Sunday, May 31 2020 | Time 23:12 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बिहार में अलग-अलग हादसों में 15 लोगों की मौत
  • बिहार में 36 अपराधी गिरफ्तार, हथियार बरामद
  • महाराष्ट्र में अगले 24 घंटों में आंधी तूफान की आशंका
  • कोरोना मरीजों के स्वस्थ होने की दर 47 62 फीसदी
  • झारखंड में फिर कोरोना के 16 संक्रमित मिले, कुल संख्या 600 के पार
  • विश्व में कोरोना संक्रमितों की संख्या 60 लाख से अधिक, 3 69 लाख लोगों की मौत
  • विश्व में कोरोना संक्रमितों की संख्या 60 लाख से अधिक, 3 69 लाख लोगों की मौत
  • पाकिस्तान उच्चायोग के दो अधिकारियों को देश निकाला
  • गांधीनगर में तालाब में गिरी कार, युवक की मौत
  • महिला के गर्भ में शिशु के मौत मामले के दोषियों पर हो अविलंब कार्रवाई : लुईस
  • सुलतानपुर में मां-बेटे सहित आठ और कोरोना पॉजीटिव,संख्या पहुंची 87
  • जर्मनी, फ्रांस से ज्यादा हुये भारत में कोरोना के मामले
  • स्पेन में अंतिम बार बढ़ाया जायेगा लॉकडाउन
  • मणिपुर में बॉक्सिंग स्टार नगनगोम कोरोना संक्रमित
लोकरुचि


इटावा सफारी के लिए शेरों को एयरलिफ्ट कराने की तैयारी

इटावा सफारी के लिए शेरों को एयरलिफ्ट कराने की तैयारी

इटावा , 04 मई (वार्ता) इटावा सफारी पार्क में गुजरात से शेरों को हवाई मार्ग से लाने की तैयारी चल रही है। जूनागढ़ से आठ शेरों को एयर लिफ्ट कराने के लिये वन विभाग ने सेना से अनुमति मांगी है।


      सफारी पार्क के निदेशक वी.के.सिंह ने शनिवार को बताया कि जूनागढ़ से शेरों को एयरलिफ्ट कराए जाने के लिए सेना से अनुमति मांगी गई है। अनुमति मिलने पर मालवाहक विमानों से उन्हें लाया जाएगा। इसके लिए वजन आदि भी करा लिया गया है ।

      उन्होने बताया कि गर्मी के कारण फिलहाल शेरों को सड़क मार्ग से लाने से बचा जा रहा है ताकि शेरों को कोई कठिनाई न हो। उत्तर प्रदेश और गुजरात की सरकारों में जूनागढ़ से पांच मादा और तीन नर शेर लेने की सहमति बन गई है। इस पर चुनाव आयोग की अनुमति भी मिल गई है लेकिन भीषण गर्मी को देखते हुए अब इन शेरों को हवाई मार्ग से लाने की तैयारी चल रही है ।

      श्री सिंह ने बताया कि इस संबंध में प्रदेश की प्रमुख सचिव वन कल्पना अवस्थी ने वन सेना को पत्र लिखा है और अनुमति मांगी है । शेरों को माल वाहक विमानों से गुजरात से सैफई तक लाया जाएगा । सैफई हवाई पट्टी पर विमान से शेरों को उतारकर फिर सड़क मार्ग से इटावा सफारी लाया जाएगा । इनमें से कुछ शेर गोरखपुर में निर्माणाधीन चिड़ियाघर में भेजे जाएंगे और कुछ इटावा में ही रह जाएंगे ।

 श्री सिंह ने बताया कि फिलहाल सेना की अनुमति का इंतजार किया जा रहा है । यह अनुमति मिल गई तो शेरों को एयरलिफ्ट कराने का रास्ता साफ हो जाएगा। शेरों को लाए जाने की प्रक्रिया काफी समय से चल रही है । पहले इन्हें नवरात्र में लाए जाने की तैयारी थी, लेकिन उस समय तक चुनाव आयोग की परमीशन नहीं मिल सकी थी। बाद में चुनाव आयोग की हरी झंडी मिल गई, लेकिन तब गर्मी की अधिकता के कारण सड़क मार्ग से शेरों को लाने का कार्य स्थगित कर दिया गया ।

