Sunday, Mar 24 2019 | Time 19:02 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सत्यन को कांस्य, अर्चना को अंडर-21 का रजत
  • प्रमुख मुद्दे छिपा रहे जेटली : कांग्रेस
  • तमिलनाडु, कच्छ में दिन का तापमान सामान्य से अधिक
  • रमन सिंह के बेटे का टिकट काटा भाजपा ने
  • कांग्रेस की कार्यसमिति की बैठक कल नयी दिल्ली में
  • मोदी इस बार भी सरकार बनायेंगे:सीतारमण
  • आईपीएल में प्रदर्शन चयन का आधार नहीं: अश्विन
  • झारखंड में कांग्रेस सात और झामुमो चार सीटों पर लड़ेगी चुनाव
  • महाराष्ट्र में बस दुर्घटना में चार की मौत, 45 घायल
  • इटावा में भैंस निकालने के चक्कर में किशोर समेत दो यमुना में डूबे
  • कांग्रेस ने तारिक अनवर को कटिहार और कार्ती चिदंबरम को शिवगंगा से दिया टिकट
  • बांका के चुनावी अखाड़े में निर्दलीय उतरेंगी पुतुल कुमारी
  • कांग्रेस सदस्यता लेने का सपना ने किया खंडन, पार्टी ने दिखाये सबूत
  • अलगाववादियों को खुश करने के लिए कांग्रेस,एनसी, पीडीपी का गठजोड़ : जितेन्द्र
  • वार्नर की विस्फोटक वापसी, हैदराबाद के 181
भारत


सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं : मोदी

सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं : मोदी

नयी दिल्ली 12 जनवरी (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस नीत पूर्ववर्ती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की सरकारों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुये आज दावा किया कि उनकी सरकार पूरी तरह बेदाग है और उस पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा है।

श्री मोदी ने यहाँ ऐतिहासिक रामलीला मैदान में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन को संबोधित करते हुये कहा “देश के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा है। हम इस बात पर गर्व कर सकते हैं। भाजपा सरकार के कार्यकाल ने ये साबित किया है कि देश सामान्य नागरिक के हित में बदल सकता है, सरकार बिना भ्रष्टाचार के भी चलाई जा सकती है और सत्ता के गलियारों में टलहने वाले दलालों को भी बाहर किया जा सकता है।”

उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता के बाद अगर सरदार बल्लभ भाई पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री बनते तो देश की तस्वीर कुछ और ही होती। उसी प्रकार वर्ष 2000 के चुनाव के बाद अगर अटल जी प्रधानमंत्री बने रहते तो आज भारत कहीं और होता। हमसे पहले की सरकार का जो कार्यकाल था, उसने देश को बहुत अंधेरे में धकेल दिया था। उन्होंने कहा “अगर मैं कहूं कि भारत ने 2004 से 2014 के महत्वपूर्ण 10 साल, घोटालों और भ्रष्टाचार के आरोपों में गँवा दिये, तो गलत नहीं होगा। 21वीं सदी की शुरुआत में ये 10 वर्ष बहुत महत्वपूर्ण थे।

संप्रग सरकार पर घोटालों के आरोप लगाते हुये प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार पहली बार किसी हथियार सौदे के बिचौलिये (क्रिश्चन मिशेल) को पकड़कर देश में लाई है। इस बिचौलिये से पूछताछ में खुलासा हुआ है कि राफेल विमान सौदे में संप्रग सरकार इसलिए देरी कर रही थी कि यही बिचौलिया राफेल की बजाय किसी अन्य कंपनी से लड़ाकू विमान खरीदवाना चाहता था। उन्होंने आरोप लगाया कि यह सच अब सामने आ रहा है, इसीलिए कांग्रेस के नेता शोर मचा रहे हैं।

उन्होंने कहा “इसलिए वे गाली-गलौज साजिश पर उतर आये हैं। चाहे कोई कितना भी झूठ बोले, गाली दे, चौकीदार रुकने वाला नहीं है। चोर चाहे देश में हो या विदेश में, यह चौकीदार एक को भी छोड़ने वाला नहीं है।”

राफेल विमान सौदे में उसकी कीमत को लेकर लगाये जा रहे आरोपों पर बचाव करते हुये उन्होंने कहा कि खाली बोरी की कीमत हमेशा कम होती है और उसमें गेहूँ या चावल भर देने से उसकी कीमत अलग हो जाती है। यह बात कोई कम पढ़ा-लिखा आदमी भी आसानी से समझ सकता है, लेकिन जो समझना ही नहीं चाहता उसे नहीं समझाया जा सकता।

अजीत सचिन

जारी वार्ता

More News
राहुल का मोदी सरकार पर तंज ‘अल्पविद्या भयंकरी’

राहुल का मोदी सरकार पर तंज ‘अल्पविद्या भयंकरी’

24 Mar 2019 | 6:20 PM

नयी दिल्ली 24 मार्च (वार्ता) कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज करते हुए रविवार को कहा कि सरकार के मंत्री बुद्धिजीवियों को काम करना सिखा रहे हैं।

see more..
image