Tuesday, Feb 19 2019 | Time 13:56 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भाजपा, अन्नाद्रमुक गठबंधन की कोशिशों में व्यस्त
  • मिर्जापुर में दो दुर्घटनाओं में चार लोगों की मृत्यु, एक की हत्या
  • आदिवासी परंपराओं, रीति-रिवाजों का सम्मान संवैधानिक दायित्व : वेंकैया
  • मनरेगा की बकाया मजदूरी की राशि केन्द्र से जारी करवाने का प्रयास जारी - सिंहदेव
  • वाहन की टक्कर से तेंदुए की मौत
  • अन्नाद्रमुक-पीएमके के बीच सीटों के बंटवारे के लिए समझौता
  • पाकिस्तान के सीमेंट निर्यात को झटका, भारतीय आयातकों ने कंटेनर वापस मंगाने को कहा
  • जोकोविच की बादशाहत बरकरार, नडाल दूसरे नंबर पर
  • जोकोविच की बादशाहत बरकरार, नडाल दूसरे नंबर पर
  • शहीद के अंतिम संस्कार से पूर्व शहीद के घर आई लक्ष्मी
  • वायु सेना के दो हॉक विमान दुर्घटनाग्रस्त
  • तेलंगाना में मंत्रिमंडल विस्तार, 10 नये मंत्री शामिल
  • जैश के आतंकियों का मारा जाना बड़ी कामयाबी: राजनाथ
  • शहीद श्योराम का राजकीय सम्मान से अंतिम संस्कार
  • सेरेना टॉप 10 में शामिल, ओसाका शीर्ष पर कायम
भारत Share

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि यह दुखद है कि कांग्रेस पार्टी सरकार पर निराधार आरोप लगा रही है और देश की रक्षा करने वाले जवानों के लिए घड़ियाली आंसू बहाने का काम कर रही है। इससे भी ज्यादा दुख की बात यह है कि कांग्रेस ने स्वयं स्वीकार किया है कि उसके आरोप अपुष्ट मीडिया रिपोर्टों पर आधारित है और ऐसा करके कांग्रेस ने मूर्खतापूर्वक खुद ही स्वीकार कर लिया है कि उसके आरोप राजनीति से प्रेरित हैं और वह सरकार की छवि खराब करने का असफल प्रयास कर रही है।
देश में सैन्यकर्मियों की संख्या घटाने का कोई प्रस्ताव सरकार के पास विचाराधीन नहीं है। कांग्रेस का यह आरोप बेबुनियाद है। अपनी पूर्ववर्ती सरकार की तरह देश की वर्तमान सरकार भी देश की सुरक्षा सुनिश्चित करने की अपनी प्रतिबद्धता को पूरा करने के लिए निर्णायक कदम उठा रही है। सेना का आधुनिकीकरण और नयी चुनौतियों के अनुसार सेना को तैयार करना सरकार की प्राथमिकता है।
कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने बुधवार को यहां पार्टी की नियमित प्रेस ब्रीफिंग में कहा था कि सरकार को मीडिया की खबरों की असलियत सबके सामने रखनी चाहिए और स्पष्ट करना चाहिए कि क्या रक्षा मंत्रालय में सेना की डेढ लाख नौकरियों को कम करने का प्रस्ताव किया है। उन्होंने कहा कि यह देश की सुरक्षा के लिए चिंता का विषय है।
प्रवक्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगर अपनी सरकार के प्रचार प्रसार पर साढे चार साल में 500 करोड़ रुपये, भाजपा मुख्यालय चमकाने पर 1100 करोड़ रुपये तथा अपनी विदेश यात्राओं पर दो हजार करोड़ रुपये खर्च कर सकती है तो फिर यह सरकार सेना को पर्याप्त बजट क्यों नहीं दे सकती है।
दिनेश
वार्ता
More News
अब एक ही इमरजेंसी नंबर ‘112’

अब एक ही इमरजेंसी नंबर ‘112’

19 Feb 2019 | 1:36 PM

नयी दिल्ली, 19 फरवरी (वार्ता) देश में हर इमरजेंसी के लिए आज से एक ही नंबर ‘112’ शुरू हो गया। मौजूदा पुलिस सहायता नंबर ‘100’ को इससे जोड़ दिया गया है जबकि पहले से इस्तेमाल किये जा रहे अन्य नंबरों को जोड़ने की प्रक्रिया चल रही है।

 Sharesee more..
वायु सेना के दो हॉक विमान दुर्घटनाग्रस्त

वायु सेना के दो हॉक विमान दुर्घटनाग्रस्त

19 Feb 2019 | 1:24 PM

नयी दिल्ली, 19 फ़रवरी (वार्ता) वायु सेना के दो हॉक विमान मंगलवार को बेंगलुरु के येलाहांका वायु सेना स्टेशन के निकट दुर्घटनाग्रस्त हो गये।

 Sharesee more..
जैश के आतंकियों का मारा जाना बड़ी कामयाबी: राजनाथ

जैश के आतंकियों का मारा जाना बड़ी कामयाबी: राजनाथ

19 Feb 2019 | 1:13 PM

नयी दिल्ली, 19 फरवरी (वार्ता) गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पुलवामा हमले के मास्टर माइंड समेत जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादियों को सुरक्षा बलों द्वारा ढेर किये जाने को बड़ी कामयाबी बताया है।

 Sharesee more..
भाजपा के प्रचार के लिए आरबीआई दे रही अंतरिम लाभांश: कांग्रेस

भाजपा के प्रचार के लिए आरबीआई दे रही अंतरिम लाभांश: कांग्रेस

19 Feb 2019 | 12:59 PM

नयी दिल्ली, 19 फरवरी (वार्ता) भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के सरकार को 28000 करोड़ रुपये का अंतरिम लाभांश दिये जाने संबंधी निर्णय को लेकर कांग्रेस ने केंद्र की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला करते हुए आरोप लगाया कि यह लाभांश आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा के प्रचार के लिए दिया गया है।

 Sharesee more..
image