Wednesday, Dec 12 2018 | Time 17:30 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तीन राज्यों के चुनाव परिणामों का लोकसभा चुनाव पर असर नहीं: बराला
  • 14 घंटे की ड्यूटी,साप्ताहिक अवकाश भी नहीं मयस्सर सुरक्षा बलों को
  • झारखंड के पूर्व मंत्री बंधु तिर्की गिरफ्तार
  • हीरो मोटोस्पोर्ट्स टीम डकार रैली के लिये तैयार
  • शिवराज ने कमलनाथ को शुभकामनाएं प्रेषित कीं
  • छत्तीसगढ़ में नेता प्रतिपक्ष हो सकते हैं बृजमोहन
  • बम की धमकी पर खाली कराया गया फेसबुक का कार्यालय
  • सांसद को गाली देने के मामले में पांच लोग गिरफ्तार
  • रिजर्व बैंक की स्वायत्तता और गरिमा बनाये रखेंगे: दास
  • डीप सबमर्जेंस बचाव वाहन भारतीय नौसेना में शामिल
  • सस्ते विमान ईंधन से बढ़ेगा एयरलाइंस का मुनाफा : आयटा
  • उ कश्मीर का लापता छात्र मुंबई में मिला, परिवार के साथ सुरक्षित
  • मिस्र में 27 आतंकवादी ढेर
  • राज्यसभा ने दी मैरीकाम, सोनिया चहल, सिमरन को बधाई
चुनाव Share

अशोकनगर में महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केन्द्रों पर मिली सुविधाएँ

अशोकनगर, 06 दिसम्बर (वार्ता) मध्यप्रदेश के अशोकनगर जिले में महिला सशक्तिकरण की दिशा में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नवाचार करते हुए पूरी तरह महिलाओं द्वारा मतदान केन्द्रों का संचालन बेहतर तरीके से किया गया।
अशोकनगर की कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. मंजू शर्मा ने स्वयं भी 28 नवंबर-मतदान दिवस को प्रात: 8 बजे महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केन्द्र क्रमांक 125 सेंट थामस हायर सेकेण्ड्री स्कूल अशोकनगर पहुँचकर मतदान किया।
अशोकनगर की तीनों विधानसभा क्षेत्र 32 अशोकनगर, 33 चंदेरी तथा 34 मुंगावली के लिए संपूर्ण महिलाओं द्वारा संचालित 30 मतदान केन्द्र बनाए गए। इसमें नगर परिषद शाढौरा में 8, ईसागढ़ में 9, चंदेरी में 3, अशोकनगर में 5 तथा मुंगावली में 5 मतदान केन्द्र बनाए गए। यह कदम महिला सशक्तिकरण की दिशा मे काफी महत्वपूर्ण रहा।
महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केन्द्रों में मतदान दल में सिर्फ महिलाएँ शामिल थीं और सुरक्षा के लिए भी महिला पुलिस कर्मी की ही तैनाती की गयी थी। क्यूलेस व्यवस्था के तहत बैठने की पर्याप्त व्यवस्था, छाया, पानी एवं रेम्प के साथ नि:शक्तजनों के लिए व्हीलचेयर एवं ट्राईसाईकिल की व्यवस्था भी की गई थी। महिलाओं को बिना लाइन में लगे मतदान करने की सुविधा भी प्रदान की गई थी।
नई मतदाता श्रुति सिंघई ने पहली बार मतदान करने शाढौरा मतदान केन्द्र पर पहुँचकर मतदान किया। श्रुति ने कहा कि संपूर्ण रूप से महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केन्द्र बनाए जाने से महिलाओं का मान-सम्मान बढ़ा है। इससे महिला मतदाता निर्भीक होकर मतदान करने आगे आ रही हैं।
नाग
वार्ता
image