से लगातार सांसद निर्वाचित होते रहें , लेकिन सुश्री सेन के हाथों मात खा गए और बांकुरा में माकपा का राज छिन गया।

तृणमूल कांग्रेस ने इस बार सुश्री सेन को आसनसोल में उम्मीदवार बनाया है और वह श्री सुप्रियो को चुनौती देने के मूड में हैं, हालांकि इस बार सुश्री सेन के लिए आसनसोल की सीट हथिया पाना उतना आसान भी नजर नहीं आ रहा।

मुंबई के रिकार्डिंग स्टूडियो से संसद तक का सफर तय करने वाले श्री सुप्रियो ने 2014 में उस दौर में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की ओर से चुनाव लड़ा और जीता, जब पश्चिम बंगाल में भाजपा को केवल दो ही सीटें हाथ लगी। इनमें एक सीट आसनसोल की थी , जहां से श्री सुप्रियो ने जीत का परचम लहराया ।

सहज एवं सरल व्यवहार के धनी बाबुल ने अपने खिलाफ सुश्री सेन को तृणमूल कांग्रेस की उम्मीदवार घोषित किए जाने पर रोचक टिप्पणी भी की थी। उन्होंने कहा, “ममता जी सेन को ही मेरा विरोधी बनाती आ रही हैं। वर्ष 2014 में डोला सेन और अब 2019 में मुनमुन सेन।”

लोरेटो कॉन्वेंट शिलॉन्ग और लोरेटो हाउस, कोलकाता की पूर्व छात्रा सुश्री सेन ने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से स्नातक किया, जहां श्री इमरान खान (वर्तमान में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री) उनके सहपाठी रहे । उन्होंने बॉलीवुड फिल्मों में अभिनय के अलावा बंगाली, हिंदी, तमिल, तेलुगु, मलयालम, मराठी और कन्नड़ फिल्मों में भी काम किया है। दूसरी ओर श्री सुप्रियो पार्श्वगायक के रूप में मशहूर हैं तथा बांग्ला और हिंदी में अनेक गीतों को स्वरबद्ध किया है।

वर्ष 2014 के आम चुनाव में पश्चिम बंगाल में महज दो सीट हासिल करने वाली भाजपा राज्य में अपना जनाधार और सीटों की संख्या बढ़ाने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है, वहीं तृणमूल कांग्रेस भाजपा को उसकी दो सीटों से भी बेदखल करने की हरसंभव कोशिश कर रही है और आसनसोल से श्री सुप्रियो के मुकाबले सुश्री सेन को खड़ा करना उसकी इसी रणनीति का हिस्सा है।

वर्ष 2014 के चुनाव में आसनसोल सीट से तृणमूल कांग्रेस की उम्मीदवार डोला सेन को पराजित कर चुके श्री सुप्रियो इस बार भी अपनी जीत को लेकर आश्वस्त हैं, जबकि सुश्री सेन का दावा है कि यहां तृणमूल की लहर हैं और उनकी जीत सुनिश्चित है।


टंडन, यामिनी

वार्ता

 

More News
मंडल अध्यक्ष से सांसद तक रेणुका का शानदार सफर

मंडल अध्यक्ष से सांसद तक रेणुका का शानदार सफर

05 Jun 2019 | 6:03 PM

सरगुजा 05 जून (वार्ता) मोदी सरकार में केंद्रीय राज्यमंत्री बनी रेणुका सिंह का भारतीय जनता पार्टी की मंडल अध्यक्ष से लेकर सांसद बनने तक का शानदार सफर रहा है।

see more..
जनवितरण प्रणाली दुकानदार से सासंद बने विजय कुमार मांझी

जनवितरण प्रणाली दुकानदार से सासंद बने विजय कुमार मांझी

03 Jun 2019 | 3:03 PM

गया 03 जून (वार्ता) कभी गरीबी में परिवार का भरण-पोषण करने के लिये जन वितरण प्रणाली दुकान चलाने वाले विजय कुमार मांझी ने पहले विधायक और फिर सासंद बनकर सफलता की नयी इबारत लिखी है।

see more..
छात्र नेता से सांसद बने गोपाल जी ठाकुर

छात्र नेता से सांसद बने गोपाल जी ठाकुर

02 Jun 2019 | 3:07 PM

दरभंगा 02 जून (वार्ता) छात्र नेता के रूप में अपनी सियासी पारी का आगाज करने वाले गोपालजी ठाकुर पहले विधायक और अब सांसद बनने में कामयाब हुये।

see more..
मॉडल से सासंद बनी नुसरत जहां

मॉडल से सासंद बनी नुसरत जहां

02 Jun 2019 | 2:28 PM

मुंबई 02 जून (वार्ता) मॉडलिंग की दुनिया से अपने करियर की शुरूआत करने वाली नुसरत जहां ने अभिनेत्री के तौर पर विशिष्ट पहचान बनायी और अब वह संसद पहुंचने में भी कामयाब हो गयी है।

see more..
मेहनत और जूनून से पहली बार सासंद बनी वीणा देवी

मेहनत और जूनून से पहली बार सासंद बनी वीणा देवी

02 Jun 2019 | 12:45 PM

मुजफ्फरपुर 02 जून (वार्ता) महिला सशक्तिकरण की मिसाल वीणा देवी ने अपने राजनीति सफर के दौरान कई चुनौतियों का सामना करते हुये पहले विधायक और अब पहली बार सत्ता के शीर्ष संसद तक पहुंचने में कामयाब हुयीं।

see more..
image