Saturday, Feb 29 2020 | Time 11:44 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कोरोना वायरस से लड़ने के लिए चीन और अमेरिका परस्पर सहयोग करें: कुई
  • सुरक्षा परिषद के चार सदस्य देशों ने की सीरिया में सैन्य तनाव समाप्त करने की अपील
  • अपनी फिल्मों से दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया मनमोहन देसाई ने
  • अपनी फिल्मों से दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया मनमोहन देसाई ने
  • शादी करने का अभी इरादा नहीं: कंगना
  • शादी करने का अभी इरादा नहीं: कंगना
  • एक्शन फिल्म में काम करना चाहती हैं दिशा पटानी
  • एक्शन फिल्म में काम करना चाहती हैं दिशा पटानी
  • कैथी के रीमेक में काम करेंगे अजय देवगन
  • कैथी के रीमेक में काम करेंगे अजय देवगन
  • अपनी फिल्मों से दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया मनमोहन देसाई ने
  • मोदी ने मोरारजी देसाई को दी श्रद्धांजलि
  • शादी करने का अभी इरादा नहीं: कंगना
  • एक्शन फिल्म में काम करना चाहती हैं दिशा पटानी
  • कैथी के रीमेक में काम करेंगे अजय देवगन
बिजनेस


श्नाइडर इलेक्ट्रिक की तेल,गैस और पेट्रो रसायन के लिए माइक्रोसाफ्ट से साझेदारी

नयी दिल्ली, 11 सितंबर (वार्ता) श्नाइडर इलेक्ट्रिक तेल, गैस और पेट्रो रसायन उद्योग को अधिक सक्षम, लाभप्रद तथा टिकाऊ बनाने में मदद के लिए माइक्रोसाफ्ट के साथ साझेदारी और विशेषकर इस क्षेत्र के लिए इंकोस्ट्रक्चर पावर ऐंड प्रोसेस लांच करने की घोषणा की है।
कंपनी के इंडिया जोन के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक अनिल चौधरी ने बुधवार को बताया कि सरकार के इस क्षेत्र को आत्मनिर्भर बनाने के लिए किए जा रहे प्रयास में इकोस्ट्रकचर बहुत प्रभावी साबित होगा।
श्री चौधरी ने बताया कि ऊर्जा प्रबंधन और स्वचालन के क्षेत्रों में वाणिज्यिक इंटरनेट आफ थिंग्स (आईओटी) समाधानों को तैयार करने के लिए माइक्रोसाफ्ट के साथ समझाैता किया गया है जिससे विद्युत और प्रक्रिया प्रणालियों को एक साथ लाया जा सकेगा। उन्होंने बताया कि माइक्रोसाफ्ट के साथ साझेदारी कैपेक्स और ओपेक्स में 20-20 प्रतिशत की कमी लाकर तेल और गैस क्षेत्र में बाजार तरलता की चुनौतियों से निपटना है ।
उन्होंने कहा, “बाजार.स्थल परिवर्तन और तकनीकी प्रगतियां विद्युत तथा प्रक्रिया प्रणालियों को हासिल करने योग्य, वाजिब लागत वाले लक्ष्य को पाने सक्षम साबित हो रही है जो कि एक समय में मुश्किल काम हुआ करता था। देश का हाइड्रोकार्बन क्षेत्र महत्वपूर्ण परिवर्तन के मुहाने पर खड़ा है, क्योंकि मूल्य ऋंखला में शामिल कंपनियां तेल और गैस क्षेत्र में देश को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में प्रयास कर रही हैं। परिशोधन क्षमताओं का विस्तार और देश भर में आपूर्ति के लिए पाइपलाइन ढांचा तैयार कर रही हैं।”
श्री चौधरी ने कहा,“ माइक्रोसाफ्ट के साथ श्नाइडर की साझेदारी में हमारा लक्ष्य तेल और गैस कंपिनयों के लिए वास्तविक, ठोस समाधान तथा स्पष्ट व्यावसायिक परिणाम प्रदान, क्षमता में वृद्धि , परिचालन की लागत को कम करना और लाभदेयता में बढ़ोतरी करना है।”
माइक्रोसाफ्ट इंडिया के मुख्य परिचालन अधिकारी मीतुल पटेल ने दोनों कंपिनयों के बीच साझेदारी पर कहा,“ तेल और गैस क्षेत्र में परिचालन काफी इधर-उधर फैला हुआ है जिसकी वजह से परिसंपत्तियों का कुशलतापूर्वक प्रबंधन अत्यंत चुनौतीपूर्ण कार्य है। कंपनी का एज्योर प्लेटफार्म, श्नाइडर इलेक्ट्रिक को उन्नत क्लाउड और उत्कृष्ट कंप्यूटिंग तकनीक उपलब्ध करायेगा जिससे ऐसे आईओटी उपकरणों का इंटेलिजेंट नेटवर्क स्थापित किया जा सकेगा जिससे अंतदृष्ट्रियां बढ़ेंगी नये समाधानों को ढूंढने और निवेश से होने वाली आय बढ़ाने में मददगार साबित होगा।”
श्नाइडर इलेक्ट्रानिक आवास, भवन, डेंटा केन्द्र, बुनियादी ढांचा और उद्योगों के लिए ऊर्जा प्रबंधन और स्वचालन के डिजिटल परिवर्तन की अग्रणी कंपनी है। कंपनी ऊर्जा, स्वचालन और साफ्टवेयर के संयोजन से एकीकृत दक्षता समाधान उपलब्ध कराती है।
मिश्रा.श्रवण
वार्ता
More News
तीसरी तिमाही में विकास दर घटकर 4.7 प्रतिशत पर, चालू वित्त वर्ष में पाँच फीसदी रहने का अनुमान

तीसरी तिमाही में विकास दर घटकर 4.7 प्रतिशत पर, चालू वित्त वर्ष में पाँच फीसदी रहने का अनुमान

28 Feb 2020 | 7:47 PM

नयी दिल्ली 28 फरवरी (वार्ता) कृषि क्षेत्र में सुधार के बीच विनिर्माण क्षेत्र के निराशाजनक प्रदर्शन से चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) वृद्धि दर घटकर करीब सात साल के निचले स्तर 4.7 प्रतिशत पर आ गयी जबकि दूसरी तिमाही में यह 5.1 प्रतिशत (संशोधित अनुमान) रही थी।

see more..
रुपया 61 पैसे लुढ़का, छह महीने के निचले स्तर पर

रुपया 61 पैसे लुढ़का, छह महीने के निचले स्तर पर

28 Feb 2020 | 6:36 PM

मुंबई 28 फरवरी (वार्ता) शेयर बाजार में रही भारी गिरावट और विदेशी निवेशकों की बिकवाली के दबाव में अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपया शुक्रवार को 61 पैसे की बड़ी गिरावट के साथ 72.22 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ जो करीब छह महीने का निचला स्तर है। रुपया गुरुवार को चार पैसे मजबूत होकर 71.61 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था।

see more..
image