Tuesday, Jan 28 2020 | Time 22:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सभी पार्टियां करें सीएए का समर्थन : अमित आजाद
  • फोटो कैप्शन तीसरा सेट
  • स्टेशन नवनिर्माण से किसी भी धर्म की भावना नहीं होगी आहत: औजला
  • मोदी के नेतृत्व में बना ‘लक्ष्य से ज्यादा एवं समय से पहले’ काम पूरा करने माहौल:शेखावत
  • भाजपा नेता कश्यप कांग्रेस में शामिल
  • टॉप4 में अपनी स्थिति मजबूत करना चाहेगी ओडिशा
  • टॉप4 में अपनी स्थिति मजबूत करना चाहेगी ओडिशा
  • शुद्ध पानी, मूलभूत जरुरतों को पूरा करेंगे : राजनाथ
  • भाजपा चुनाव को साम्प्रदायिक बनाना चाहती है :कांग्रेस
  • ओ पी सिंह ने दिए कानून व्यवस्था के सम्बन्ध में अधिकारियों को दिशा-निर्देश
  • फोटो कैप्शन दूसरा सेट
  • सर्विस स्पोर्ट्स कंट्रोल बाेर्ड ने चंडीगढ को 5-2 से दी मात
  • सर्विस स्पोर्ट्स कंट्रोल बाेर्ड ने चंडीगढ को 5-2 से दी मात
  • केजरीवाल देशद्रोहियों के साथ : विजय रूपाणी
  • गंगा यात्रा का उद्देश्य उसे स्वच्छ बनाने के साथ-साथ आस्था एवं अर्थ से जोड़ने का है:महेंद्र सिंह
बिजनेस


हिमाचल सरकार ने किये अब तक 38 हजार करोड़ रूपये के निवेश समझौते

चंडीगढ़, 14 अगस्त(वार्ता) हिमाचल प्रदेश सरकार सात-आठ नवम्बर को धर्मशाला में प्रस्तावित “उदीयमान हिमाचल वैश्विक निवेशक सम्मेलन“ के माध्यम से राज्य में 85 हजार करोड़ रूपये के लक्ष्य के मुकाबले अभी तक लगभग 38 करोड़ रूपये के निवेश के समझौते कर चुकी है।
राज्य के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भारतीय उद्याेग परिसंघ(सीआईआई) के सहयोग से मंगलवार देर शाम यहां निवेशकों के साथ आयोजित बैठक(रोड शो) के बाद पत्रकारों से बातचीत में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि निवेशक सम्मेलन में निवेशकों को आकर्षित करने को लेकर राज्य सरकार का चंडीगढ़ में अंतिम रोड-शो था तथा यहां भी उन्हें निवेशकों से अच्छा समर्थन मिला है तथा लगभग पांच हजार करोड़ रूपये के समझौते हुये हैं। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने निवेशक सम्मेलन के माध्यम से 85 हजार करोड़ रूपये का राज्य में निवेश लाने का लक्ष्य रखा है तथा अभी तक देश-विदेश में आयोजित छह रोड शो में लगभग 38 हजार करोड़ रूपये के निवेश समझौते हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि इन समझौतों में से लगभग सात हजार करोड़ रूपये के निवेश की परियोजनाओं पर सतही स्तर पर काम भी शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि सरकार निवेशक सम्मेलन के माध्यम से निवेश का पूरा लक्ष्य हासिल कर लेगी।
रोड शोक के दौरान राज्य के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह, मुख्य सचिव बृज कुमार अग्रवाल, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव(एसीएस) श्रीकांत बाल्दी, एसीएस (उद्योग) मनोज कुमार के अलावा राज्य के विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
राज्य सरकार निवेशक सम्मेलन में निवेशकों को आमंत्रित करने के लिये इससे पहले जर्मनी, नीदरलैंड, दुबई, मुम्बई और दिल्ली में रोड-शो कर चुकी है। वह पर्यटन, साहसिक पर्यटन, दवा, कृषि, बागवानी, खाद्य प्रसंस्करण, बुनियादी संरचना और लॉजिस्टिक समेत सभी क्षेत्रों में निवेश की सम्भावनाएं तलाश रही है। निवेशक सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भी आने की सम्भावना है।
रमेश1518 वार्ता
image