       उन्होने बताया कि शेरों को एयरलिफ्ट कराने का यह कोई पहला मामला नहीं होगा इससे पहले भी वन्यजीवों को हवाई मार्ग से लाया जा चुका है । वर्ष 1984 में दुधवा पार्क में गुवाहटी से गेंडा हवाई मार्ग से लाए गए थे। पारीक्षा में भी कुछ वन्यजीवों को हवाई मार्ग से लाया गया था। अब सफारी के लिए शेरों के एयरलिफ्ट होने का इंतजार है।

      निदेशक ने बताया कि जूनागढ़ से इटावा शेरों को राजस्थान के रास्ते लाए जाने का कार्यक्रम था । उदयपुर,अजमेर के रास्ते इन शेरों को इटावा लाया जाना था लेकिन गुजरात, राजस्थान तथा उत्तर प्रदेश में भीषण गर्मी के चलते शेरों की सेहत को देखते हुए इन्हें सड़क मार्ग से लाने का कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया । हालांकि इसके लिए पिंजड़े तथा वाहन भी तैयार कर लिए गए थे ।

More News
लॉकडाउन में फोटोग्राफर के कैमरा का शटर हुआ ‘लॉक’

लॉकडाउन में फोटोग्राफर के कैमरा का शटर हुआ ‘लॉक’

31 May 2020 | 8:01 PM

पटना 31 मई (वार्ता) शादी-व्याह समेत जीवन से जुड़े खूबसूरत और यादगार लम्हों को कैमरे में कैद कर उनमें खुशियों का रंग भरकर उन्हें अविस्मरणीय बनाने वाले फोटोग्राफर लॉकडाउन में खुद लॉक हो गये और उनकी जिंदगी भी बेरंग हो गयी है।

see more..
दीघा से दूर हो रहा विश्वप्रसिद्ध दूधिया मालदह आम

दीघा से दूर हो रहा विश्वप्रसिद्ध दूधिया मालदह आम

29 May 2020 | 9:41 PM

पटना 29 मई (वार्ता) शहरों के विस्तार के कारण अपनी मिठास और खुशूबू से सबका दिल जीतने वाले बिहार की राजधानी पटना के दीघा में विश्वप्रसिद्ध ‘दूधिया मालदह’ आम के बागीचे धीरे-धीरे समाप्त होते जा रहे हैं।

see more..
लॉकडाउन में गुम हुयी खुशियों पर बजने वाली किन्नरों की ताली

लॉकडाउन में गुम हुयी खुशियों पर बजने वाली किन्नरों की ताली

29 May 2020 | 9:41 PM

पटना 26 मई (वार्ता) मांगलिक कार्यों के दौरान लोगों के घरों में जा कर नाचने-गाने और आशीर्वाद देकर आजीविका कमाने वाले किन्नरों की तालियां लॉकडाउन में गुम हो गयी है।

see more..
लाकडाउन ने नट समुदाय को समझाया जड़ का महत्व

लाकडाउन ने नट समुदाय को समझाया जड़ का महत्व

29 May 2020 | 9:39 PM

मुरादाबाद 26 मई (वार्ता) वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण जारी लाकडाउन ने लोगों के जीने के अंदाज को बदल दिया है और इसमें नट समुदाय भी अछूता नहीं है।

see more..
कई कारोबारियों के बिजनेस पार्टनर है ‘ठाकुर’

कई कारोबारियों के बिजनेस पार्टनर है ‘ठाकुर’

29 May 2020 | 9:38 PM

मथुरा 25 मई (वार्ता) व्यापार को चमकाने के लिए ‘ठाकुर’ को ’बिजनेस पार्टनर’ बनाने की निराली परंपरा भक्तों द्वारा ब्रज के मंदिरों में लम्बे समय से अपनाई जा रही है।

see more..
image