Wednesday, Jan 23 2019 | Time 23:36 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पाकिस्तानी सेना ने एक बार फिर संघर्षविराम का उल्लंघन किया
  • नाईजीरिया सैनिकों ने 58 डकैतों को मार गिराया
  • काला सागर मे जहाज दुघर्टना में छह भारतीयों की मौत
  • भारत की अर्थव्यवस्था को समावेशी अर्थव्यवस्था बनाना जरूरी - कमलनाथ
  • सीबीआई ने गुजरात में पेसो अधिकारी को रिश्वत लेते हुए पकड़ा
  • फोटो कैप्शन तीसरा सेट
  • सवा साल में यमुना होगी निर्मल : गडकरी
  • चाल धंसने से चार मजदूरों की मौत
  • संबद्ध महाविद्यालय के शिक्षकों को मिली उत्तर पुस्तिका मूल्यांकन की अनुमति
  • अलियेव को हराकर बजरंग ने पंजाब रॉयल्स को दिलाई जीत
  • अलियेव को हराकर बजरंग ने पंजाब रॉयल्स को दिलाई जीत
  • फोटाे कैप्शन दूसरा सेट
  • पवार की मौजूदगी में राकांपा का दामन थामेंगे वाघेला
  • पीयूष गोयल को वित्त और कॉरपोरेट मामलों का अतिरिक्त प्रभार
  • महिला जूनियर हॉकी टीम शिविर के लिए 33 संभावित घोषित
लोकरुचि Share

चित्रकूट के गधा मेले में हुआ पांच करोड़ से अधिक का कारोबार, एक लाख रुपये तक बिके गधे

चित्रकूट के गधा मेले में हुआ पांच करोड़ से अधिक का कारोबार, एक लाख रुपये तक बिके गधे

चित्रकूट 08 अक्टूबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के चित्रकूट में दीपावली के अवसर पर पूजा पाठ के साथ ही यहां लगने वाला मेला लोगों के लिए कौतूहल का विषय होता है। गधा मेले में जहां पांच करोड़ रूपयों से अधिक का कारोबार हुआ वहीं गधे एक एक लाख रूपये तक के बिके।

चित्रकूट में मन्दाकिनी नदी के किनारे लगने वाले गधा मेले में इस बार विभिन्न प्रदेशाें से कई हजार गधे आये हैं। विभिन्न कद काठी के इन गधों की कीमत सात हजार से लेकर एक लाख रूपए तक रही। गधा व्यापारियों ने जांच परख कर इन जानवरों की खरीददारी की। इस मेले में तीन दिनों के दौरान ही करीब 12 हजार गधे बिक गए जिससे लगभग पांच करोड़ रुपयों का कारोबार हुआ।

मंदाकिनी नदी के किनारे लगने वाले मेले में गधों के नाम फिल्मी दुनिया के कलाकारों और नेताओं के नाम पर भी रखे गए थे जिसमें एक फिल्म अभिनेत्री के नाम का गधा सबसे अधिक एक लाख रुपये का बिका। गधा व्यापारियों ने जांच परख कर इन जानवरों की खरीददारी की।

गधा व्यापारी रामफेर ने बताया कि करोड़ों रुपयों के लेनदेन के बावजूद इस मेले में सुरक्षा के कोई इंतजाम न होने से व्यापारी काफी चिंतित और परेशान दिखे | दूर दूर से आने वाले गधे व्यापारियों के लिए प्रशासन की ओर से कोई सुविधा भी उपलब्ध नहीं कराई गई।

चित्रकूट में लगने वाला यह मेला जहां गधे का व्यापार करने वालों के लिए मुनाफा कमाने का अवसर लेकर आता है वहीं विभिन्न क्षेत्रों से आये गधों को भी एक दूसरे से मिलने मिलाने का मौका देता है | यंहा गधे भी आपस में अपनी बिरादरी का दुःख दर्द अपनी भाषा में बांटते नजर आते हैं |

सं भंडारी

वार्ता

More News

अनिल और माधुरी ने किये खतरनाक स्टंट

20 Jan 2019 | 12:02 PM

 Sharesee more..
वर्ष का पहला खग्रास चंद्रग्रहण 21 जनवरी

वर्ष का पहला खग्रास चंद्रग्रहण 21 जनवरी

19 Jan 2019 | 8:54 PM

मुक्तसर , 19 जनवरी (वार्ता )इस वर्ष का पहला खग्रास चंन्द्रग्रहण पौष पूर्णिमा को 21 जनवरी सोमवार को प्रात: 9: 04 बजे से दोपहर 12:21 बजे तक दिखाई देगा।

 Sharesee more..
फिल्म ‘कलंक’ में दिखेगी चंदेरी की झलक

फिल्म ‘कलंक’ में दिखेगी चंदेरी की झलक

17 Jan 2019 | 10:22 AM

अशोकनगर, 17 जनवरी (वार्ता) प्रसिद्ध बॉलीवुड अदाकारा सोनाक्षी सिन्हा और आलिया भट्ट अभिनीत फिल्म ‘कलंक’ में दर्शकों को मध्यप्रदेश के अशोकनगर जिले की ऐतिहासिक नगरी चंदेरी की झलक देखने को मिलेगी। बीते कुछ दिनों से चंदेरी में बॉलीवुड फिल्म कलंक की शूटिंग जारी है।

 Sharesee more..
असम, दार्जिलिंग की तरह चाय उत्पादन से बनेगी जशपुर की अलग पहचान

असम, दार्जिलिंग की तरह चाय उत्पादन से बनेगी जशपुर की अलग पहचान

16 Jan 2019 | 7:09 PM

पत्थलगांव, 16 जनवरी (वार्ता) छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले की अनुकूल जलवायु के चलते यहां चाय उत्पादन का रकबा में लगातार वृद्धि हो रही है। असम और दार्जिलिंग की तरह जशपुर की चाय की भी अच्छी क्वालिटी होने से छत्तीसगढ़ सहित पड़ोस के झारखंड और उड़ीसा राज्य के लोगों को इस चाय का स्वाद खूब रास आ रहा है।

 Sharesee more..
image